MCD Election: दिल्ली नगर निगम चुनाव में बीजेपी लगाएगी जीत का चौका या आप को मिलेगा मौका, कल हटेगा पर्दा
topStories1hindi1473443

MCD Election: दिल्ली नगर निगम चुनाव में बीजेपी लगाएगी जीत का चौका या आप को मिलेगा मौका, कल हटेगा पर्दा

Election 2022: नगर निगम चुनाव में आम आदमी पार्टी, बीजेपी और कांग्रेस के बीच त्रिकोणीय मुकाबला देखा गया. आप और बीजेपी दोनों ने भरोसा जताया है कि वे चुनावों में विजयी होंगे, जबकि कांग्रेस खोई हुई जमीन हासिल करने की कोशिश कर रही है.

MCD Election: दिल्ली नगर निगम चुनाव में बीजेपी लगाएगी जीत का चौका या आप को मिलेगा मौका, कल हटेगा पर्दा

MCD Election Result 2022: दिल्ली नगर निगम यानी एमसीडी चुनाव के नतीजे बुधवार (7 दिसंबर) को आएंगे. दिल्ली में चार दिसंबर को हुए चुनाव में 50.48 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया था. एमसीडी में 250 वार्ड हैं और इस चुनाव में 1,349 उम्मीदवार मैदान में हैं. नगर निगम चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप), बीजेपी और कांग्रेस के बीच त्रिकोणीय मुकाबला देखा गया. ‘आप’ और बीजेपी दोनों ने भरोसा जताया है कि वे चुनावों में विजयी होंगे, जबकि कांग्रेस खोई हुई जमीन हासिल करने की कोशिश कर रही है. बीजेपी पिछले 15 वर्षों से नगर निगम की सत्ता में है. 

‘आप’ और उसके नेता अरविंद केजरीवाल के लिए चुनाव महत्वपूर्ण हैं क्योंकि वे देश में 2024 के आम चुनावों से पहले पार्टी का विस्तार चाहते हैं. बीजेपी ने एमसीडी चुनाव के प्रचार के लिए अपने शीर्ष नेताओं को मैदान में उतारा था. इनमें पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे. पी. नड्डा और राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी तथा पीयूष गोयल जैसे 19 केंद्रीय मंत्री और छह राज्यों के मुख्यमंत्री शामिल हैं. बीजेपी को 2020 के दिल्ली विधानसभा चुनावों में ‘आप’ के हाथों हार का सामना करना पड़ा था और उसने 70 में से सिर्फ आठ सीटें जीती थीं. 

एमसीडी चुनाव में मतदान करने वाली महिलाओं के लिए साफ-सफाई, पार्क का रख-रखाव और पार्किंग सुविधाओं का अभाव चिंता के मुख्य मुद्दे थे. दिल्ली में 2012-2022 तक 272 वार्ड थे और तीन निगम - उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी), दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) और पूर्वी दिल्ली नगर निगम (ईडीएमसी) थे. तीनों नगर निगमों के फिर से एकीकृत होने के बाद एमसीडी औपचारिक रूप से 22 मई को अस्तित्व में आया था.

वर्ष 1958 में स्थापित एमसीडी को 2012 में तत्कालीन मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के कार्यकाल के दौरान तीन भागों में बांट दिया गया था. वर्ष 2017 में हुए नगर निगम चुनाव में बीजेपी ने 270 वार्ड में से 181 वार्ड में जीत हासिल की थी. उस वर्ष हुए चुनाव में लगभग 53 प्रतिशत मतदान हुआ था. प्रत्याशियों के निधन के कारण दो सीट पर मतदान नहीं हो सका था. ’आप’ ने 48 और कांग्रेस ने 27 वार्ड में जीत दर्ज की थी. 

मतगणना की तैयारियां पूरी

चुनाव के मतों की गिनती की तैयारियां पूरी कर ली गई और बुधवार को होनी वाली मतगणना के लिए 42 केंद्र बनाए गए हैं. अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि कड़ी सुरक्षा के बीच बुधवार को मतगणना सुबह आठ बजे शुरू होगी.

राज्य निर्वाचन आयोग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, हमने कल होने वाली मतगणना के लिए तैयारी पूरी कर ली है. 42 मतगणना केंद्र बनाए गए हैं. कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच वोटों की गिनती की जाएगी. मतगणना केंद्र शास्त्री पार्क, यमुना विहार, मयूर विहार, नंद नगरी, द्वारका, ओखला, मंगोलपुरी, पीतमपुरा, अलीपुर और मॉडल टाउन सहित क्षेत्रों में स्थित हैं. पुलिस अधिकारियों ने कहा कि सभी केंद्रों पर कड़ी सुरक्षा की गई है और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों की 20 कंपनियां और 10,000 से अधिक पुलिस कर्मियों को केंद्रों पर तैनात किया गया है.

एग्जिट पोल में आप की जीत का अनुमान

ज्यादातर एग्जिट पोल में सोमवार को दिल्ली नगर निगम चुनाव में आप की स्पष्ट जीत का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया, जबकि बीजेपी के दूसरे स्थान पर रहने का अनुमान जताया गया. ZEE NEWS के लिए एग्जिट पोल BARC ने किया. BARC के एग्जिट पोल के अनुसार, चुनाव में आप सबसे बड़ी पार्टी बन सकती है. आप को 134-146, बीजेपी को 82-94, कांग्रेस को 8-14 और अन्य को 14-19 सीटें मिल सकती हैं.

पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi - अब किसी और की ज़रूरत नहीं 

Trending news