राजस्थान में BJP के तीन सांसद को लगा झटका, केंद्र की राजनीति में सफल लेकिन यहां चूके
trendingNow,recommendedStories0/zeesalaam/zeesalaam1992819

राजस्थान में BJP के तीन सांसद को लगा झटका, केंद्र की राजनीति में सफल लेकिन यहां चूके

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में जहां कई नए विधायक जीते तो वहीं कई धुरंधर हार गए हैं. दिलचस्प बात यह है कि केंद्र की राजनीति कर चुके कुछ नेता राज्य के इलेक्शन में हार गए हैं.

राजस्थान में BJP के तीन सांसद को लगा झटका, केंद्र की राजनीति में सफल लेकिन यहां चूके

राजस्थान में असेंबली इलेक्शन में कई धुरंधरों ने अपनी किस्मत आजमाई है. यहां कई लोकसभा उम्मीदवार ऐसे थे जो नए थे उन्होंने बड़ी जीत दर्ज की, तो वहीं कुछ ऐसे भी नेता थे बहुत मशहूर थे और केंद्र की राजनीति करते थे लेकिन वह विधानसभा चुनावों में हार गए. राजस्थान विधानसभा चुनाव में उतरे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सात में से चार सांसद जीते और तीन हार गये. इस कड़ी में राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (आरएलपी) के संयोजक एवं नागौर के सांसद हनुमान बेनीवाल भी जीत गए.

बाबा बालक नाथ जीते
राजस्थान की 199-विधानसभा सीट के लिए हुए चुनाव में रविवार को मतों की गिनती हुई, जिसमें भाजपा की लोकसभा सदस्य दीया कुमारी (विद्याधर नगर), राज्यवर्धन राठौड़ (झोटवाड़ा), बाबा बालक नाथ (तिजारा) विजेता घोषित किए गए, वहीं राज्यसभा सदस्य किरोड़ी लाल मीणा (सवाई माधोपुर) जीत गए हैं. उनकी जीत को पहले से ही तय माना जा रहा था. मंडावा सीट पर सांसद नरेंद्र कुमार को कांग्रेस उम्मीदवार रीटा चौधरी ने 18717 के अंतर से हराया. 

यह भी पढ़ें: इन राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने मानी हार, पद से दिया इस्तीफा

भागीरथ चौधरी हारे
भाजपा सांसद भागीरथ चौधरी किशनगढ़ सीट से चुनाव हार गए हैं. चौधरी तीसरे स्थान पर रहे, जहां कांग्रेस उम्मीदवार विकास चौधरी ने जीत दर्ज की. इसी तरह सांसद देवजी पटेल सांचौर सीट से हार गए. यहां भाजपा के बागी जीवा राम चौधरी ने चुनाव जीता, जो निर्दलीय के तौर पर मैदान में थे. सांचौर में कांग्रेस प्रत्याशी एवं मंत्री सुखराम विश्नोई दूसरे और भाजपा उम्मीदवार देवजी पटेल तीसरे स्थान पर रहे.

इस तरह की खबरें पढ़ने के लिए zeesalaam.in पर जाएं.

Trending news