Hamas ने क्यों दिया Elon Musk को गाजा आने का न्यौता?
trendingNow,recommendedStories0/zeesalaam/zeesalaam1983554

Hamas ने क्यों दिया Elon Musk को गाजा आने का न्यौता?

Hamas Invited Elon Musk: हमास और इजराइल के बीच फिलहाल सीजफायर है. इस बीच हमास के एक सीनियर अधिकारी ने एलन मस्क को गाजा आने का न्यौता दिया है. पूरी खबर पढ़ें.

Hamas ने क्यों दिया Elon Musk को गाजा आने का न्यौता?

Hamas Invited Elon Musk: हमास के एक सीनियर अधिकारी ने एलोन मस्क को गाजा के दौरे पर बुलाया है. एलन लंबे वक्त से गाजा का समर्थन करते आए हैं. इस न्यौते की वजह एलन को इजरायली बमबारी की वजह से हुई तबाही को दिखाना है. हाल ही में एलन ने फिलिस्तीन का समर्थन किया था और कहा था कि फिलिस्तीनी क्षेत्रों को "कट्टरपंथी बनाना" जरूरी है.

एलन मस्क को हमास का न्यौता

हमास के ओसामा हमदान ने मंगलवार को बेरूत में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, "हम उन्हें निष्पक्षता और विश्वसनीयता के मानकों के अनुपालन में गाजा के लोगों के खिलाफ किए गए नरसंहार और विनाश की सीमा को देखने के लिए गाजा का दौरा करने के लिए आमंत्रित करते हैं." ब

एलन ने की नेतन्याहू से मुलाकात

सोमवार को ट्विटर के मालिक एलन मस्क ने इजराइल का दौरा किया था और प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू से भी मुलाकात की थी और अपना समर्थन व्यक्त करते हुए कहा था "उस प्रोपेगेंडा को रोकना है जो इसमें लोगों को इंगेज कर रहा है, आप जानते ही हैं, मर्डर." इस बयान से साफ था कि वह हमास और उसके जरिए किए गए एक्शन की ओर इशारा कर रहे हैं. इस दौरान नेतन्याहू ने कहा कि हमास को नष्ट किया जाना चाहिए, जिसपर मस्क ने जवाब दिया दिया था "कोई ऑप्शन नहीं है".

गाजा का करना चाहता हूं पुनर्निर्माण

एलन मस्क ने आगे कहा,"मैं युद्ध के बाद गाजा के पुनर्निर्माण में मदद करना चाहूंगा, लेकिन सबसे पहले फिलिस्तीनी क्षेत्रों को कट्टरपंथी बनाना जरूरी है."  इज़राइल और हमास के बीच युद्ध को आठ हफ्तों से ज्यादा हो गया है. 7 अक्टूबर को हमास ने इज़राइल पर हमला किया था, जिसमें कम से कम 1,200 लोग मारे गए थे. गाजा में स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, युद्ध में अब तक 16 हजार से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं.

इजराइल और हमास के बीच फिलहाल सीज फायर है, इजाइल ने बीते रोज 30 फिलिस्तीनी बंधकों को रिहा किया है. इससे पहले गाजा भी कई बंधकों को रिहा कर चुका है. जिसमें इजराइली नागरिक समेत दूसरे देश के नागरिक भी शामिल थे.

Trending news