Sri Ganganagar: ताले में बंद आयुर्वेदिक विभाग की स्वास्थ्य सेवाएं, मरीज निराश
trendingNow,recommendedStories1/india/rajasthan/rajasthan1688011

Sri Ganganagar: ताले में बंद आयुर्वेदिक विभाग की स्वास्थ्य सेवाएं, मरीज निराश

रायसिंहनगर ब्लॉक के एकमात्र राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय में स्वास्थ्य सेवाओं पर ताले लटके हुए हैं.लगातार इस आयुर्वेदिक चिकित्सालय में पहुंचने वाले मरीजों को निराश होकर लौटना पड़ रहा है .क्योंकि मुख्य गेट पर तालाबंदी काफी दिन से नजर आ रही है.जिसको लेकर विभाग के अधिकारी गंभीर रहे

Sri Ganganagar: ताले में बंद आयुर्वेदिक विभाग की स्वास्थ्य सेवाएं, मरीज निराश

Sri Ganganagar news: रायसिंहनगर ब्लॉक के एकमात्र राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय में स्वास्थ्य सेवाओं पर ताले लटके हुए हैं.लगातार इस आयुर्वेदिक चिकित्सालय में पहुंचने वाले मरीजों को निराश होकर लौटना पड़ रहा है .क्योंकि मुख्य गेट पर तालाबंदी काफी दिन से नजर आ रही है.जिसको लेकर विभाग के अधिकारी गंभीर रहे है. आयुर्वेदिक विभाग के अधिकारियों को इस मामले में जानकारी होने के बावजूद भी संबंधित स्टॉफ पर कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है. 

गौरतलब है कि वार्ड नंबर 3 में राजकीय स्कूल बंद होने के बाद यहां पर आयुर्वेदिक चिकित्सालय को यह जगह आवंटित की गई थी. लेकिन लंबे समय से यहां प्राप्त रुप से अस्पताल का संचालन नहीं हो रहा है. मरीजों को आयुर्वेदिक दवाइयों का लाभ भी नहीं मिल रहा है.मामले को लेकर प्रशासन को भी अवगत करवाया गया है .वहीं अब देखना होगा कि प्रशासन इस मामले में क्या सख्त एक्शन दिखाता है . गौरतलब है कि लंबे समय से आयुर्वेदिक चिकित्सालय में रिक्त पदों पर भी भर्ती की गई है. 

ये भी पढ़ें- Sirohi: CP जोशी ने की बस स्टेण्ड और रेलवे स्टेशन पर सफाई, PM मोदी की जनसभा में आने का दिया आमंत्रण

साथ ही प्राप्त रूप से राज्य सरकार द्वारा मरीजों को देने के लिए दवाइयां भी उपलब्ध करवाई जा रही है .लेकिन तालों में बंद इस स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ इन दिनों नहीं मिल रहा है.जिसको लेकर आमजन में भी स्वास्थ्य विभाग में सरकार के प्रति निराशा है .मामले को लेकर उपखंड अधिकारी प्रतीक चंद्रशेखर को भी पूरे प्रकरण से अवगत करवाया गया है.जिसमें प्रशासन द्वारा उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया गया है. उपखंड अधिकारी ने कहा कि यह मामला अभी संज्ञान में आया है इस मामले में जल्द ही उचित कार्रवाई की जाएगी. ताकि मरीजों को पूरी तरह से स्वास्थ्य सेवाओं का लाभ मिल सके.

ये भी पढ़ें- जयपुर में राजस्थान डोमेस्टिक ट्रैवल मार्ट का पहला रोड शो,  14 से 16 जुलाई तक तीसरा संस्करण

Trending news