Top Ki Flop: पाकिस्तानी फिल्म की नकल थी आमिर-माधुरी की यह लव स्टोरी, डिस्ट्रीब्यूटर नहीं थे खरीदने को तैयार
topStorieshindi

Top Ki Flop: पाकिस्तानी फिल्म की नकल थी आमिर-माधुरी की यह लव स्टोरी, डिस्ट्रीब्यूटर नहीं थे खरीदने को तैयार

Madhuri Dixit Film: हॉलीवुड की फिल्म का लाल सिंह चड्ढा (Laal Singh Chaddha) के रूप में रीमेक करने वाले आमिर खान एक पाकिस्तान फिल्म की नकल में भी काम कर चुके हैं. फिल्म थी, दीवाना मुझसा नहीं. हालांकि बॉक्स ऑफिस पर यह बुरी तरह फ्लॉप हुई.

 

Top Ki Flop: पाकिस्तानी फिल्म की नकल थी आमिर-माधुरी की यह लव स्टोरी, डिस्ट्रीब्यूटर नहीं थे खरीदने को तैयार

Aamir Khan Film: यह सबको पता है कि बॉलीवुड वाले हॉलीवुड, यूरोपियन या कोरियन फिल्मों की नकल करते हैं, पाकिस्तानी (Pakistan) संगीत उड़ा लेते हैं, लेकिन आपको जानकर आश्चर्य होगा कि आमिर खान-माधुरी दीक्षित की एक फिल्म पाकिस्तानी फिल्म की नकल करके बनाई गई थी. जी हां, यह फिल्म थी 1990 में आई फिल्म दीवाना मुझसा नहीं (Deewana Mujhsa Nahi). यह 1986 की पाकिस्तानी फिल्म बेकरार की हूबहू कॉपी थी. फिल्म रोमांटिक थी. दीवाना मुझसा नहीं में आमिर खान, माधुरी दीक्षित, खुशबू, रंजीता और सत्येन कप्पू की मुख्य भूमिकाएं थी. वाय.नागेश्वर राव डायरेक्टर थे. फिल्म अजय (आमिर खान) नाम के ऐसे फोटोग्राफर की कहानी थी, जो एक एड एजेंसी में काम करता है और उससे जुड़ी मॉडल अनिता (माधुरी दीक्षित) से प्यार करता है. लेकिन अनिता किसी और से प्यार करती है, जिससे उसकी सगाई भी हो चुकी है. आगे अनिता को किस तरह से अहसास होता है कि सही मायने में अजय ही उससे प्यार करता है और कहानी नया मोड़ लेती है.

डिस्ट्रीब्यूटर नहीं थे राजी
1990 में आमिर खान और माधुरी दीक्षित की फिल्म रिलीज हुई, दिल (Dil). यह बहुत बड़ी हिट (Hit) थी. इसके लगभग एक महीने बाद दीवाना मुझसा नहीं रिलीज हुई. लेकिन यह जोड़ी दिल जैसा जादू नहीं कर पाई. दरअसल दीवाना मुझसा नहीं 1989 में ही बनकर तैयार हो गई थी. लेकिन फिल्म पसंद नहीं आने के कारण कोई डिस्ट्रीब्यूटर हाथ लगाने को तैयार नहीं था. फिर जब जून 1990 में दिल ब्लॉकबस्टर (Blockbuster) हुई तो डिस्ट्रीब्यूटर्स ने तुरंत दीवाना मुझसा नहीं को खरीद लिया और यह जुलाई 1990 में रिलीज हुई. मगर बॉक्स ऑफिस (Box Office) पर औंधे मुंह गिरी. पांच करोड़ में बनी यह फिल्म सिर्फ 1.2 करोड़ ही कमा पाई.

फ्रेम टू फ्रेम कॉपी
आमिर खान और माधुरी दीक्षित की यह फिल्म पाकिस्तानी फिल्म बेकरार की नकल थी. दीवाना मुझसा नहीं फ्रेम टू फ्रेम बेकरार की कॉपी थी. यही नहीं, फिल्म के दो गाने 'सारे लड़कों की कर दो शादी' तथा मैं सेहरा बांध के' भी बेकरार से कॉपी किए गए थे. माधुरी के मंगेतर बने एक्टर जैनेन्द्र ने क्लाइमेक्स में उनके रोल से छेड़छाड़ किए जाने का आरोप लगाया. उनका कहना था कि मेरा रोल सपोर्टिंग एक्टर का था लेकिन उसे विलेन में तब्दील कर दिया गया. आमिर खान और माधुरी दीक्षित की यह दूसरी और आखरी फिल्म थी, जिसमें उन्होंने साथ में काम किया. इसके बाद वह किसी फिल्म में साथ में नहीं आए.

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर

Trending news