Chhattisgarh Chunav: मतगणना से पहले दिल्ली दौरे पर भूपेश बघेल, जानें क्या है इसके मायने?
trendingNow11981826

Chhattisgarh Chunav: मतगणना से पहले दिल्ली दौरे पर भूपेश बघेल, जानें क्या है इसके मायने?

Chhattisgarh Vidhan Sabha Chunav: छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के लिए मतगणना 3 दिसंबर को होगी, जिसके बाद फैसला होगा कि भूपेश बघेल सत्ता बचाने में कामयाब होते हैं या बीजेपी एक बार फिर वापसी करती है.

Chhattisgarh Chunav: मतगणना से पहले दिल्ली दौरे पर भूपेश बघेल, जानें क्या है इसके मायने?

Chhattisgarh Chunav Update: छत्तीसगढ़ में सभी 90 सीटों वोटिंग खत्म होने के बाद अब मतगणना की तैयारी चल रही है. 3 दिसंबर को वोटों की गिनती होने वाली है, जिसके बाद फैसला होगा कि भूपेश बघेल सत्ता बचाने में कामयाब होते हैं या बीजेपी एक बार फिर वापसी करती है. मतगणना से पहले कांग्रेस ने अपने कार्यकर्ताओं की ट्रेनिंग शुरू कर दी है. यह प्रशिक्षण 30 नवंबर तक सभी जिला मुख्यालय संगठन में विधानसभावार चलेगा. इस बीच छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल दिल्ली जाने वाले हैं. इसके बाद कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं.

भूपेश बघेल के दिल्ली दौरे के क्या हैं मायने?

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज (28 नवंबर) दिल्ली दौरे पर जाएंगे. सीएम बघेल दोपहर 12 बजे रायपुर एयरपोर्ट से दिल्ली के लिए रवाना और 1.45 को दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचेंगे. इसके बाद वो रात को दिल्ली में ही रुकेंगे और इस दौरान वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात कर सकते हैं. मतगणना से पहले भूपेश बघेल के दिल्ली दौरे को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं. बताया जा रहा है कि भूपेश बघेल दिल्ली में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात कर आगे की रणनीति पर चर्चा कर सकते हैं.

इसलिए तैयार किए जा रहे तैयार किए जा रहे मतगणना एजेंट्स

कांग्रेस ने विधानसभावार काउंटिंग एजेंट बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है. इस कार्यक्रम के पहले दिन कोंडागांव, जगदलपुर, बेमेतरा, दुर्ग शहर, सारंगढ़, रायगढ़ और मनेंद्रगढ़ के जिला मुख्यालयों में मतगणना एजेंट्स को ट्रेनिंग दी गई. काउंटिंग एजेंट मतगणना के समय किसी भी प्रकार की गड़बड़ी की शिकायत करेंगे. संबंधित विधानसभा क्षेत्र के विधायक, प्रत्याशियों और जिलाध्यक्षों को दिशानिर्देश दिए गए हैं. कांग्रेस पार्टी प्रत्येक विधानसभा में दो एआरओ समेत 16 काउंटिंग एजेंट तैनात करेगी.

छत्तीसगढ़ में इस बार 76.31 प्रतिशत मतदान

इस बार छत्तीसगढ़ चुनाव में बंपर वोटिंग हुई है, लेकिन फिर भी पिछले चुनाव से कम है. राज्य में औसत 76.31 फीसदी मतदान हुआ है, जबकि  2018 के विधानसभा चुनाव में 76.88 प्रतिशत वोटर्स ने मतदान किया था. बंपर वोटिंग के बाद राजनीतिक दलों की धड़कने तेज हो गई है. इसके बाद सभी दलों ने चुनावी समीक्षा शुरू कर दी है. बताया जा रहा है कि सीएम भूपेश बघेल भी विभिन्न संभागों के विधायकों और प्रत्याशियों से वन टू वन चर्चा करके फीडबैक ले रहे हैं. बीजेपी के नेता भी मतदान और चुनाव नतीजों को लेकर आकलन कर रहे हैं.

छत्तीसगढ़ की 90 सीटों पर 2 चरण में डाले गए वोट

बता दें कि छत्तीसगढ़ विधानसभा की सभी 90 सीटों पर वोटिंग प्रक्रिया पूरी हो चुकी है. यहां दो चरणों  में 7 नवंबर और 17 नवंबर को वोट डाले गए थे. 7 नवंबर को पहले चरण में 20 सीटों पर और 17 नवंबर को 70 सीटों पर मतदान हुआ था. चुनाव के नतीजे 3 दिसंबर के दिन काउटिंग के बाद जारी किए जाएंगे.

Trending news