Millets Benefits: ब्लीडिंग डिसऑर्डर से बवासीर तक: जानिए 4 बड़े कारण क्यों बाजरा को अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए?
trendingNow11558747

Millets Benefits: ब्लीडिंग डिसऑर्डर से बवासीर तक: जानिए 4 बड़े कारण क्यों बाजरा को अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए?

Millets Benefits: बाजरा ज्यादा पौष्टिक और ग्लूटेन फ्री होता है, यही वजह है कि हाल के दिनों में इसने लोकप्रियता हासिल की है. बाजरा  विटामिन बी और खनिजों का एक रिच सोर्स भी है.

Millets Benefits: ब्लीडिंग डिसऑर्डर से बवासीर तक: जानिए 4 बड़े कारण क्यों बाजरा को अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए?

Millets Benefits: बाजरा भारत में सबसे लोकप्रिय अनाजों में से एक है और यह आपके दिन की शुरुआत करने के लिए सबसे अच्छे फूड ऑप्शन में से एक है. बाजरा ज्यादा पौष्टिक और ग्लूटेन फ्री होता है, यही वजह है कि हाल के दिनों में इसने लोकप्रियता हासिल की है. बाजरा  विटामिन बी और खनिजों का एक रिच सोर्स है. वे अन्य पोषक तत्वों में भी प्रचुर मात्रा में होते हैं, जिनमें फॉस्फोलिपिड्स, फैटी एसिड और फेनोलिक्स शामिल हैं. बाजरा स्टार्च, प्रोटीन और फाइबर के साथ-साथ नियासिन, मैग्नीशियम, फास्फोरस, मैंगनीज, आयरन, पोटेशियम और महत्वपूर्ण अमीनो एसिड में भी हाई होता है. आइए जानें कि बाजरा कौन सी बीमारियों के खतरे को कम करने में मदद कर सकता है.

ब्लीडिंग डिसऑर्डर (रक्तपित्त)

ये दुर्लभ डिसऑर्डर हैं जो आपके शरीर के खून के थक्के को कंट्रोल करने के तरीके को बाधित करते हैं. इससे असामान्य ब्लीडिंग हो सकती है, जिससे बड़े पैमाने पर खून की हानि हो सकती है. आमतौर पर, लक्षण ब्लीडिंग विकार के प्रकार पर निर्भर करती हैं जो व्यक्ति को प्रभावित कर सकते हैं. ब्लीडिंग डिसऑर्डर के कुछ सामान्य लक्षण हैं जिनमें नाक से खून बहना, आसान चोट, नकसीर, जोड़ों में ब्लीडिंग और ज्यादा पीरियड्स ब्लीडिंग शामिल हैं.

वॉम संक्रमण
यह तब होता है जब कीड़े आपके अंगों को संक्रमित करते हैं, जिसमें आपकी आंत भी शामिल है. कुछ सामान्य वॉम जो संक्रमित करते हैं वे हैं राउंडवॉर्म, हुकवर्म, पिनवॉर्म आदि. आंतों के कीड़े के कुछ सामान्य लक्षणों में पेट में दर्द, गैस, सूजन, अचानक वजन घटाना, दस्त, मतली या उल्टी शामिल हैं.

पाइल्स (बवासीर)
पाइल्स नसों को प्रभावित करता है और आपके रेक्टम के सबसे निचले हिस्से व आपके प्राइवेट पार्ट को प्रभावित करता है. इन ब्लड वेसेल्स की दीवारें कभी-कभी इतनी पतली हो सकती हैं कि वे जलन पैदा करती हैं और नसों को उभार देती हैं, खासकर जब आप शौच करते हैं. हालांकि लक्षण बवासीर के प्रकार पर निर्भर करते हैं, पाइल्स के कुछ सामान्य लक्षणों में दर्द, ब्लीडिंग, खुजली और सूजन शामिल हैं.

अपच
अपच वाले व्यक्ति के पेट में दर्द, सूजन, एसिड रिफ्लक्स, गले में जलन या अत्यधिक डकार महसूस हो सकती है. बाजरे से इस समस्या को ठीक किया जा सकता है.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी घरेलू नुस्खों और सामान्य जानकारियों पर आधारित है. इसे अपनाने से पहले चिकित्सीय सलाह जरूर लें. ZEE NEWS इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

भारत की पहली पसंद ZeeHindi.com - अब किसी और की ज़रूरत नहीं.

Trending news