Madhya Pradesh: उज्जैन दुष्कर्म मामले में प्रियंका गांधी ने साधा शिवराज सरकार पर निशाना, कही यह बड़ी बात
trendingNow11891462

Madhya Pradesh: उज्जैन दुष्कर्म मामले में प्रियंका गांधी ने साधा शिवराज सरकार पर निशाना, कही यह बड़ी बात

Madhya Pradesh News: कांग्रेस महासचिव ने आरोप लगाया, ‘ये है मध्य प्रदेश की कानून व्यवस्था और महिला सुरक्षा? भाजपा के 20 साल के कुशासन तंत्र में बच्चियां, महिलाएं, आदिवासी, दलित कोई सुरक्षित नहीं है.’  

Madhya Pradesh: उज्जैन दुष्कर्म मामले में प्रियंका गांधी ने साधा शिवराज सरकार पर निशाना, कही यह बड़ी बात

Ujjain Rape Case: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मध्य प्रदेश के उज्जैन में एक लड़की के साथ बलात्कार की घटना को लेकर गुरुवार को राज्य की भारतीय जनता पार्टी सरकार पर निशाना साध. उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा के 20 साल के कुशासन में बच्चियां, महिलाएं, आदिवासी, दलित कोई सुरक्षित नहीं है. उज्जैन शहर में लगभग 12 वर्षीय एक लड़की सोमवार को सड़क पर खून से लथपथ हालत में पाई गई और चिकित्सा जांच में उसके साथ बलात्कार किए जाने की पुष्टि हुई है.

प्रियंका गांधी ने 'एक्स' पर पोस्ट किया,  ‘भगवान महाकाल की नगरी उज्जैन में एक छोटी बच्ची के साथ हुई बर्बरता आत्मा को झकझोर देने वाली है. अत्याचार के बाद वह ढाई घंटे तक दर-दर मदद के लिए भटकती रही और फिर बेहोश होकर सड़क पर गिर गई लेकिन मदद नहीं मिल सकी.’

कांग्रेस महासचिव ने आरोप लगाया, ‘ये है मध्य प्रदेश की कानून व्यवस्था और महिला सुरक्षा? भाजपा के 20 साल के कुशासन तंत्र में बच्चियां, महिलाएं, आदिवासी, दलित कोई सुरक्षित नहीं है.’  उन्होंने प्रश्न किया, ‘लाडली बहना के नाम पर चुनावी घोषणाएं करने का क्या फ़ायदा है अगर बच्चियों को सुरक्षा और मदद तक नहीं मिल सकती?’

 

राहुल गांधी ने भी साधा था मध्य प्रदेश सरकार पर निशाना
इससे पहले  कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी उज्जैन की घटना को लेकर बुधवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधा था और आरोप लगाया था कि राज्य में बेटियों के साथ दुष्कर्म के लिए सिर्फ अपराधी नहीं, बल्कि प्रदेश की भाजपा सरकार भी गुनहगार है.

लड़की का हुआ ऑपरेशन
मध्यप्रदेश के उज्जैन शहर में जघन्य बलात्कार की शिकार 12 वर्षीय लड़की का इंदौर के एक सरकारी अस्पताल में बुधवार को विशेषज्ञ डॉक्टरों की एक टीम ने  ऑपरेशन किया जिसके बाद उसकी हालत गंभीर, लेकिन स्थिर है. चिकित्सा शिक्षा विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि यह लड़की उज्जैन से गंभीर हालत में मंगलवार को इंदौर के एक सरकारी अस्पताल में भेजी गई थी, जहां ऑपरेशन के बाद उसकी हालत गंभीर, लेकिन स्थिर है. 

(इनपुट - एजेंसी)

 

Trending news