Chhattisgarh Election Result: छत्तीसगढ़ में मतगणना की तैयारियां पूरी, 12 से 30 राउंड में होगी वोटों की गिनती
trendingNow,recommendedStories0/india/bihar-jharkhand/bihar1984809

Chhattisgarh Election Result: छत्तीसगढ़ में मतगणना की तैयारियां पूरी, 12 से 30 राउंड में होगी वोटों की गिनती

Chhattisgarh Election Result: छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव की 3 दिसंबर को होने वाली मतगणना के लिए तैयारी पूरी हो गई है. राज्य की 90 विधानसभा सीटों की मतगणना सभी 33 जिला मुख्यालयों में होगी और 12 से 30 राउंड में मतगणना होगी.

Chhattisgarh Election Result: छत्तीसगढ़ में मतगणना की तैयारियां पूरी, 12 से 30 राउंड में होगी वोटों की गिनती

पटना: Chhattisgarh Election Result: छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव की 3 दिसंबर को होने वाली मतगणना के लिए तैयारी पूरी हो गई है. राज्य की 90 विधानसभा सीटों की मतगणना सभी 33 जिला मुख्यालयों में होगी और 12 से 30 राउंड में मतगणना होगी. मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी रीना बाबासाहेब कंगाले ने बताया कि सभी मतगणना केंद्रों में प्रेक्षकों की निगरानी में होने वाली मतगणना के लिए प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के लिए 14 टेबल लगाए गए हैं. वोटों की गिनती सुबह 8 बजे से शुरू होगी, जिसमें सबसे पहले सेवा मतदाताओं के मतों की गणना होगी. इसके साथ ईटीपीबीएस (इलेक्ट्रॉ़निकली ट्रांसमिटेड पोस्टल बैलेट सिस्टम) से प्राप्त मतों के क्यूआर कोड की स्कैनिंग की जाएगी. उसके बाद डाक मतपत्रों की गिनती शुरू होगी.

8.30 बजे के बाद सभी टेबलों पर एक साथ मतगणना शुरू होगी. प्रदेश की 90 विधानसभा सीटों में से कवर्धा में सबसे अधिक 30 चक्रों में मतगणना होगी. इसके बाद कसडोल में 29 चक्र होंगे. वहीं, सबसे कम मनेन्द्रगढ़ एवं भिलाई नगर में 12 चक्रों में मतगणना होगी. कंगाले ने बताया कि कड़ी सुरक्षा के बीच मतगणना केन्द्रों में होने वाली मतों की गिनती के दौरान बिना प्राधिकार पत्र के किसी भी व्यक्ति को कक्ष में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी.

बता दें कि 1181 उम्मीदवारों के राजनीतिक भाग्य का फैसला 7 नवम्बर और 17 नवम्बर को ईवीएम में बंद हो गया था. आगामी 3 दिसम्बर को वोटों की गिनती के साथ ही इनके रिजल्ट आ जाएंगे. वोटों की गिनती के दौरान उम्मीदवार किसी भी टेबल पर जाकर मतगणना को देख सकेंगे, जबकि उम्मीदवार के अभिकर्ता सिर्फ निर्धारित टेबल पर ही मतगणना का निरीक्षण करेंगे.

मतगणना की पूरी कार्यवाही मतगणना प्रेक्षक तथा सामान्य प्रेक्षक की उपस्थिति तथा निगरानी में होगी. इस दौरान प्रत्येक राउंड की समाप्ति पर अभ्यर्थी या उनके अभिकर्ता की उपस्थिति एवं प्रेक्षक की निगरानी में रैंडम आधार पर किसी दो कंट्रोल यूनिट की जांच की जाएगी. इसके अलावा सभी चक्रों की गणना पूर्ण होने पर पांच वोटर वेरीफाएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपैट) का ड्रॉ के माध्यम से चयन कर मतों का सत्यापन किया जाएगा.

इनपुट- आईएएनएस

ये भी पढ़ें- Rajasthan Election 2023 Result: राजस्थान में किसकी बनेगी सरकार, जानें कब आएगा इस पर फैसला

Trending news