राजस्थान के महाकुंभ भादवा मेले का कल से आगाज, सुबह चार बजे पंचामृत से होगा अभिषेक, सुरक्षा जाब्ता तैनात
topStories1rajasthan1323078

राजस्थान के महाकुंभ भादवा मेले का कल से आगाज, सुबह चार बजे पंचामृत से होगा अभिषेक, सुरक्षा जाब्ता तैनात

कलियुग में कृष्ण के अवतार, सामाजिक समरसता के प्रणेता और जन-जन के आराध्यदेव बाबा रामदेव जी के भादवा मेले का आगाज 29 अगस्त भादवा शुक्ला दूज को होगा.

राजस्थान के महाकुंभ भादवा मेले का कल से आगाज, सुबह चार बजे पंचामृत से होगा अभिषेक, सुरक्षा जाब्ता तैनात

पोकरणः कलियुग में कृष्ण के अवतार, सामाजिक समरसता के प्रणेता और जन-जन के आराध्यदेव बाबा रामदेव जी के भादवा मेले का आगाज 29 अगस्त भादवा शुक्ला दूज को होगा. दूज के अवसर पर सुबह चार बजे लाखों श्रद्धालुओं की उपस्थिति में ब्रम्ह मुहूर्त में बाबा रामदेव के वंशजों तंवर परिवार के साथ-साथ जिला कलेक्टर टीना डाबी सहित अन्य प्रशासन के अधिकारियों द्वारा बाबा रामदेव जी की समाधि पर सबसे पहले पंचामृत से अभिषेक किया जाएगा.

इसके बाद बाबा रामदेव जी की समाधि पर चादर चढ़ाकर मंगला आरती की जाएगी. पूरे देशभर में अमन- चैन की कामना की जाएगी. 

8 बजे भोग आरती की जाएगी
इसी के साथ ही मेला विधिवत रूप से शुरू हो जाएगा. इसके बाद समाधि स्थल पर 8 बजे भोग आरती की जाएगी. बाबा रामदेव जी की समाधि के मस्तक पर स्वर्ण मुकुट प्रतिष्ठापन किया जाएगा. पंचमेवे का भोग लगाया जाएगा. इसके बाद प्रसाद श्रद्धालुओं को बांटा जाएगा.

18 लाख श्रद्धालु बाबा की समाधि पर शीश नवा चुके हैं

इधर रामदेवरा में 638वें भादवा मेले के शुरू होने से पूर्व ही मेले में आस्था हिलोरे मार रही है, देशभर से प्रतिदिन भारी संख्या में श्रद्धालु रामदेवरा पहुंचकर बाबा रामदेव जी की समाधि के दर्शन कर रहे हैं. भादवा मेले के शुभारंभ से पूर्व अब तक करीब 18 लाख श्रद्धालु बाबा की समाधि पर शीश नवा चुके हैं. इन दिनों रामदेवरा की तरफ आने वाली प्रत्येक सड़क पर श्रद्धालुओं के जत्थे-हाथों में बाबा रामदेव जी की पताकाएं लिए बाबा के जयकारे लगाते हुए रामदेवरा की ओर बढ़ रहे हैं. वही, बाबा के समाधि परिसर में लंबी-लंबी कतारे लग रही हैं. 

50 लाख से अधिक श्रद्धालुओं की आने की है, उम्मीद
श्रद्धालु बाबा के जयकारों के साथ दर्शन कर रहे हैं. मेले में जिला कलेक्टर टीना डाबी के मार्गदर्शन में मेला प्रशासन द्वारा पोकरण एसडीएम राजेश विश्नोई, यूआईटी सचिव सुनीता चौधरी के नेतृत्व में बेहतर व्यवस्थाएं की गई हैं. गौरतलब है कि दो वर्ष बाद इस बार भादवा मेला 29 अगस्त भादवा शुक्ला दूज से शुरू होगा. जिसमे 50 लाख से अधिक श्रद्धालुओं के भाग लेने की उम्मीद जताई जा रही है.

