Bishan Singh Bedi: भारत के पूर्व क्रिकेटर बिशन सिंह बेदी का निधन, 77 साल की उम्र में ली अंतिम सांस
trendingNow11927635

Bishan Singh Bedi: भारत के पूर्व क्रिकेटर बिशन सिंह बेदी का निधन, 77 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

Bishan Singh Bedi Passed Away: बिशन सिंह बेदी का जन्म 25 सितम्बर 1946 को पंजाब के अमृतसर में हुआ था. बिशन सिंह बेदी ने 77 साल की उम्र में अंतिम सांस ली. बिशन सिंह बेदी भारतीय क्रिकेट टीम के दिग्गज लेफ्ट आर्म स्पिनर हुआ करते थे. बिशन सिंह बेदी ने भारत के लिए 12 साल तक टेस्ट क्रिकेट खेली है. 

Bishan Singh Bedi: भारत के पूर्व क्रिकेटर बिशन सिंह बेदी का निधन, 77 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

Bishan Singh Bedi News: भारत के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर बिशन सिंह बेदी का निधन हो गया है. बिशन सिंह बेदी ने भारत के लिए 1966 से 1979 तक टेस्ट क्रिकेट खेला. बिशन सिंह बेदी ने 22 टेस्ट मैचों में टीम इंडिया की कप्तानी की है. बिशन सिंह बेदी ने भारत के लिए 67 टेस्ट मैचों में 266 विकेट हासिल किए हैं. बिशन सिंह बेदी ने भारत के लिए 10 वनडे मैच भी खेले हैं, जिसमें उन्होंने 7 विकेट चटकाए हैं. भारत के पूर्व कप्तान और बाएं हाथ के देश के महानतम स्पिनर बिशन सिंह बेदी का लंबी बीमारी के बाद सोमवार को निधन हो गया.

बिशन सिंह बेदी ने 77 साल की उम्र में अंतिम सांस ली

बिशन सिंह बेदी का जन्म 25 सितम्बर 1946 को पंजाब के अमृतसर में हुआ था. बिशन सिंह बेदी ने 77 साल की उम्र में अंतिम सांस ली. बिशन सिंह बेदी भारतीय क्रिकेट टीम के दिग्गज लेफ्ट आर्म स्पिनर हुआ करते थे. बिशन सिंह बेदी ने भारत के लिए 12 साल तक टेस्ट क्रिकेट खेली है. बिशन सिंह बेदी ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट करियर में 1560 विकेट हासिल किए थे. 

भारतीय क्रिकेट इतिहास के बेहतरीन स्पिनर्स में शुमार

बिशन सिंह बेदी भारतीय क्रिकेट इतिहास के बेहतरीन स्पिनर्स में शुमार रहे हैं. बिशन सिंह बेदी ने अपने दम पर भारतीय क्रिकेट टीम को कई मैच जिताए हैं. 1970 के दशक में बिशन सिंह बेदी, इरापल्ली प्रसन्ना, भागवत चंद्रशेखर और श्रीनिवास वेंकटराघवन की मशहूर स्पिन चौकड़ी हुआ करती थी. बिशन सिंह बेदी ने पारी में 14 बार पांच विकेट और मैच में एक बार 10 विकेट चटकाने का कारनामा किया है.

1976 में भारतीय क्रिकेट टीम का कप्तान बनाया गया

बिशन सिंह बेदी को 1976 में भारतीय क्रिकेट टीम का कप्तान बनाया गया. वह मंसूर अली खान पटौदी के बाद कप्तान बने थे. भारत ने बिशन सिंह बेदी की कप्तानी में पहली बार वेस्टइंडीज के विरूद्ध 1976 में पोर्ट-ऑफ-स्पेन में टेस्ट मैच जीता था. इसके बाद भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ भी 2-0 से टेस्ट सीरीज जीती, लेकिन एक समय ऐसा भी आया जब बिशन सिंह बेदी से कप्तानी छीनकर सुनील गावस्कर को दे दी गई. बिशन सिंह बेदी 1966 और 1978 के बीच एक दशक से अधिक समय तक भारत की बॉलिंग यूनिट का प्रमुख हिस्सा रहे. बिशन सिंह बेदी 1990 में न्यूजीलैंड और इंग्लैंड दौरे के दौरान कुछ समय के लिए भारतीय क्रिकेट टीम के मैनेजर थे. बिशन सिंह बेदी राष्ट्रीय चयनकर्ता होने के साथ मनिंदर सिंह और मुरली कार्तिक जैसे कई प्रतिभाशाली स्पिनरों के गुरु भी थे. बिशन सिंह बेदी के निधन पर गृहमंत्री अमित शाह ने भी शोक प्रकट किया है. 

Trending news