Jodhpur : राकेश मांजू फायरिंग पर बड़ा खुलासा, विक्रम नांदिया गैंग ने ऐसे रची थी साजिश
topStories1rajasthan1556204

Jodhpur : राकेश मांजू फायरिंग पर बड़ा खुलासा, विक्रम नांदिया गैंग ने ऐसे रची थी साजिश

Jodhpur Firing case : जोधपुर में राकेश मांजू पर फायरिंग मामले में सीसीटीवी सामने आया है. कैलाश मांजू के भाई राकेश मांजू पर विक्रम सिंह नांदिया गैंग ने फायरिंग कराई थी. CCTV में पूरी वारदात कैद हुई है. जिसमें सैक्यूरिटी गार्ड की मिलीभगत सामने आ रही है

Jodhpur : राकेश मांजू फायरिंग पर बड़ा खुलासा, विक्रम नांदिया गैंग ने ऐसे रची थी साजिश

Rajasthan crime : जोधपुर में कैलाश मांजू के चचेरे भाई राकेश मांजू पर हुई फायरिंग के मामले में बड़ा खुलासा हुआ है. इस मामले का एक सीसीटीवी फुटेज सामने आया है. जिस सोसायटी में फायरिंग की वारदात हुई. उसी के सीसीटीवी फुटेज में ये पूरी वारदात कैद हुई है. जिससे पूरा घटनाक्रम समझ आ रहा है. हिस्ट्रीशीटर राकेश मांजू फिलहाल माथुरादास माथुर अस्पताल में भर्ती है. गोली मारने की जिम्मेदारी बजरंग सिंह पालरी राठौड़ नाम के युवक ने ली है. जो हिस्ट्रीशीटर विक्रम सिंह नांदिया की गैंग का है. सीसीटीवी में साफ दिख रहा है कि उस सोसायटी का गार्ड अगर मदद नहीं करता तो राकेश मांजू बच सकता था.

देखें वारदात का सीसीटीवी वीडियो

सीसीटीवी साफ दिख रहा है कि राकेश मांजू पर जब पहला फायर होता है तो वो वहां से बच निकलता है. उसके बाद बदमाश उसका पीछा करते है. लेकिन इतनी ही देर में सोसायटी के गेट पर खड़े गार्ड ने पांव फंसाकर उसे गिरा दिया. और गार्ड उसके ऊपर बैठ गया. इतने में ही गाड़ी से पीछा कर रहे बदमाश भी वहां पहुंचे और राकेश मांजू पर फायरिंग कर दी. उसके बाद गार्ड भी उन बदमाशों के साथ गाड़ी में बैठकर फरार हो गया.

ये भी पढ़ें- मांजू और नांदिया गैंग की दुश्मनी, कैलाश मांजू की अपराध जगत में कैसे हुई थी एंट्री

सूत्रों के मुताबिक जिस गार्ड ने राकेश मांजू को दबोचा. उसे गोली मारी. उसे 6 महीने पहले ही यहां गार्ड की ड्यूटी पर रखा गया था. बताया जा रहा है कि उसे पुलिस वैरिफिकेश किए बिना ही ड्यूटी पर रख दिया गया था.

आपको बता दें कि हाल ही में शेखावाटी में राजू ठेहट ही हत्या के बाद अब मारवाड़ में हुई ये वारदात नए सिरे से गैंगवार बढ़ा सकती है. राजू ठेहट की हत्या की जिम्मेदारी रोहित गोदारा ने ली जो लॉरेंस विश्नोई गैंग से जुड़ा है. इधर जोधपुर में कैलाश मांजू के भाई राकेश मांजू पर फायरिंग हुई. मांजू भी लॉरेंस गैंग से जुड़ा हुआ है. ऐसे में अब नांदिया गैंग से बदला लेने के लिए फिर किसी वारदात को अंजाम दे सकते है. पुलिस का फिलहाल पूरा ध्यान गैंगवार की किसी भी तरह की वारदात पर लगाम लगाने का होगा.

Trending news