trendingPhotos1988055
photoDetails1hindi

पेट की चर्बी को निशाना बनाते हैं ये 5 Yoga, मक्खन की तरह पिघलेगा Belly Fat

पेट की चर्बी शारीरिक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होती है. यह थकान, डायबिटीज, दिल की बीमारी, हाई ब्लड प्रेशर और मोटापा जैसी बीमारियों के जोखिम को बढ़ा सकती है. पेट की चर्बी के असामान्य बढ़ने के कुछ संभावित कारणों में जेनेटिक्स, कुछ बीमारियां या मोटापा, खराब खानपान की आदतें, अनियमित नींद की आदतें और व्यायाम की कमी शामिल हैं. 

पवनमुक्तासन

1/5
पवनमुक्तासन

पवनमुक्तासन पेट के अंगों को उकसाता है और पाचन में सुधार करता है. यह पेट की चर्बी को कम करने में मदद कर सकता है. इसके करने के लिए पीठ के बल लेट जाएं. अब अपने पैरों को हवा में उठाएं और घुटनों को मोड़ें. फिर अपने पैरों को अपने सीने के पास लाएं और अपने हाथों से अपने पैरों को पकड़ें. इसके बाद अपने सिर को पीछे झुकाएं और मुंह बंद करके सांस लें. फिर अपने पेट में दबाव डालें और सांस छोड़ें. इस क्रिया को 10-15 बार दोहराएं.

शलभासन

2/5
शलभासन

शलभासन पेट की मांसपेशियों को मजबूत करता है और पेट की चर्बी को कम करने में मदद कर सकता है. इसे करने के लिए सबसे पहले पीठ के बल लेट जाएं. अब अपने पैरों को हवा में उठाएं और घुटनों को मोड़ें. फिर अपने पैरों को अपने सीने के पास लाएं और अपने हाथों से अपने पैरों को पकड़ें. अब अपने पेट में दबाव डालें और अपने ऊपरी शरीर को उठाएं. फिर अपने सिर को पीछे झुकाएं और मुंह बंद करके सांस लें. अपने पेट में दबाव डालें और सांस छोड़ें. इस क्रिया को 10-15 बार दोहराएं.

मत्स्यासन

3/5
मत्स्यासन

मत्स्यासन पेट के अंगों को आराम देता है और पाचन में सुधार करता है. यह पेट की चर्बी को कम करने में मदद कर सकता है. इसे करने के लिए पीठ के बल लेट जाएं. अपने पैरों को सीधे रखें. फिर अपने हाथों को अपने सिर के पीछे रखें और सिर को उठाते हुए अपने सीने को ऊपर की ओर उठाएं. इस दौरान अपने पेट को नीचे की ओर दबाएं और मुंह बंद करके सांस लें. अपने पेट में दबाव डालें और सांस छोड़ें. इस क्रिया को 10-15 बार दोहराएं.

धनुरासन

4/5
धनुरासन

धनुरासन पेट के अंगों को उकसाता करता है और मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है। यह पेट की चर्बी को कम करने में मदद कर सकता है. इसे करने के लिए अपने घुटनों पर खड़े हो जाएं. फिर अपने हाथों को अपने पैरों के पीछे रखें और अपने शरीर को पीछे की ओर झुकाते हुए सिर को नीचे की ओर लाएं. फिर अपने पेट को नीचे की ओर दबाएं और मुंह बंद करके सांस ले. इस क्रिया को 10-15 बार दोहराएं.

कपालभाति प्राणायाम

5/5
कपालभाति प्राणायाम

कपालभाति प्राणायाम पेट के अंगों को उत्तेजित करता है और मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है. इसके करने के लिए सबसे पहले आप सीधे बैठ जाएं. फिर अपने हाथों को अपने घुटनों पर रखें और मुंह से धीरे-धीरे सांस लें. अपनी नाक से धीरे-धीरे सांस छोड़ें. इस प्रक्रिया को 10-15 बार दोहराएं.

ट्रेन्डिंग फोटोज़