हमास ने 7 अक्टूबर को हमले के दौरान की यौन हिंसा; UN दूत का दावा
Advertisement

हमास ने 7 अक्टूबर को हमले के दौरान की यौन हिंसा; UN दूत का दावा

Israel Hamas War Update in Hindi: संयुक्त राष्ट्र की दूत प्रमिला पैटेन ने दावा किया है कि 7 अक्टूबर को इजरायल पर हमास के हमले के दौरान औरतों के साथ यौन हिंसा की गई.

हमास ने 7 अक्टूबर को हमले के दौरान की यौन हिंसा; UN दूत का दावा

Israel Hamas War Update in Hindi:  इजरायल लगातार गाजा पर हमले कर रहा है. इन हमलों में अब तक 30 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. इजरायल ने ये हमले इसलिए शुरू किए क्योंकि हमास ने 7 अक्टूबर को इजरायल पर हमले किए थे. इन हमलों में इजरायल के 1200 लोग मारे गए थे, जबकि 250 से ज्यादा लोग बंधक बनाए गए थे. इल्जाम है कि हमास के लड़ाकों ने इजरायल में औरतों के साथ यौन हिंसा की थी. संघर्ष में यौन हिंसा पर काम कर रहीं संयुक्त राष्ट्र की दूत प्रमिला पैटेन ने सोमवार को एक नयी रिपोर्ट में इन दावों का खुलासा किया. 

हमास ने की यौन हिंसा
प्रमिला पैटेन ने कहा कि यह मानने के लिए ‘‘उचित आधार’’ हैं कि हमास ने सात अक्टूबर को दक्षिणी इजराइल में किए हमले के दौरान महिलाओं से दुष्कर्म, उनका ‘‘यौन उत्पीड़न’’ तथा उनसे अन्य क्रूर और अमानवीय बर्ताव किया. नौ सदस्यीय तकनीकी दल के साथ 29 जनवरी से 14 फरवरी तक इजराइल और वेस्ट बैंक की यात्रा करने वाली पैटेन ने कहा कि यह ‘‘मानने के लिए भी उचित आधार है कि ऐसी हिंसा जारी हो सकती है.’’ 

यौन हिंसा की सूचना
हमास की कैद से रिहा किए गए बंधकों से प्राप्त सूचना के आधार पर उन्होंने बताया कि दल को ‘‘स्पष्ट और विश्वस्त सूचना’’ मिली है कि बंधक बनाए जाने के दौरान कुछ महिलाओं और बच्चों से दुष्कर्म और ‘‘यौन उत्पीड़न’’ समेत यौन हिंसा की गई. यह रिपोर्ट सात अक्टूबर को हुए हमले के करीब पांच महीने बाद आई है. 

हमास ने इल्जाम खारिज किए
हमास पहले इन आरोपों को खारिज कर चुका है कि उसके लड़ाकों ने यौन हिंसा की है. पैटेन ने एक संवाददाता सम्मेलन में इस रिपोर्ट को जारी करते हुए बताया कि उनका दल यौन हिंसा के पीड़ितों को ‘‘आगे आने के लिए प्रोत्साहित करने के समन्वित प्रयासों के बावजूद’’ उनमें से किसी से मुलाकात नहीं कर पाया. उन्होंने बताया कि पीड़ितों की संख्या अब भी पता नहीं चली है लेकिन उनमें से कुछ लोग गंभीर मानसिक तनाव और आघात का इलाज करा रहे हैं.

नग्न शव मिले
दल के सदस्यों ने इजराइली संस्थाओं के साथ 33 बैठकें कीं और सात अक्टूबर के हमलों में बचे लोगों और गवाहों, रिहा किए गए बंधकों, स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं तथा अन्य समेत 34 लोगों का साक्षात्कार लिया. दल की तरफ से जमा की गई सूचना के आधार पर पैटेन ने कहा, ‘‘यह मानने के लिए उचित आधार हैं कि सात अक्टूबर को हुए हमलों के दौरान गाजा में कई स्थानों (कम से कम तीन स्थान) पर दुष्कर्म और सामूहिक दुष्कर्म समेत संघर्ष से संबंधित यौन हिंसा हुई.’’ उन्होंने बताया कि दल को विभिन्न स्थानों पर ‘‘ज्यादातर महिलाओं के पूरी तरह या आंशिक रूप से निर्वस्त्र शव मिले और उनके हाथ बंधे हुए थे तथा उन्हें कई गोलियां मारी गई थी.’’

Trending news