Rajasthan NEW CM : राजस्थान में सीएम चेहरे पर सस्पेंस बरकरार, हर तरफ एक ही चर्चा आखिर कौन होगा मुख्यमंत्री
trendingNow,recommendedStories1/india/rajasthan/rajasthan1997824

Rajasthan NEW CM : राजस्थान में सीएम चेहरे पर सस्पेंस बरकरार, हर तरफ एक ही चर्चा आखिर कौन होगा मुख्यमंत्री

Rajasthan NEW CM Face : राजस्थान में मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर 72 घंटे बाद भी सस्पेंस बना हुआ है. प्रदेश की जनता, कार्यकर्ताओं से लेकर नेता और विधायकों में बस एक ही चर्चा है कि अगला मुख्यमंत्री कौन होगा ?

Rajasthan NEW CM : राजस्थान में सीएम चेहरे पर सस्पेंस बरकरार, हर तरफ एक ही चर्चा आखिर कौन होगा मुख्यमंत्री

Rajasthan NEW CM Face : राजस्थान में मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर 72 घंटे बाद भी सस्पेंस बना हुआ है. प्रदेश की जनता, कार्यकर्ताओं से लेकर नेता और विधायकों में बस एक ही चर्चा है कि अगला मुख्यमंत्री कौन होगा ?

 राजस्थान में 72 घंटे बाद भी सस्पेंस बना

इधर बीजेपी प्रदेश कार्यालय में दिनभर हलचल मची रही. बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी, प्रदेश प्रभारी अरुण सिंह और संगठन महामंत्री चंद्र शेखर विधायकों से चर्चा करते रहे.

राजस्थान में विधानसभा चुनाव के नतीजे आए हुए तीन दिन हो गए, लेकिन बीजेपी अभी भी यह तय नहीं कर पा रही है कि राजस्थान का मुख्यमंत्री कौन होगा ? हालांकि अब इसको लेकर दिल्ली में कवायद शुरू हो गई.

राजस्थान का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा ?

बताया जा रहा है कि मंगलवार देर रात को दिल्ली में प्रधानमंत्री आवास पर राज्य और केंद्रीय स्तर के नेता की बैठक हुई और इसके इसके बाद बुधवार शाम एक बार फिर बैठक शुरू हुई। इन बैठकों में राजस्थान सहित अन्य राज्यों में अगले मुख्यमंत्री को लेकर चर्चा की गई. बैठक में तय हुआ कि अब विधायकों की पसंद जानने के लिए पर्यवेक्षक नियुक्त किए जाएं.

राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में बड़ी जीत के बाद बीजेपी के लिए सबसे बड़ा काम मुख्यमंत्री का चुनाव करना पेचिदा होता जा रहा है. देश में 6 महीने बाद लोकसभा चुनाव भी है, ऐसे में सभी समीकरणों को ध्यान में रख कर मुख्यमंत्री का फैसला करना है. पार्टी में किसी तरह का विद्रोह या नाराजगी सामने नहीं आए इस लिए सामंजस्य बिठाने की कोशिश की जा रही है.

इसे लेकर मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास पर आधी रात लगभग 4 घंटे तक मीटिंग चली. इस बैठक में मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी मौजूद रहे. इसके बाद बुधवार शाम करीब साढे छह बजे एक बार फिर पीएम आवास पर बैठक शुरू हुई। बैठक में फैसला लिया गया है कि तीनों राज्यों में सीएम चयन के लिए पर्यवेक्षक नियुक्त होंगे.

नरेंद्र मोदी के आवास पर मीटिंग

पर्यवेक्षक राज्य में जा कर विधायकों के साथ बैठक कर उनकी राय लेंगे और जो राय विधायकों की होगी उसके हिसाब से सीएम के लिए पैनल तैयार किया जाएगा. ये पैनल संसदीय बोर्ड के समक्ष रखा जाएगा. इसके बाद संसदीय बोर्ड की बैठक में मुख्यमंत्री के चेहरे पर मोहर लगेगी.

सीएम से पहले प्रेशर पॉलिटिक्स 

राजस्थान का अगले 5 साल के लिए किसे मुख्यमंत्री कौन ? इसको लेकर हर ओर चर्चाएं हैं. एक तरफ पूर्व सीएम वसुंधरा राजे अपने आवास पर विधायकों से मुलाकात कर प्रेशर पॉलिटिक्स कर रही है, वहीं दूसरी और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी से भी विधायक उनके आवास और पार्टी मुख्यालय पर पहुंचकर शिष्टाचार मुलाकात कर रहे हैं. इसे पूर्व सीएम राजे का काउंटर माना जा रहा है.

ये भी पढ़ें- Rajasthan: दीया कुमारी, राज्यवर्धन राठौड़ और किरोड़ी मीणा ने दिया इस्तीफा, 'बाबा' पर सस्पेंस!

राजस्थान बीजेपी में विधायकों के लिए दो पावर सेंटर बने हुए हैं. हालांकि राजस्थान में सीएम की दौड़ में पूर्व वसुंधरा राजे, सांसद दिया कुमारी, केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह, अर्जुन राम मेघवाल, प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी, ओम बिरला, ओम माथुर और बाबा बालकनाथ के नाम चर्चा में हैं। अब यह देखना है कि बीजेपी संसदीय बोर्ड इन चेहरों में से ही सीएम तय करता है या फिर कोई नया चौंकाने वाला नाम सीएम हो सकता है.

Trending news