UKSSSC पेपर लीक घोटाला: कांग्रेस ने सरकार पर बोला तीखा हमला, उठाए ये 5 सवाल
topStories0hindi1323667

UKSSSC पेपर लीक घोटाला: कांग्रेस ने सरकार पर बोला तीखा हमला, उठाए ये 5 सवाल

UKSSSC Paper Leak Case: कांग्रेस के उप नेता प्रतिपक्ष भुवन कापड़ी ने कहा है कि UKSSSC मामला उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड दो राज्यों से जुड़ चुका है. अब वह दिन दूर नहीं जब उत्तराखंड को 'भ्रष्ट राज्य' कहा जाने लगेगा...

UKSSSC पेपर लीक घोटाला: कांग्रेस ने सरकार पर बोला तीखा हमला, उठाए ये 5 सवाल

UKSSSC Paper Leak Case: उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UKSSSC) के पेपर लीक घोटाले मामले को लेकर विपक्षी पार्टी कांग्रेस राज्य सरकार पर हमलावर होती नजर आ रही है. कांग्रेस ने पुष्कर सिंह धामी सरकार पर तीखा हमला बोला है. दरअसल, UKSSSC पेपर लीक केस में CBI जांच की मांग करते हुए कांग्रेस के उप नेता प्रतिपक्ष भुवन कापड़ी और हल्द्वानी विधायक सुमित ह्रदेश ने कहा कि इस घोटाले से देवभूमि कलंकित हो रही है. उनका कहना है कि अब वह दिन दूर नहीं है, जब उत्तराखंड को 'भ्रष्ट राज्य' के नाम से जाना जाएगा!

यह भी पढ़ें: Noida Supertech Twin Towers Demolition: धुआं-धुआं हुआ भ्रष्टाचार का TOWER! ऐतिहासिक है नजारा...

UKSSSC मामले में कांग्रेस का राज्य सरकार से सवाल
उप नेता प्रतिपक्ष भुवन कापड़ी ने बयान देते हुए कहा है कि अब UKSSSC मामला उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड दो राज्यों से जुड़ चुका है. ऐसे में कांग्रेस के कुछ सवाल हैं, जिसका जवाब सरकार से मांगा जा रहा है. 

कांग्रेस के ये 5 बड़े सवाल
पहला सवाल:
मामले की तह तक जाने के लिए आखिर CBI जांच क्यों नहीं की जा रही है?
दूसरा सवाल: क्या STF बड़े लोगों के गिरहबान तक पहुंच पाएगी?
तीसरा सवाल: जीरो टॉलरेंस का वादा करने वाली सररकार में UKSSSC जैसा घोटाला हुआ तो, सरकार को बर्खास्त क्यों नहीं किया जा रहा?
चौथा सवाल: UKSSSC मामले की जांच CBI और इससे जुड़े लोगों की जांच ED क्यों नहीं कर रही है?
पांचवां सवाल: जब पश्चिम बंगाल में हुए शिक्षक भर्ती घोटाले की जांच CBI कर सकती है, तो UKSSSC की जांच क्यों नहीं?

यह भी पढ़ें: IND vs PAK Asia Cup 2022 Today Match Prediction: एशिया कप में आज आमने-सामने होंगे भारत-पाक, मजबूत ड्रीम 11 टीम के लिए इन खिलाड़ियों को चुनें

UKSSSC मामले में हुई 26वीं गिरफ्तारी
हाल ही में UKSSSC की ग्रेजुएशन लेवल भर्ती परीक्षा के पेपर लीक केस में उत्तराखंड एसटीएफ ने आरोपी शशिकांत को गिरफ्तार किया है. उसपर नैनीताल के धनाचुली बैंड के पास एक रिजॉर्ट में 35 अभ्यर्थियों को नकल कराने का है आरोप है. बताया जा रहा है कि आरोपी शशिकांत के पास हल्द्वानी, अल्मोड़ा, चंपावत और पिथौरागढ़ में सरकारी परीक्षाओं की तैयारी कराने के सेंटर्स हैं. शशिकांत यूपी के चंदौली का रहने वाला है. इससे पहले पुलिस ने लखनऊ के RMS टेक्नो सल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड प्रिंटिंग प्रेस के मालिक राजेश चौहान को गिरफ्तार कर लिया. यह इस केस का 25वां अरेस्ट था. जानकारी मिल रही थी कि राजेश चौहान पर 2 करोड़ रुपये लेकर पेपर लीक करने का आरोप है. अब उससे और बातें निकलवाकर और सबूतों के आधार पर एसटीएफ जल्द ही और भी बड़ी गिरफ्तारियां करने की बात कह रही है.

एसटीएफ ने आरोपियों से की यह अपील 
बता दें, उत्तराखंड एसटीएफ ने यह ऐलान किया है कि जिन उम्मीदवारों ने सचिवालय रक्षक परीक्षा में अनुचित साधनों का इस्तेमाल कर एग्जाम पास किया है, उन्हें चिन्हित कर लिया गया है. इसलिए ऐसे अभ्यर्थी खुद ही आगे आकर अपना बयान दर्ज करा लें. अगर ऐसा करते हैं तो विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी.

यह भी पढ़ें: Ind-Pak Match से पहले मौसम को लेकर बड़ा अपडेट! क्या दुबई में बारिश डालेगी खलल?

हरियाणवी गाने 'देखकर फिटिंग तेरे सूट-सलवार की...' पर लड़की ने मटकाई गजब की कमर, देख घायल हुए लोग

 

Trending news