FIFA World Cup 2022: जापान के खिलाफ मैच में दांव पर होगी जर्मनी की इज्जत, पिछले वर्ल्ड कप में टूटा था दिल
topStories1hindi1453922

FIFA World Cup 2022: जापान के खिलाफ मैच में दांव पर होगी जर्मनी की इज्जत, पिछले वर्ल्ड कप में टूटा था दिल

Germany vs Japan: पिछले वर्ल्ड कप में ग्रुप दौर से बाहर होने का दंश झेलने वाली जर्मनी की फुटबॉल टीम आज जापान के खिलाफ जब मैदान में उतरेगी तो उसकी कोशिश जीत के साथ चार साल पहले की कड़वी यादों को भूलना होगा. रूस में 2018 वर्ल्ड कप में 2014 की चैम्पियन टीम जर्मनी पहले दौर से ही बाहर हो गई थी. 

FIFA World Cup 2022: जापान के खिलाफ मैच में दांव पर होगी जर्मनी की इज्जत, पिछले वर्ल्ड कप में टूटा था दिल

Qatar Fifa World Cup: पिछले वर्ल्ड कप में ग्रुप दौर से बाहर होने का दंश झेलने वाली जर्मनी की फुटबॉल टीम आज जापान के खिलाफ जब मैदान में उतरेगी तो उसकी कोशिश जीत के साथ चार साल पहले की कड़वी यादों को भूलना होगा. रूस में 2018 वर्ल्ड कप में 2014 की चैम्पियन टीम जर्मनी पहले दौर से ही बाहर हो गई थी. चार बार की चैम्पियन जर्मनी की टीम इस टूर्नामेंट में पहली बार शुरुआती दौर से बाहर हुई थी.

जापान के खिलाफ मैच में दांव पर होगी जर्मनी की इज्जत

यह जर्मनी का 110वां वर्ल्ड कप मैच होगा और टीम इसमें दमदार प्रदर्शन कर उन संदेहों को मिटा सकती है जो पिछले वर्ल्ड कप से शुरू हुई है. जर्मनी की टीम अगर इस मैच में जीत दर्ज करती है, तो वह प्रशंसकों को भी मुकाबले देखने के लिए प्रेरित करेगी. टीम के प्रशंसक खराब प्रदर्शन के साथ कतर के मानवाधिकार रिकॉर्ड के कारण टूर्नामेंट का बहिष्कार कर रहे हैं.

जापान सातवीं बार वर्ल्ड कप में खेलेगा

जापान के बाद जर्मनी के सामने रविवार को स्पेन और फिर एक दिसंबर को ग्रुप ई में अपने अंतिम मैच में कोस्टा रिका की चुनौती होगी. जापान सातवीं बार वर्ल्ड कप में खेलेगा और टीम पहली बार क्वार्टर फाइनल में पहुंचने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी.

विंगर लेरॉय साने को घुटने में समस्या

जर्मनी की टीम बायर्न म्यूनिख के विंगर लेरॉय साने के बिना होगी, जो घुटने में समस्या के कारण मंगलवार के अभ्यास सत्र से दूर रहे थे. उनकी जगह टीम में उन्नीस वर्षीय मिडफील्डर जमाल मुसियाला को मिलने की संभावना है.

जर्मनी ने पिछले सात मैचों में से केवल एक में जीत दर्ज की

जर्मनी की टीम हालांकि अभ्यास मैच में ओमान के खिलाफ विश्वास आत्मविश्वास बढ़ाने वाला प्रदर्शन नहीं कर सकी थी. टीम ने निकलास फुलक्रग के गोल से 1-0 की जीत दर्ज की लेकिन इस मुकाबले में उसकी रक्षापंक्ति की कमजोरी उजागर हो गई. जर्मनी की टीम ने अपने पिछले सात मैचों में से केवल एक में जीत दर्ज की है.

(Source - PTI)

Trending news