डीएलबी ने दिया बस्सी अधिशासी अधिकारी को कारण बताओ नोटिस, 3 दिन में मांगा जवाब
topStories1rajasthan1267304

डीएलबी ने दिया बस्सी अधिशासी अधिकारी को कारण बताओ नोटिस, 3 दिन में मांगा जवाब

राज्य सरकार के स्वायत्त शासन विभाग (डीएलबी) ने बस्सी के अधिशासी अधिकारी को कारण बताओ नोटिस देते हुए तीन दिन में बस स्टैंड के पास खटक मौहल्ला में हुए अतिक्रमण की तथ्यात्मक रिपोर्ट और स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिए है. 

डीएलबी ने दिया बस्सी अधिशासी अधिकारी को कारण बताओ नोटिस, 3 दिन में मांगा जवाब

Bassi: राज्य सरकार के स्वायत्त शासन विभाग (डीएलबी) ने बस्सी के अधिशासी अधिकारी को कारण बताओ नोटिस देते हुए तीन दिन में बस स्टैंड के पास खटक मौहल्ला में हुए अतिक्रमण की तथ्यात्मक रिपोर्ट और स्पष्टीकरण देने के निर्देश दिए है. 

यह भी पढ़ें - पीएम-किसान के लाभार्थी के लिए खुशखबरी, इस तारीख तक करा लें ई-केवाईसी का सत्यापन

डीएलबी की सहायक निर्देशक ने नोटिस में बताया कि बस स्टैंड के पास खटीक मोहल्ले के चौक में एक परिवार के कुछ लोगों ने अतिक्रमण कर लिया है. इसकी समय-समय पर जांच करने के निर्देश देने के बावजूद भी बस्ती नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी ने कार्रवाई नहीं की है, ऐसे में सरकार ने प्रकरण को गंभीर मानते हुए अधिशासी अधिकारी को तीन दिन में कारण बताओ नोटिस का जवाब देने के लिए नोटिस दिया है. 

नोटिस में लिखा है कि इच्छा अतिक्रमण की तथ्यात्मक रिपोर्ट और स्पष्टीकरण अविलंब विभाग को भिजवाए अन्यथा आपके विरुद्ध नियमानुसार अनुशासनात्मक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी. नोटिस में यह भी कहा गया है कि आपका आचरण राजकीय कार्यों के प्रति उदासीनता और उच्च अधिकारियों के निर्देशों का उल्लंघन है.

क्या है मामला
बस्सी बस स्टैंड के पास खटीक मोहल्ले के सार्वजनिक चौक में भगवान सहाय, अशोक कुमार खटीक ने 149.53 मीटर भूमि पर अतिक्रमण कर दो मंजिल का अवैध रूप से मकान बना लिया है. इसकी जांच स्वायत शासन विभाग के शासन सचिव जोगाराम ने तत्कालीन अधिशासी अधिकारी अजय कुमार से कराई. इस पर तत्कालीन ईओ ने विभाग के सचिव जोगाराम को भेजी 17 मई 2022 की रिपोर्ट में बताया कि भगवान सहाय और उसके परिवार ने करीब 149. 52 मीटर भूमि पर अतिक्रमण कर दो मंजिल का मकान बना लिया है, जिस पर नगरपालिका कार्रवाई करेगी लेकिन कार्रवाई नहीं करने से स्वायत शासन विभाग ने कठोर कदम उठाते हुए अधिशासी अधिकारी पर ही कार्रवाई करने का मन बना लिया है.

इनका कहना कि - 
अतिक्रमण का मामला मेरी जानकारी में नहीं है और ना ही मेरे पास कोई नोटिस की जानकारी है. नोटिस कहां से आया, आपके पास आया जानकारी नहीं, आप हमे भी व्हाट्सएप कर दें, जिससे देखकर जानकारी बता पाएंगे.

Reporter: Amit Yadav

जयपुर की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

अन्य बड़ी खबरें

राहुल गांधी के बाद अब सोनिया गांधी से ED करेगी पूछताछ, संसद से सड़क तक कांग्रेस दिखाएगी ताकत, सीएम गहलोत भी होंगे शामिल

फॉरेन ट्रिप पर हुआ प्यार का अहसास, ब्लैक कॉल्स से बनी बात, डिज़नी वंडरलैंड जैसी प्रिंसेस दीया कुमारी की लव स्टोरी

REET EXAM: 23-24 जुलाई को होगी रीट परीक्षा, सुरक्षा तैयारियों को लेकर जयपुर पुलिस अलर्ट

Trending news