कुंथाड़ा और घाटा में लोकार्पण पट्टिका में नाम अंकित नहीं करने का मामला, ग्रामीणों में बना चर्चा का विषय
topStories1rajasthan1264574

कुंथाड़ा और घाटा में लोकार्पण पट्टिका में नाम अंकित नहीं करने का मामला, ग्रामीणों में बना चर्चा का विषय

कुंथाड़ा खुर्द और घाटा के बीच खो-घाटी से नीमला तलाई वाया नोरस की ढ़ाणी करीब 2 किमी सड़क का हाल ही दिनांक 17 जुलाई को नवीनीकरण सड़क का लोकार्पण क्षेत्रीय विधायक और प्रधान द्वारा किया गया था.

कुंथाड़ा और घाटा में लोकार्पण पट्टिका में नाम अंकित नहीं करने का मामला, ग्रामीणों में बना चर्चा का विषय

Bassi: राजधानी जयपुर के बस्सी विधानसभा क्षेत्र की ग्राम पंचायत कुंथाड़ा खुर्द और घाटा के बीच खो-घाटी से नीमला तलाई वाया नोरस की ढ़ाणी करीब 2 किमी सड़क का हाल ही दिनांक 17 जुलाई को नवीनीकरण सड़क का लोकार्पण क्षेत्रीय विधायक और प्रधान द्वारा किया गया था, जिसमें स्वागत समारोह के दौरान निमोला तलाई क्षेत्र में पौधारोपण और क्षेत्रीय जनसमस्याओं की जनसुनवाई का कार्यक्रम भी रखा. 

यह भी पढ़ें- बस्सी में सावन के पहले सोमवार की धूम, हर हर महादेव के नारों से गूंजे मंदिर

गौरतलब है कि सार्वजनिक निर्माण विभाग खंड बस्सी द्वारा नाबार्ड पोषित आरआईडीएफ-27 योजनान्तर्गत स्वीकृत खो-घाटी से नीमला तलाई वाया नोरस की ढ़ाणी तक करीब 2 किमी सड़क का लोकार्पण बस्सी विधायक लक्ष्मण मीणा के मुख्य अतिथि और बस्सी प्रधान इंद्रा देवी शर्मा के अध्यक्षता के रुप में कार्यक्रम आयोजित किया गया था. 

कार्यक्रम के दौरान स्थानीय सरपंचों के नहीं पहुंचने से ग्रामीणों में आपस में चर्चाएं होने लगी. कार्यक्रम धीरे-धीरे आगे बढ़ा तो सड़क के लोकार्पण पट्टिका पर दोनों ही सरपंचों के नाम अंकित नहीं होने पर ग्रामीणों में एक चर्चा का विषय बन गया, जिसको लेकर कुछ युवाओं ने विरोध भी किया. कार्यक्रम में स्थानीय जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित नहीं किए जाने पर क्षेत्र में भारी रोष है.

इनका कहना है कि कार्यक्रम में आमंत्रित नहीं करना और लोकार्पण पट्टी का पर नाम अंकित नहीं करवाना स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ ऐसा व्यवहार करना गलत है. कुंथाड़ा और घाटा के बीच 2 किलोमीटर का डामरीकरण सड़क मार्ग पीडब्ल्यडी विभाग द्वारा कार्य किया गया था, जिसमें न तो कार्यक्रम की जानकारी दी गई और ना ही लोकार्पण पट्टिका पर नाम अंकित किया.

कुंथाड़ा खुर्द के सरपंच ग्राम पंचायत शंकर लाल शर्मा का कहना है कि हमारे क्षेत्र की सड़क के लोकार्पण कार्यक्रम में क्षेत्र के सरपंचों को आमंत्रित नहीं किया गया, जिससे क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों के साथ ऐसा व्यवहार करना गलत है. साथ ही लोकार्पण पट्टिका पर स्थानीय जनप्रतिनिधियों के नाम भी अंकित नहीं करवाया गया, जिसके लिए बात की जाएगी.

घाटा सरपंच ग्राम पंचायत नीतू मीना का कहना है कि विकास कार्यों के लोकार्पण कार्यक्रम में स्थानीय ग्राम पंचायत के सरपंच को आमंत्रित नहीं करना, उस ग्राम पंचायत के समस्त निवासियों की बेइज्जती है. पीडब्ल्यूडी विभाग बस्सी के इस कृत्य की कड़ी निंदा करता हूं.

ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष दामोदर शर्मा ने बताया कि हमारा काम केवल सड़क बनाने का था विभाग ने सड़क बना दी, जिसके बाद अरेंजमेंट का कार्य विधायक के कार्यकर्ताओं का था अब उन्होंने नाम क्यों नहीं लिखवाया यह मेरी जानकारी में नहीं है. दिनेश मीणा, एईएन पीडब्ल्यूडी विभाग बस्सी क्यों है नाराज, होंगे तो नाराज, सरकार की नीति अनुसार नाम लिखा जाता है सरपंचों का तो केवल जिला परिषद और पंचायत समिति के कार्यों में ही नाम लिखा जाता है.

Reporter: Amit Yadav

Trending news