Clonidine Hydrochloride: हाई बीपी की ये दवा वापस मंगा रही है US फार्मा कंपनी, कहीं आपने तो नहीं खरीदी!
topStorieshindi

Clonidine Hydrochloride: हाई बीपी की ये दवा वापस मंगा रही है US फार्मा कंपनी, कहीं आपने तो नहीं खरीदी!

Unichem recalls hypertension drug: अमेरिकी खाद्य एवं दवा प्रशासन (USFDA) की रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी मुंबई स्थित यूनीकेम लैबोरेटरीज (Unichem Laboratories) की एक इकाई ‘उत्पाद मिश्रण’ के कारण क्लोनीडाइन हाइड्रोक्लोराइड (Clonidine Hydrochloride tablets) की 18,960 बोतलें वापस ले रही है.

Clonidine Hydrochloride: हाई बीपी की ये दवा वापस मंगा रही है US फार्मा कंपनी, कहीं आपने तो नहीं खरीदी!

High BP Medicine: यूनिकेम फार्मास्युटिकल्स (Unichem pharmaceuticals) इंक अमेरिकी दवा बाजार से उच्च रक्तचाप यानी हाई ब्लड प्रेशर (High BP) के इलाज में इस्तेमाल की जाने वाली एक दवा को वापस ले रही है. अमेरिकी स्वास्थ्य नियामक विभाग (USFDA) की हालिया रिपोर्ट में इसका खुलासा हुआ है. अमेरिकी एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक तकनीकि वजहों से कंपनी ने यह बड़ा फैसला लेते हुए दवा बाजारों से हाई बीपी की इस दवा की सेल रोकने के साथ इसके कंसाइमेंट को वापस मंगाया है.

दवा वापस मंगाने का फैसला क्यों?

अमेरिकी खाद्य एवं दवा प्रशासन (USFDA) की रिपोर्ट के मुताबिक, कंपनी मुंबई स्थित यूनीकेम लैबोरेटरीज (Unichem Laboratories) की एक इकाई ‘उत्पाद मिश्रण’ के कारण क्लोनीडाइन हाइड्रोक्लोराइड (clonidine hydrochloride tablets) की 18,960 बोतलें वापस ले रही है. हालांकि कंपनी ने बाजार में दवा पहुंचने के बाद ऐसा फैसला क्यों लिया इस पर कोई अधिकारिक बयान नहीं आया है. ऐसे में दिग्गज फार्मा कंपनी के इस फैसले पर कई तरह की अटकलें लग रही हैं.

अमेरिका में सतर्क हुए लोग

यूएसएफडीए के मुताबिक, 0.2 मिलीग्राम की क्लोनीडाइन हाइड्रोक्लोराइड टैबलेट, 0.3 मिलीग्राम की 100 गोलियां की बोतल में पाई गई है. कंपनी जिन दवाओं को वापस ले रही है उन्हें गोवा स्थित यूनीकेम लैब लिमिडेट में बनाया गया है. इसे न्यू जर्सी स्थित यूनिकेम फार्मास्युटिकल्स (अमेरिका) इंक द्वारा अमेरिकी बाजार में वितरित किया गया. कंपनी के इस ऐलान के बाद लोग सतर्क हो गए हैं. हालांकि इस दवा का सेवन करने वाले लोगों का कहना है कि कंपनी के इस फैसले से वो डर गए हैं. ऐसे में वो इस कंपनी से हमेशा सौ फीसदी पुख्ता दवा ही मार्केट में भेजने की बात कह रहे हैं. 

हाई बीपी में रखें ध्यान

जब भी हाइपरटेंशन या हाई ब्लड प्रेशर की दिक्कत शुरू होती है, तो सबसे पहले नमक का सेवन कम करने की बात दिमाग में आती है. दरअसल डॉक्टरों के मुताबिक सफेद नमक जिसका इस्तेमाल हम रोज अपने लंच या डिनर में करते हैं उसमें सोडियम की मात्रा ज्यादा होती है. सोडियम ब्लड प्रेशर के स्तर को बढ़ाने का काम करता है. इसलिए बीपी के मरीजों को दवा ही नहीं बल्कि खान-पान की चीजों के बारे में भी अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए.

ये स्टोरी आपने पढ़ी देश की सर्वश्रेष्ठ हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर

Trending news