Telangana Board Exam: एक मिनट की देरी से आने पर नहीं मिली थी EXAM सेंटर में एंट्री, छात्र के सुसाइड के बाद बोर्ड का बड़ा फैसला
Advertisement

Telangana Board Exam: एक मिनट की देरी से आने पर नहीं मिली थी EXAM सेंटर में एंट्री, छात्र के सुसाइड के बाद बोर्ड का बड़ा फैसला

Telangana News: परीक्षा अधिकारी इस नियम को सख्ती से लागू कर रहे थे कि एक मिनट भी देरी से पहुंचने वालों को परीक्षा केंद्रों में प्रवेश की इजाजत नहीं दी जाएगी. ऐसे में कई एक्जामिनेशन सेंटर्स पर एक मिनट देर से आने की अनुमति नहीं मिलने पर बहुत से छात्रों को रोते हुए देखा गया था.

Telangana Board Exam: एक मिनट की देरी से आने पर नहीं मिली थी EXAM सेंटर में एंट्री, छात्र के सुसाइड के बाद बोर्ड का बड़ा फैसला

Telangana Board Exam news: तेलंगाना राज्य इंटरमीडिएट शिक्षा बोर्ड (TSBIE) ने चल रही इंटरमीडिएट परीक्षाओं में बैठने वाले छात्रों को पांच मिनट की छूट अवधि देने का ऐलान किया है. बोर्ड ने आदिलाबाद जिले में एक छात्र की आत्महत्या के बाद नियम में संशोधन किया. उसे कथित तौर पर एक मिनट देर से परीक्षा देने की अनुमति नहीं दी गई थी. छात्र समुदाय और अभिभावकों की आलोचना के बाद बोर्ड ने अपरिहार्य परिस्थितियों के कारण देरी से पहुंचने वाले छात्रों को पांच मिनट की छूट देने का फैसला किया है.

छात्रों को बड़ी राहत

28 फरवरी से राज्य भर में शुरू हुई इंटरमीडिएट सार्वजनिक परीक्षाओं में 11वीं और 12वीं कक्षा के लगभग 10 लाख छात्र शामिल हो रहे हैं.
परीक्षा प्रतिदिन सुबह 9 बजे शुरू होती है. परीक्षा अधिकारी इस नियम को सख्ती से लागू कर रहे थे कि एक मिनट भी देरी से पहुंचने वालों को परीक्षा केंद्रों में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी. कुछ परीक्षा केंद्रों पर एक मिनट देर से आने की अनुमति नहीं मिलने पर छात्रों को रोते हुए देखा गया.

परीक्षा केंद्रों तक पहुंचने के लिए सार्वजनिक परिवहन पर निर्भर रहने वाले छात्र इस नियम से बुरी तरह प्रभावित हुए. टीएसआरटीसी बसों की अनुपलब्धता, ट्रैफिक जाम या किसी अन्य अपरिहार्य कारण से पहुंचने में असमर्थ छात्रों को छूट नहीं देने के लिए बोर्ड की आलोचना हुई.

छात्र ने की थी आत्महत्या

आदिलाबाद जिले में इंटरमीडिएट प्रथम वर्ष के छात्र टी. शिवकुमार (18) ने 29 फरवरी को एक मिनट देर से आने के कारण परीक्षा केंद्र में प्रवेश की अनुमति नहीं मिलने पर अपनी जान दे दी. हालांकि, अधिकारियों ने कहा कि छात्र परीक्षा केंद्र पर नहीं आया था. उन्हें संदेह है कि परीक्षा संबंधी तनाव के कारण उसने यह कदम उठाया होगा.

19 मार्च तक चलेंगी परीक्षाएं

परीक्षा के लिए कुल 9,80,978 छात्रों ने आवेदन किया है. जहां 4,78,718 छात्र प्रथम वर्ष की परीक्षा दे रहे हैं, वहीं 5,02,260 छात्र दूसरे वर्ष की परीक्षा देंगे. परीक्षाएं 19 मार्च तक चलेंगी. इस बीच, बोर्ड ने यह भी घोषणा की कि उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन 4 मार्च से किया जाएगा. मूल्यांकन अभ्यास 24 मार्च को पूरा किया जाएगा.

(इनपुट: PTI)

Trending news