पाक टीम को ACC ने नहीं दिया किराया, PCB ने लगाए ये इल्जाम
trendingNow,recommendedStories0/zeesalaam/zeesalaam1982999

पाक टीम को ACC ने नहीं दिया किराया, PCB ने लगाए ये इल्जाम

Cricket News: पाकिस्तान की टीम जब श्रीलंका एशिया कप खेलने गई तो उसने अपने किराए से विमान किया. अब जब पाक टीम इसका किराया ACC से मांग रहा है तो वह इसे लेकर कई तर्क दे रहा है.

पाक टीम को ACC ने नहीं दिया किराया, PCB ने लगाए ये इल्जाम

Cricket News: एशिया कप के दौरान पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच चार्टर्ड उड़ानों के खर्च पर अतिरिक्त मुआवजे की मांग को लेकर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) और एशियाई क्रिकेट परिषद (ACC) में गतिरोध पैदा हो गया है. पीसीबी ने इस साल अगस्त सितंबर में एशिया कप की सह-मेजबानी की थी. एशिया कप की मेजबानी का अधिकार पाकिस्तान को मिला था लेकिन भारतीय टीम के पाकिस्तान दौरे से मना करने बाद इसका आयोजन हाइब्रिड मॉडल पर पाकिस्तान और श्रीलंका में हुआ. टूर्नामेंट के ज्यादातर मैच श्रीलंका में हुए थे.

इतने रुपयों की मांग की
पीसीबी के एक विश्वसनीय सूत्र ने बताया कि बोर्ड ने टूर्नामेंट की मेजबानी फीस (लगभग 2,50,000 डॉलर) के साथ-साथ टिकट और प्रायोजन शुल्क से अपने हिस्से के अलावा अतिरिक्त मुआवजे की भी मांग की है. सूत्र ने कहा, ‘‘पीसीबी ने पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच टीमों के लिए चार्टर्ड उड़ानों को किराए पर लेने और होटल तथा परिवहन शुल्क जैसे अन्य अतिरिक्त खर्चों को लेकर मुआवजे की मांग की है. यह रकम एशिया कप के शुरुआती बजट में शामिल नहीं थी.’’ 

एसीसी नहीं देना चाहता एक्स्ट्रा खर्च
इस सूत्र ने बताया कि एसीसी पीसीबी को अतिरिक्त खर्च देने को तैयार नहीं है क्योंकि उसका मानना है कि पाकिस्तान ने एशिया कप के चार मैचों की अपने घर में मेजबानी के बदले में हाइब्रिड मॉडल के तहत श्रीलंका में मैच आयोजित करने पर सहमति व्यक्त की थी. पीसीबी ने पाकिस्तान और श्रीलंका के बीच यात्रा के लिए क्लासिक ट्रैवल नाम की श्रीलंका स्थित कंपनी की सेवाएं ली थी. जिसे चार चार्टर्ड उड़ानों की व्यवस्था करने के लिए 281,000 डॉलर का भुगतान किया गया था. 

पीसीबी नहीं देना चाहता था फीस
पीसीबी की क्रिकेट प्रबंधन समिति (सीएमसी) इस रकम के अग्रिम भुगतान को लेकर सहज नहीं थी. पाकिस्तान ने शुरू में केवल चार मैचों की मेजबानी की, लेकिन इसके खर्चे इसलिए भी बढ़ गये क्योंकि सीएमसी प्रमुख जका अशरफ ने इनमें से एक मैच को लाहौर से अपने गृह नगर के पास मुल्तान में स्थानांतरित कर दिया. सूत्र ने कहा कि एसीसी ने श्रीलंका में मैच आयोजित करने का फैसला किया था. लेकिन पाकिस्तान ने हाइब्रिड मॉडल के लिए सहमति भरी थी इसलिए चार्टर्ड उड़ानों और पीसीबी द्वारा किए गए अन्य अतिरिक्त खर्चों का भुगतान करना उनकी जिम्मेदारी है.

सीट बेचना चाहता था पीसीबी
पीसीबी ने चार्टर्ड विमान की खाली सीटों को प्रशंसकों को बेचने का फैसला किया था, लेकिन बाद में सुरक्षा वजहों से इस विचार को छोड़ दिया गया. इस बीच यह भी दावा किया गया कि पीसीबी के एक शीर्ष अधिकारी ने चार्टर्ड विमान का इस्तेमाल अपने परिवार को कोलंबो ले जाने के लिए किया था.

Trending news