Work-Life Balance: इन 5 शानदार टिप्स से अपने वर्क और पर्सनल लाइफ में कैसे बनाए रखें बैलेंस
trendingNow11316868

Work-Life Balance: इन 5 शानदार टिप्स से अपने वर्क और पर्सनल लाइफ में कैसे बनाए रखें बैलेंस

Personal and Professional Life Balance: अच्छी वर्क लाइफ बैलेंस इसलिए जरूरी है क्योंकि काम और घर दोनों की आपकी जगह है और दोनों ही अपनी जगह पर बहुत जरूरी हैं. इसलिए दोनों के बीच तालमेल बैठना बहुत जरूरी है.

Work-Life Balance: इन 5 शानदार टिप्स से अपने वर्क और पर्सनल लाइफ में कैसे बनाए रखें बैलेंस

Life Balance: जब वर्क लाइफ और पर्सनल लाइफ की बात आती है तो इन दोनों को बैलेंस करना बड़ा मुश्किल लगता है लेकिन आप अगर इस दौर से गुजर रहे हैं तो हम आपकी यहां थोड़ी मदद कर सकते हैं आप कुछ आसान टिप्स को अपना कर अपनी पर्सनल लाइफ और वर्क लाइफ को बैलेंस कर सकते हैं.

अपनी प्रायोरिटीज तय करें

अपने काम और पर्सनल लाइफ में बैलेंस बनाने के लिए सबसे पहले आप अपनी प्रथमिकताएं तय करें. अपने काम और अपनी पर्सनल लाइफ में आपकी प्रायोरिटीज क्या हैं सबसे पहले यह समझें और उसी के मुताबिक काम करें. दिन की शुरुआत में अपनी प्राथमिकता के मुताबिक एक लिस्ट बनाए और फिर उसे फॉलो करें. यह आपके काम और पर्सनल लाइफ में संतुलन बनाए रखने में बहुत मददगार है.

टाइम मैनेजमेंट
आप चाहे घर में हों या ऑफिस में टाइम मैनेजमेंट बहुत जरूरी है. जिससे आप घर के काम घर में और ऑफिस के काम ऑफिस में निपटा सकें. जिसके लिए समय पर ऑफिस आना और समय पर घर जाना जरूरी है. ऑफिस में अपने काम को छोटे -छोटे टार्गेट्स में बाटें और काम को समय पर खत्म करने की कोशिश करें. घर में भी यह सुनिश्चित करें कि पर्सनल मुद्दों को घर में ही निपटा लें.

अपना टारगेट सेट करें
करियर में अपने लक्ष्य और अपनी ग्रोथ (Growth) के बारे में जरूर सोचें. यह आपको भविष्य में सकारात्मक रहने के लिए प्रेरित करता है जिससे आप अपने काम को और भी मन लगाकर करते हैं. इसके लिए जरूरी है कि अपने लिए शॉर्ट टर्म और लॉन्ग टर्म टारगेट सेट करें.

गैजेट का लिमिटेड इस्तेमाल
मोबाइल फोन और कंप्यूटर में ऑफ का बटन होने का भी एक कारण है इसलिए उसे भी इस्तेमाल करें. काम खत्म करके इनका इस्तेमाल बंद करें क्योंकि बेवजह मोबाइल और फोन पर लगे रहना आपकी सेहत के लिए बिलकुल अभी ठीक नहीं है. दिन के 7 से 8 घंटे कंप्यूटर पर बिताने से मेंटल और फिजिकल हेल्थ पर निगेटिव प्रभाव पड़ता है. इसलिए टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल लिमिटेड करें.

ब्रेक लें
काम के साथ-साथ ब्रेक भी बहुत जरूरी है. काम करते-करते हमारा दिमाग भी थक जाता है और रिफ्रेश होने के लिए एक ब्रेक की बहुत जरूरत होती है. बेहतर होगा कि आप काम के ब्रेक में कहीं घूमने जाएं या अपनी कोई अपना पसंदीदा काम करें.

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर

Trending news