Sriganganagar News: ट्रेन के सामने कूद कर शंकर लाल ने दी जान, दर्जी का करता था काम
trendingNow,recommendedStories1/india/rajasthan/rajasthan1875510

Sriganganagar News: ट्रेन के सामने कूद कर शंकर लाल ने दी जान, दर्जी का करता था काम

Sriganganagar News: अनूपगढ़ के गांव 75 जीबी के पास आज दोपहर एक व्यक्ति ने ट्रेन के आगे कूद कर जान दे दी .  जहां रेलवे ट्रेक पर भारी भीड़ जुट गई. 

Sriganganagar News: ट्रेन के सामने कूद कर शंकर लाल ने दी जान, दर्जी का करता था काम

Sriganganagar News: अनूपगढ़ के गांव 75 जीबी के पास आज दोपहर एक व्यक्ति ने ट्रेन के आगे कूद कर आत्महत्या कर ली. मृतक शंकर लाल अनूपगढ़ में टेलर का काम करता था और वह मूल रूप से गांव 68/3 जीबी का निवासी था. 

शंकर लाल के द्वारा आत्महत्या करने के कारण अनूपगढ़ से सूरतगढ़ जाने वाली ट्रेन घटना स्थल से लगभग 50 मिनट देरी से रवाना हो सकी. गांव के 75 जीबी पास ट्रेन के आगे कूदकर का आत्महत्या करने पर मौके पर लोगों की भारी भीड़ जुट गई. मौके पर जुटी भीड़ ने इसकी सूचना अनूपगढ़ पुलिस थाने में दी.सूचना मिलने पर एसआई भोलाराम मौके पहुंचे. एसआई भोलाराम ने बताया कि मृतक के भतीजे के द्वारा शव की शिनाख्त की गई और शव अनूपगढ़ के राजकीय चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवा दिया है. आत्महत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है.

घटनास्थल पर मिला मृतक का बाइक

मिली जानकारी के अनुसार अनूपगढ़ से सूरतगढ़ जाने वाली ट्रेन अनूपगढ़ से 12:20 पर रवाना हुई थी.ट्रेन के गांव 75 जीबी के पास पहुंचने एक व्यक्ति ने ट्रेन के आगे कूद कर आत्महत्या कर ली. मौके पर जुटी भीड़ ने बताया कि यह व्यक्ति मोटरसाइकिल से गांव 75 जीबी के पास आया था और मोटरसाइकिल को स्टेट हाईवे पर ही खड़ा कर यह व्यक्ति ट्रेन के आगे कूद गया और इसकी दर्दनाक मौत हो गई. 
मृतक के पास एक आधार कार्ड मिला जिससे उसकी पहचान शंकर लाल(39) पुत्र चंदुराम निवासी गांव 68/3 जीबी के रूप में हुई. मौके पर जुटी भीड़ में आधार कार्ड के आधार पर परिजनों को इसकी सूचना दी. सूचना मिलने पर सुनील कुमार पुत्र ओमप्रकाश मौके पर पहुंचे और उसने शंकर लाल के शव की पुष्टि की. सुनील कुमार मृतक का भतीजा है.

एसआई भोलाराम ने बताया कि मृतक के भतीजे सुनील कुमार ने शव की पुष्टि कर ली है और शव को अनूपगढ़ के राजकीय चिकित्सालय में रखवा दिया गया है. मृतक परिजनों के आने के बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी.

उन्होंने बताया कि अभी तक आत्महत्या के कारणों का खुलासा नहीं हो पाया है.मृतक शंकर लाल कुछ समय से अनूपगढ़ में ही एक किराए का मकान लेकर रह रहा था और वह दर्जी का काम करता था.मृतक अनूपगढ़ में अपने दो बेटों और पत्नी के साथ रह रहा था.

ये भी पढ़ें-

दंपति पर बेसबॉल डंडे से ताबड़तोड़ हमला कर सुलाया मौत की नींद, CCTV फुटेज आया सामने

कोटा में एयरपोर्ट को लेकर 'सियासी रार', गहलोत के बयान पर बरसे BJP के ये 3 विधायक

 

Trending news