अब तक 18 लाख श्रद्धालु कर चुके हैं दर्शन 
कोविड के कारण दो वर्षों बाद बाबा रामदेव जी का भादवा मेला आयोजित होने जा रहा है, ऐसे में बाबा रामदेव जी के देशभर में फैले श्रद्धालुओं में उत्साह का माहौल है और प्रतिदिन हजारों की संख्या में श्रद्धालु रामदेवरा पहुंचकर बाबा रामदेव जी की समाधि के दर्शन कर रहे हैं. भादवा मेले में राजस्थान के साथ-साथ मध्यप्रदेश, गुजरात, महाराष्ट्र, पंजाब, हरियाणा सहित कई राज्यों से श्रद्धालु पहुंच रहे हैं. अब तक 18 लाख श्रद्धालु दर्शन कर चुके हैं.

देशभर से पहुंचे हैं, व्यापारी
दो वर्षों बाद आयोजित हो रहे मेले के कारण व्यापारियों में भी उत्साह का माहौल है. रामदेवरा में इन दिनों देशभर से व्यापारी पहुंचे हैं. मेला मैदान में एक हजार से अधिक दुकानें लग गई हैं.

मेला मैदान एक नजर में
प्रसाद की दुकानें 1,000 के लगभग
चुड़ी-कंठी माला-500
रेस्टोरेंट-150
होटल और धर्मशाला-250
अन्य प्रकार की दुकानें- 300

सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
भादवा मेले में प्रशासन, पुलिस और ग्राम पंचायत रामदेवरा द्वारा बेहतर व्यवस्था की गई है. मेले में 4000 से अधिक पुलिस, आरएसी का जाब्ता तैनात किया गया है. श्रद्धालुओं को शांतिपूर्ण तरीके से बाबा रामदेव जी की समाधि के दर्शन करवाये जा रहे हैं. पुलिस द्वारा हर समय हर गतिविधि पर नजर रखी जा रही है. सीसीटीवी कैमरों के माध्यम से भी निगरानी की जा रही है. इसके अलावा सादा वर्दी में भी जवान तैनात किए गए हैं. सीसीटीवी कैमरों की तीन जगहों पर निगरानी की जा रही है.

बाबा रामदेव समाधि समिति ने भी की व्यवस्थाएं
समाधि परिसर में बाबा रामदेव समाधि समिति द्वारा भी परिसर में बेहतर व्यवस्था की गई हैं. मंदिर में पुलिस के साथ निजी सुरक्षाकर्मी, अतिरिक्त पुजारी लगाने के साथ समाधि स्थल का समय बढ़ाकर सुबह चार से रात्रि ग्यारह बजे तक किया गया है. ताकि श्रद्धालु अधिक दर्शन कर सकें. भीड़ बढ़ने पर दर्शन व्यवस्था 24 घंटे शुरू रहेगी. कतारों के पास श्रद्धालुओं के लिए पानी पिलाने के साथ साथ उनको देने के लिए पानी की बोतलों की भी व्यवस्था की गई हैं. परिसर में गर्मी से राहत देने के लिए एयरकंडीशनर प्लांट हर समय चालू रहता है.

पंचायत ने भी है व्यवस्था
ग्राम पंचायतों द्वारा भी श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए बेहतर व्यवस्था की गई है. उनके द्वारा सफाई व्यवस्था, पार्किंग व्यवस्था, पानी व्यवस्था, स्वास्थ्य व्यवस्था आदि चाक चौबंद की गई है.

Reporter- Shankar Dan

ये भी पढ़ें- Ganesh Chaturthi 2022 : राजस्थान का वो गणेश मंदिर, जहां रोजाना प्रसाद के कटोरे में मिलता था सोना

Aaj Ka Rashifal: आज रविवार को वृश्चिक की इच्छा होगी पूरी, वृषभ मां के स्वास्थ्य का रखें ध्यान

अपने जिले की खबर पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Trending news