सदन में गूंजा महू का मुद्दा! आदिवासी विधायकों ने किया वॉकआउट, दो मौतों का जिम्मेदार कौन?
trendingNow,recommendedStories1/india/madhya-pradesh-chhattisgarh/madhyapradesh1612509

सदन में गूंजा महू का मुद्दा! आदिवासी विधायकों ने किया वॉकआउट, दो मौतों का जिम्मेदार कौन?

Mhow Case In MP Assembly: इंदौर (Indore) के महू में हुआ आदिवासी लड़की की संदिग्ध मौत और उसके बाद गोली लगने से प्रदर्शन कारी की मौत का मामला विधानसभा में पहुंच गया है. विपक्ष ने सरकार पर बड़े सवाल खड़े किए हैं. वहीं आदिवासी विधायकों ने वाकआउट कर लिया. इससे अलग जांच के आदेश जारी होने के बाद भी प्रदेश में इसपर सियासत भी होने लगी है.

सदन में गूंजा महू का मुद्दा! आदिवासी विधायकों ने किया वॉकआउट, दो मौतों का जिम्मेदार कौन?

Mhow Case In MP Assembly: भोपाल/इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर (Indore) अंतर्गत आने वाले महू में लड़की की संदिग्ध मौत और उसके बाद विरोध में बैठे लोगों के हंगामे को बाद हुए एक मौत के मामले में राजनीति भी गरमाने लगी है. मामला आज विधानसभा के बजट सत्र में छाया रहा. गोलीकांड के विरोध में आदिवासी विधायक सदन के बाहर निकल गए और सरकार के खिलाफ नारेबजी की. वहीं सदन में भी इसपर जमकर बहस हुए और सदन के बाहर प्रशानिक कार्रवाई के साथ ही राजनीति जारी है.

सदन में उठा मामला
आज मध्य प्रदेश विधानसभा की कार्यवाही में भी महु मामला गर्माया रहा. आदिवासी विधायकों ने वॉकआउट किया और सदन में जमकर हंगामा हुआ. पढ़िए किस नेता ने क्या कहा?

जानें पूरा मामला: आदिवासी लड़की की मौत से शुरू हुए प्रदर्शन में एक और मौत, लगानी पड़ी धारा 144

नेताप्रतिपक्ष- एक आदिवासी भाई की हत्या हुई है 3 लोग घायल हैं

ससंदीय कार्य मंत्री-  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घटना के बाद मजिस्ट्रियल जांच की निर्देश दिए हैं. पीएम रिपोर्ट आने के बाद स्थिति स्पष्ट हो जाएगी.

कांगेस विधायक साधौ- घटना 7:00 बजे की है. लेकिन, 10:00 बजे तक रिपोर्ट नहीं लिखी गई. लड़की की मां ने आरोप लगाया है कि सामूहिक दुष्कर्म हुआ है फिर हत्या की गई है. साधौ ने कहा कि संसदीय कार्य मंत्री ने पहले ही बच्ची चरित्र पर सवाल उठाया कि वह लिवइंन रिलेशन में थी.

कमलनाथ-  कहा कि मजिस्ट्रेटियल इंक्वायरी का समय तय कर दिया जाए. यह जांच का मामला है. परिजनों के आरोप और पुलिस वालों ने आखिर किन परिस्थितियों में गोली चलाई. यह भी जांच में शामिल किया जाए. कमलनाथ से कहा मैंने आंकड़े बताए थे कि आखिर मध्यप्रदेश में आदिवासियों की क्या स्थिति है अत्याचार हो रहे है.

ये भी पढ़ें: MP Board Exam पेपर लीक पर MPBSE सख्त, टेलीग्राम चैनल पर FIR, ये कमेटी करेगी जांच

कांग्रेस कर रही है राजनीति
उज्जैन पहुंचे गृहमंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने कहा महू घटना मामले में पति का कहना है करंट लगा है अन्य संगठन के लोगों का कहना है कि हत्या है. निश्चिन्त रूप से जांच निष्पक्ष होगी. जो जांच दल पहुंच रहा है उन्हें राजनीति करना है. जनहित के मुद्दे कांग्रेस नहीं उठाती. इस तरह के कृत्य जो कांग्रेस के हैं वह जनता सब समझती है.

मिश्रा ने कहा दूसरा पक्ष है जो कल आंदोलन हो रहा था उनका कहना है कि लड़की हत्या की गई है. उसके लिए फिर आक्रोशित होकर उन लोगों जाम किया था. थाने में घेराव के साथ ही पथराव भी किया. लगभग 13 लोग घायल हुए हैं. पुलिस के एक जवान को इंदौर भी रेफेर किया गया है. उन्होंने कहा कि मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए गए हैं. कुछ समय में सभी बातें सपष्ट हो जाएंगी.

flax seeds benefits: जवान रहने के लिए ऐसे करें 1 चम्मच अलसी का सेवन, फिर देखें फायदे

कमलनाथ ने बताया जंगलराज
'इंदौर जिले के महू में आदिवासी युवती से सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या एवं पुलिस फ़ायरिंग में आदिवासी युवक की हत्या ने मध्यप्रदेश में व्याप्त जंगलराज को साबित किया है. मैं इस हृदयविदारक घटना से आहत हूं, व्यथित हूं और दुख की इस घड़ी में पीड़ित आदिवासी परिवारों के साथ खड़ा हूं. इस सामूहिक बलात्कार और पुलिस गोलीबारी की घटना ने आदिवासियों को भयभीत कर दिया है'

कलेक्टर ने दिए जांच के आदेश
कलेक्टर डॉक्टर इलैया राजा टी ने महू सब डिविजन क्षेत्र में पथराव और गोली चलने में एक युवा भेरूलाल की मृत्यु की घटना पर मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए हैं. उन्होंने पूरी तरह से परिवार के साथ होने की बात कही. वहीं 5 थाना क्षेत्रों में धारा 144 लगाते हुए उन्होंने यहां कई प्रतिबंध लगा दिए हैं. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश मृतक के परिजनों की हर संभव मदद की जा रही है.

Rambai On Scindia: सिंधिया के गढ़ में गरजीं रामबाई! महाराज को लेकर कही ये बड़ी बात

कांग्रेस ने बनाई जांच कमेटी
मामले की जांच के लिए मध्य प्रदेश कांग्रेस ने एक कमेटी बनाई है. इसमें पार्टी के आदिवासी विधायकों (कांतिलाल भूरिया, बाला बच्चन, झूमा सोलंकी और पाचीलाल मेड़ा और इंदौर प्रभारी महेंद्र जोशी) शामिल हैं. टीम घटना स्थल के लिए रवाना हो गई है. वे अपनी जांच रिपोर्ट कमलनाथ को सौंपेंगे.

Trending news