Sri-ganganagar news: SFI का कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन, भाजपा और कांग्रेस के खिलाफ जमकर नारेबाजी
trendingNow,recommendedStories1/india/rajasthan/rajasthan1820561

Sri-ganganagar news: SFI का कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन, भाजपा और कांग्रेस के खिलाफ जमकर नारेबाजी

Sri-ganganagar news: अनूपगढ़ में एसएफआई ने 4 सूत्री मांगों को लेकर पब्लिक पार्क में सभा का आयोजन कर जिला कलेक्टर के कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन करते हुए भाजपा और कांग्रेस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

Sri-ganganagar news: SFI का कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन, भाजपा और कांग्रेस के खिलाफ जमकर नारेबाजी

Sri-ganganagar news: अनूपगढ़ में एसएफआई ने 4 सूत्री मांगों को लेकर पब्लिक पार्क में सभा का आयोजन कर जिला कलेक्टर के कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन करते हुए भाजपा और कांग्रेस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.एसएफआई कार्यकर्ताओं के द्वारा जिला कलेक्ट्रेट पहुंचकर जिला कलेक्टर कल्पना अग्रवाल को ज्ञापन देना चाहा मगर जिला कलेक्टर वीसी में व्यस्त होने के कारण उनका ज्ञापन नहीं ले पाए. जिला कलेक्टर के द्वारा ज्ञापन नहीं लेने पर एसएफआई के कार्यकर्ताओं ने जिला कलेक्ट्रेट की दीवार पर ही ज्ञापन चस्पा कर दिया और प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.एसएफआई के कार्यकर्ताओं ने बताया कि विद्यार्थियों के हित को ध्यान में रखते हुए वह आज ज्ञापन देने आए थे मगर जिला कलेक्टर के द्वारा ज्ञापन नहीं लिया गया.
 
4 सूत्री मांगों को लेकर ज्ञापन देने आये थे कार्यकर्ता-

एसएफआई के जिला सचिव विनोद पंवार ने बताया कि आज एसएफआई के कार्यकर्ता 4 सूत्री मांगों को लेकर जिला कलेक्टर को ज्ञापन देने के लिए आए थे. उन्होंने बताया कि अनूपगढ़ के सेठ बिहारी लाल छाबड़ा राजकीय कॉलेज को पीजी में क्रमोन्नत करने की मांग, रायसिंहनगर के शहीद भगत सिंह कॉलेज को पूर्ण सरकारीकरण करने की मांग,प्रत्येक तहसील मुख्यालय पर सरकारी कॉलेज खोलने की मांग और रुकी हुई छात्रवृत्ति को जल्द जारी करने की मांग को लेकर वह आज ज्ञापन देने के लिए आए थे.

जिला कलेक्ट्रेट की दीवार पर चस्पा किया ज्ञापन-
एसएफआई के जिला सचिव विनोद पवार ने बताया कि जब वह जिला कलेक्ट्रेट ज्ञापन देने पहुंचे तो जिला कलेक्टर कल्पना अग्रवाल एक वीसी में व्यस्त थे. कई बार उपखंड अधिकारी प्रियंका तलानिया से अपील की गई की विद्यार्थियों की समस्या सुनने के लिए जिला कलेक्टर बाहर आए मगर वीसी में व्यस्त होने के कारण जिला कलेक्टर एसएफआई के कार्यकर्ताओं से ज्ञापन नहीं ले पाई. इस पर एसएफआई के कार्यकर्ता आक्रोशित हो गए और उन्होंने जिला कलेक्ट्रेट के मुख्य गेट के सामने बैठकर प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए मुख्य गेट के पास दीवार पर ही ज्ञापन को चस्पा कर दिया.

भाजपा और कांग्रेस पर लगाए आरोप-
एसएफआई के पदाधिकारियों ने प्रदर्शन करते हुए भाजपा और कांग्रेस पर अनूपगढ़ के राजकीय कॉलेज को अनदेखा करने का आरोप लगाया है.एसएफआई के पदाधिकारियों ने बताया कि विद्यार्थियों की समस्या की ओर न तो भाजपा ध्यान दे रही है और ना ही कांग्रेस ध्यान दे रही है.

यह भी पढ़े- सत्ता लहर के साथ जाने वाली जायल विधानसभा से क्या मंजू मेघवाल बचा पाएगी अपना किला ?

 

 

Trending news