MP News: दिग्विजय के गढ़ में शिवराज की हुंकार, बोले - 'कांग्रेस को उसके अहंकार ने हराया'
trendingNow,recommendedStories0/zeesalaam/zeesalaam2001429

MP News: दिग्विजय के गढ़ में शिवराज की हुंकार, बोले - 'कांग्रेस को उसके अहंकार ने हराया'

Madhya Pradesh Assembly Election 2023: राघौगढ़ में रोडशो करके वर्कर कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस और दिग्विजय सिंह पर जमकर हमला किया. चौहान ने कहा कि जिन्होंने 10 साल राज्य और राघौगढ़ में राज किया वो प्रदेश और राघौगढ़ के मुजरिम हैं.

MP News: दिग्विजय के गढ़ में शिवराज की हुंकार, बोले - 'कांग्रेस को उसके अहंकार ने हराया'

Madhya Pradesh Assembly Election 2023: मध्यप्रदेश में असेंबली इलेक्शन में भारतीय जनता पार्टी को एक तरफ जहां प्रचंड जीत मिली है, वहीं कई जगहों पर हार भी मिली है. सीएम शिवराज सिंह चौहान हार वाले जगहों का दौरा कर रहे हैं. इसी क्रम में वह शुक्रवार को पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह के गढ़ राघौगढ़ पहुंचे और कांग्रेस पर जमकर हमला बोला. उन्होंने इस दौरान कहा कि ईवीएम ने नहीं, बल्कि, कांग्रेस को उसके अहंकार ने हराया है.

राघौगढ़ में रोडशो करके वर्कर कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस और दिग्विजय सिंह पर जमकर हमला किया. चौहान ने कहा कि जिन्होंने 10 साल राज्य और राघौगढ़ में राज किया वो प्रदेश और राघौगढ़ के मुजरिम हैं. साल 2003 में मैंने राघौगढ़ से इलेक्शन लड़ा था. उस वक्त मुझे लगता था कि सीएम का इलाका है तो विकास भी बेहतर ही हुआ होगा, लेकिन जैसे ही मैंने राघौगढ़ में एंट्री किया तो पता ही नहीं चला कि, सड़कों में गड्ढे हैं या फिर गड्ढों में सड़कें. न बिजली थी, न पानी था, न ही सड़कें थी. कांग्रेस के जमाने में पूरा राज्य अंधेरे में डूबा हुआ था.

शिवराज ने दिग्विजय पर साधा निशाना
शिवराज ने दिग्विजय सिंह पर निशाना साधते हुए कहा, "राघौगढ़ को जो अपनी जागीर मानते थे और जिनके पास आस-पास की सीटों को जिताने का ठेका था, उनके जिले में BJP कैंडिडेट्स 60 हजार, 50 हजार वोटों से जीते हैं".

कांग्रेस अपने अहंकार से हारी है; शिवराज
शिवराज ने EVM पर दोष मढ़ने वालों को लेकर कहा,  "खिसियानी बिल्ली खंभा नोचें, कांग्रेसी अब ईवीएम पर दोष मढ़ रहे हैं कि ईवीएम ने हरा दिया, ईवीएम ने हरा दिया. कांग्रेस ईवीएम मशीन से नहीं बल्कि अपने अहंकार से हारी है. जिस दिन कांग्रेस कर्नाटक में जीती थी, उसी दिन भाजपा मध्य प्रदेश में जीत गई थी, क्योंकि कर्नाटक की जीत ने कांग्रेसियों के अंदर अहंकार भर दिया था".

शिवराज ने कहा कि मेरे बहनों-भाइयों मैं मिशन-29 के लिए आपके बीच आया हूं. आगामी लोकसभा इलेक्शन में बीजेपी को मध्यप्रदेश में 29 में से 29 सीटें जिताकर नरेंद्र मोदी के गले में 29 कमल की माला डालनी है. उसके लिए सिर्फ 29 सीटें नहीं पूरे राज्य की 230 विधानसभा सीटों से जीतें, इसके लिए हम कोई कसर नहीं छोड़ेंगे.

Trending news