Nokha Chunav Result 2023: कौन बनेगा नोखा का विधायक?
trendingNow,recommendedStories1/india/rajasthan/rajasthan1988508

Nokha Chunav Result 2023: कौन बनेगा नोखा का विधायक?

Nokha Vidhan Sabha Chunav Result 2023: राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 को लेकर 25 नवंबर को मतदान हुआ, जिसका रिजल्ट 3 दिंसबर को आने वाला है. ऐसे में देखते हैं कि इस बार नोखा का विधायक कौन बनेगा? 

Nokha Chunav Result 2023: कौन बनेगा नोखा का विधायक?

Nokha Vidhan Sabha Chunav Result 2023: मरुधरा का 2023 विधानसभा चुनावी रण 25 नवंबर को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुआ. राजस्थान विधानसभा चुनाव 2023 के लिए राजस्थान के लाखों मतदाताओं ने शांति के साथ अपना वोट कास्ट किया. 25 नवंबर को 199 विधानसभाओं के प्रत्याशियों की किस्मत वोटर्स ने वोट के जरिए EVM कैद की. 

इस दौरान महिलाओं-पुरुषों से लेकर के हर उम्र के लोगों में मतदान के महापर्व को लेकर के काफी उत्साह नजर आया और लोगों ने बड़ी सहभागिता के साथ इसमें बढ़ चढ़कर मतदान किया इस दौरान वॉटर का उत्साह देखते ही बन रहा था लेकिन अब बारी है काउंटिंग की. काउंटिंग को लेकर के जहां प्रत्याशियों के दिलों की धड़कनें बढ़ी हुई हैं, वहीं वोटर्स इस बात को जानने के लिए काफी एक्साइटेड हैं कि अगले 5 साल के लिए किस वह अपनी समस्याओं का निवारण करवाएंगे? 

यह भी पढ़ें- Rajasthan Exit polls results 2023: एग्ज़िट पोल के रूझानों के बाद वोटों की गिनती का इंतजार, जानिए BJP-कांग्रेस नेताओं के रिएक्शन

बीकानेर की नोखा विधानसभा सीट पर साल 2018 में 45 फीसदी वोटिंग हुई थी. और बीजेपी के बिहारी लाल विश्नोई ने कांग्रेस के किसान नेता रामेश्वर लाल डूडी को 8 हजार से ज्यादा वोटों से हराया था. इस बार कांग्रेस ने चुनावी मैदान में रामेश्वर लाल डूडी की पत्नी सुशीला डूडी को टिकट देकर मुकाबला दिलचस्प बना दिया है. बीजेपी की तरफ से यहां फिर से बिहारी लाल विश्नोई मैदान में है. आपको बता दें कि बीकानेर संसदीय क्षेत्र से बीजेपी के अर्जुन राम मेघवाल ने कांग्रेस के मदगोपाल मेघवाल को बड़े मार्जिन से हराया था.

यह भी पढ़ें- Rajasthan Election 2023: दिव्यांग मतदाताओं ने किया 76.16 प्रतिशत मतदान, 2018 में रहा था 19.02%

बता दें कि राजस्थान विधानसभा चुनावी रण में बीजेपी और कांग्रेस के बीच जबरदस्त टक्कर हो है. देखना तो यह है कि कौन सी पार्टी अपनी सरकार बनाएगी?वैसे बीजेपी कांग्रेस समेत बाकी पार्टियों ने भी प्रचार प्रसार करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है. सभी ने अपने स्टार प्रचारक को के जरिए दिन रात ताबड़तोड़ रैलियां चुनावी सभाएं और रोड शोज किए हैं.

Trending news