उत्तराखंड: चुनाव हारकर भी बीजेपी के बाजीगर तो बने पुष्कर सिंह धामी, सामने खड़ी होंगी ये बड़ी चुनौतियां
topStorieshindi

उत्तराखंड: चुनाव हारकर भी बीजेपी के बाजीगर तो बने पुष्कर सिंह धामी, सामने खड़ी होंगी ये बड़ी चुनौतियां

 उत्तराखंड में लगातार दूसरी बार सत्तासीन होने का इतिहास रचने वाली भारतीय जनता पार्टी के अगुवा पुष्कर सिंह धामी अपनी सीट हारने के बावजूद एक बार फिर से मुख्यमंत्री की कुर्सी पर काबिज होने जा रहे हैं. 23 मार्च को पुष्कर सिंह धामी दूसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे.

उत्तराखंड: चुनाव हारकर भी बीजेपी के बाजीगर तो बने पुष्कर सिंह धामी, सामने खड़ी होंगी ये बड़ी चुनौतियां

देहरादून: उत्तराखंड में लगातार दूसरी बार सत्तासीन होने का इतिहास रचने वाली भारतीय जनता पार्टी के अगुवा पुष्कर सिंह धामी अपनी सीट हारने के बावजूद एक बार फिर से मुख्यमंत्री की कुर्सी पर काबिज होने जा रहे हैं. 23 मार्च को पुष्कर सिंह धामी दूसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. धामी दूसरी बार शपथ लेने के साथ ही 22 साल पहले अस्तित्व में आए उत्तराखंड में एक और मिथक यह भी टूटेगा कि किसी भी मुख्यमंत्री ने लगातार दो बार अपनी पारी नहीं खेली.

पुष्कर सिंह धामी के लिए ये राह आसान नहीं रहने वाली है. उनके सामने कई चुनौतियां होंगी. बता दें कि पिछले साल जुलाई में धामी को विधानसभा चुनाव से कुछ महीने पहले ही राज्य की बागडोर सौंपी गई थी. वहीं, वह पार्टी नेतृत्व के भरोसे पर वह खरे उतरे.

रंगपंचमी आज, इस दिन आसमान में क्यों उड़ाया जाता है गुलाल! महत्व के साथ जानें शुभ मुहूर्त

सीएम धामी के सामने शुरुआती 10 बड़ी चुनौतियां
1-जिस मातृशक्ति के दम पर बीजेपी को प्रचंड बहुमत मिला उन्हें सशक्त व आत्मनिर्भर के लिए ठोस योजना तैयार करना
2-युवाओं की उम्मीद रोजगार के अधिक अवसर सृजित करना
3-उत्तराखंड में भू कानून को लेकर ठोस कानून बनाना
4-चुनाव से पहले किये यूनिफार्म सिविल कोड के वादे को पूरा करना
5-कर्मचारियों की लंबित मांगो का निराकरण , पुलिस की ग्रेड पे की मांग का समाधान
6-पहाड़ पर रिवर्स पलायन की दिशा में काम करना ताकि खाली हो रहे गांव फिर आबाद हो सकें
7-पहाड़ में हो रहे डेमोग्राफिक बदलाव के लिए कोई ठोस पहल करना
8-पहाड़ पर बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मुहैया करवाना , अस्पतालों में आधुनिक तकनीकी सुविधाएं उपलब्ध करवाना
9-पहाड़ी जिलों में स्वरोजगार के बेहतर अवसर उपलब्ध करवाना ताकि युवाओं को स्वरोजगार से जोड़ा जाए
10-ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैण को विकसित करना , मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाना
11-संगठन और सरकार के बीच बेहतर तालमेल और समन्वय स्थापित करना ,नौकरशाही पर मजबूत पकड़ रखना

बीजेपी ने हासिल की जबरदस्त जीत
हाल में संपन्न विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए 70 में से 47 सीटें जीतकर दो तिहाई से अधिक बहुमत के साथ लगातार दूसरी बार सत्ता हासिल की. हालांकि, लगातार तीसरी बार खटीमा से विधायक बनने का प्रयास कर रहे धामी कांग्रेस के अपने प्रतिद्वंदी भुवन चंद्र कापड़ी से 6500 वोटों के अंतर से हार गए. भाजपा हाईकमान ने खटीमा सीट पर उनकी हार के बावजूद लंबे समय के लिए धामी पर ही भरोसा जताया.

महराजगंज में पालिका चेयरमैन के भांजे की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच में जुटी

यूपी-उत्तराखंड हलचल: फिर से पुष्कर धामी को देवभूमि की कमान समेत इन बड़ी खबरों पर रहेगी नजर, पढ़ें फटाफट

WATCH LIVE TV

Trending news