Sri Ganganagar: 40 वर्षों बाद मालिकाना हक मिलने से लाभार्थी हुए खुश, सरकार और नगरपालिका का जताया आभार
trendingNow,recommendedStories1/india/rajasthan/rajasthan1671046

Sri Ganganagar: 40 वर्षों बाद मालिकाना हक मिलने से लाभार्थी हुए खुश, सरकार और नगरपालिका का जताया आभार

अनूपगढ़ नगरपालिका में राजस्थान सरकार के निर्देशानुसार प्रशासन शहरों के संग अभियान आयोजित किया जा रहा है.

Sri Ganganagar: 40 वर्षों बाद मालिकाना हक मिलने से लाभार्थी हुए खुश, सरकार और नगरपालिका का जताया आभार

Sri Ganganagar news: अनूपगढ़ नगरपालिका में राजस्थान सरकार के निर्देशानुसार प्रशासन शहरों के संग अभियान आयोजित किया जा रहा है. नगर पालिका के द्वारा राजस्थान सरकार की मंशा अनुसार इस अभियान के दौरान आमजन को राहत प्रदान की जा रही है.आज प्रशासन शहरों के संग अभियान के दौरान 3 भूखंडों के मालिकों को 40 वर्षों बाद अपने भूखंड का मालिकाना हक मिला है. आज पालिका अध्यक्ष,अधिशासी अधिकारी,पालिका उपाध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष के द्वारा अनूपगढ़ के अशोक कुमार,हरिराम और देशराज को उनके भूखंडों का मालिकाना हक दिया गया है. 

40 वर्षों बाद मालिकाना हक मिलने पर खुश हुए लाभार्थी

प्रशासन शहरों के संग अभियान के दौरान नगर पालिका के द्वारा अनूपगढ़ के तीन व्यक्तियों को 40 वर्षों बाद मालिकाना हक दिया गया है आज गुरुवार को देशराज पुत्र मेघराम निवासी वार्ड नंबर 12, हरीराम पुत्र नानकराम निवासी वार्ड नंबर 34 और अशोक कुमार पुत्र चोपाराम निवासी वार्ड नंबर 21 को 40 वर्षों बाद मालिकाना हक मिला है. मालिकाना हक मिलने पर तीनों लाभार्थियों ने बताया कि पूर्व में भी उनके द्वारा काफी प्रयास किए गए थे मगर भूखंडों के पट्टे उन्हें नहीं मिल पाए. इस बार राजस्थान सरकार के द्वारा जो विशेष अभियान चलाया गया है उस अभियान के तहत नगर पालिका प्रशासन के सहयोग से उन्हें आज उनके भूखंड का मालिकाना हक मिला है.

ये भी पढ़ें- Trai New Rule : 1 मई से मिलेगा फेक Call और SMS से छुटकारा, AI करेगा चेकिंग

कच्ची बस्तियों को पक्के में किया गया डिनोटिफाई
पालिकाध्यक्ष प्रियंका बैलान ने बताया कि प्रशासन शहरों के संग अभियान का आमजन तक पहुंचाने के लिए कच्ची बस्तियों को पक्की बच्चों में डिनोटिफाइड किया गया है. उन्होंने बताया कि अनूपगढ़ के 23 वार्डों को डिनोटिफाइड किया गया है ताकि इन वार्ड के लोगों को सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ मिल सके. उन्होंने बताया कि पूर्व में जो कच्ची बस्ती के भूखंडों के पट्टे थे उन पर सरकार के किसी भी योजना का लाभ नहीं मिल पाता था मगर अब डिनोटिफाइड किए जाने के बाद इन भूखंडों के मालिकों को पक्की बस्ती के भूखंडों के पट्टे आवंटित किए जा सकते हैं. 

और इन्हें सरकार के विभिन्न योजनाओं का लाभ भी मिल सकता. उन्होंने बताया कि विशेषकर पक्की बस्ती के पट्टे आवंटित किए जाने के बाद भूखंडों के मालिकों को बैंक से लोन और बेचान करने की सुविधा भी प्रदान की गई है. इसी अभियान के तहत प्रेमनगर की कच्ची बस्ती के लोगों को भी भूखंडों के पट्टे आवंटित किए जाएंगे उन्होंने बताया कि प्रेम नगर के लिए सरकार के द्वारा नए नियम लागू किए गए हैं जिससे उन्हें भी सरकार की योजनाओं का लाभ मिल पाएगा.

ये भी पढ़ें- उदयपुर में गिरने वाला था 3 मंजिला होटल, हरियाणा के ठेकेदार ने जैक तकनीक से ऐसे किया खड़ा, देखें

अधिशासी अधिकारी संदीप बिश्नोई ने बताया कि कभी खुशी की बात है कि अनूपगढ़ के लोगों को काफी वर्षों बाद उनके भूखंडों का मालिकाना हक मिल रहा है.उन्होंने बताया कि नगरपालिका का हमेशा ही प्रयास रहा है कि राजस्थान सरकार की योजनाओं को आमजन तक पहुंचाया जाए.प्रशासन शहरों के संग अभियान के तहत भी राजस्थान सरकार की मंशानुसार अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित किए जाने का प्रयास किया जा रहा है.

ये रहे मौजूद
आज इस कार्यक्रम के दौरान पालिकाध्यक्ष प्रियंका बैलान,अधिशासी अधिकारी संदीप बिश्नोई, पालिका उपाध्यक्ष सतपाल मुंजाल, नेता प्रतिपक्ष दीपक गोयल, वार्ड पार्षद राजेंद्र चलाना, वार्ड पार्षद सुखविंदर सिंह मक्कड़ सहित अन्य गणमान्य नागरिक उपस्तिथ रहे.

Trending news