Amla ke Side Effects: इन 4 बीमारियों के मरीज भूलकर भी न करें आंवले का सेवन, फायदा नहीं केवल होगा नुकसान
topStories1hindi1466753

Amla ke Side Effects: इन 4 बीमारियों के मरीज भूलकर भी न करें आंवले का सेवन, फायदा नहीं केवल होगा नुकसान

Amla ke Nuksan: आंवले का सेवन वैसे तो सेहत के लिए अच्छा माना जाता है लेकिन 4 रोगों से पीड़ित मरीजों को इसका सेवन भूलकर भी नहीं करना चाहिए. आइए जानते हैं कि वे 4 रोग कौन से हैं.

Amla ke Side Effects: इन 4 बीमारियों के मरीज भूलकर भी न करें आंवले का सेवन, फायदा नहीं केवल होगा नुकसान

Amla Side Effects: शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में आंवला को बहुत फायदेमंद माना जाता है. हरे रंग के नींबू के आकार वाले इस फल का स्वाद खट्टा होता है. इसमें विटामिन-सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है. झड़ते बालों को रोकने, आंखों की रोशनी और स्किन को साफ रखने के मामले में इसे बहुत उपयोगी माना जाता है. इसे आप चटनी, कैंडी, लड्डू या मुरब्बे में खा सकते हैं. हालांकि 3 ऐसी बीमारी हैं, जिसके मरीजों को इसका सेवन भूलकर भी नहीं करना चाहिए. वर्ना आपको फायदे की जगह नुकसान हो सकता है. 

इन बीमारियों में न करें आंवले का सेवन (Side Effects of Gooseberry)

सर्दी जुकाम से पीड़ित न खाएं आंवला

आंवले की तासीर ठंडी होती है, इसलिए सर्दी-जुकाम (Sardi- Jukam)या बुखार से पीड़ित लोगों को इसका सेवन कभी नहीं करना चाहिए. अगर आप तबियत खराब होने के बावजूद इसका सेवन करते हैं तो यह आपके बॉडी टेंपरेचर को और गिरा सकता है, जिससे आप अस्पताल पहुंच सकते हैं. 

लो ब्लड शुगर से पीड़ित मरीज

जो लोग एंटी-बायोटिक दवाओं का सेवन करते हैं, उन्हें आंवले को खाने से बचना चाहिए. इसी तरह लो ब्लड शुगर के मरीजों को भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए. ऐसा करने से आपकी तबियत और बिगड़ सकती है, जिससे आप गंभीर रूप से बीमार हो सकते हैं. 

किडनी रोगियों के लिए आंवला नुकसानदेह

जो लोग किडनी की बीमारी से पीड़ित हैं, उन्हें आंवले का सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए. इसकी वजह ये है कि आंवला खाने से शरीर में सोडियम की मात्रा बढ़ जाती है, जिसे फिल्टर कर पाना किडनी के लिए मुश्किल हो जाता है. ऐसे में किडनी फेलियर की नौबत भी आ सकती है. 

सर्जरी से 2 हफ्ते पहले बंद कर दें आंवला खाना  

जिन लोगों की किसी भी तरह की बीमारी की सर्जरी होने वाली हो, उन्हें ऑपरेशन से 2 सप्ताह पहले आंवले का सेवन पूरी तरह बंद कर देना चाहिए. ऐसा न करने पर आपकी रक्त धमनियां फट सकती हैं और ब्लीडिंग का खतरा बढ़ जाता है. 

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी घरेलू नुस्खों और सामान्य जानकारियों पर आधारित है. इसे अपनाने से पहले चिकित्सीय सलाह जरूर लें. ZEE NEWS इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi - अब किसी और की ज़रूरत नहीं

Trending news