भाई ज्यादा हीरो नहीं बनने का... सरफराज को कप्तान रोहित की ये हिदायत हर बाइक चलाने वाले के लिए है सबक
Advertisement

भाई ज्यादा हीरो नहीं बनने का... सरफराज को कप्तान रोहित की ये हिदायत हर बाइक चलाने वाले के लिए है सबक

Delhi Police Video: भारत और इंग्लैंड के बीच हो रहे टेस्ट मैच के दौरान रोहित शर्मा और सरफराज खान का एक वीडियो सोशस मीडिया पर वायरल हो रहा है. दिल्ली पुलिस ने भी उस वीडियो को पोस्ट कर खास संदेश दिया है. 

 

Delhi Police

India-England match:  दिल्ली- एनसीआर में कड़े कानूनों और जगह-जगह cctv से हो रहे चालान के बावजूद भी बिना हेलमेट के दोपहिया वाहन चलते मिल ही जाते हैं. बताया जा रहा है. कि पहाड़गंज का व्यस्त चौराहे पर हर दो मिनट में एक टू व्हीलर सवार बिना हेलमेट पहने चला आ रहा है. स्कूटर हो या बाइक, पीछे बैठे हुए इक्का दुक्का लोगों ने ही हेलमेट लगा रखा है. दिल्ली समेत पूरे देश में पिलियन राइडर यानी टू व्हीलर पर पीछे बैठने वाले व्यक्ति को भी हेलमेट लगाना अनिवार्य है, लेकिन सड़क की तस्वीर बताती है कि नियम का पालन नहीं हो रहा.

एम्स ट्रॉमा सेंटर में हुई एक स्टडी का कहना है, कि रोड एक्सीडेंट का शिकार होकर आने वाले दोपहिया सवारों में से 40 प्रतिशत पिलियन राइडर यानी पीछे बैठा व्यक्ति ही होता है. इनमें से ज्यादातर ने हेलमेट नहीं पहना होता. इससे भी बड़ी परेशानी की बात है कि ये ज्यादातर लोग 20 से 35 साल के बीच के यानी युवा होते हैं. एम्स ट्रामा सेंटर के हेड डॉ कामरान फारुखी के मुताबिक ज्यादातर लोग बिना हेलमेट,  सिर में गंभीर चोट लगने या बहुत खून बहने की वजह से मारे जाते हैं. 

 

 

हालांकि इन एक्सीडेंट्स में जान जाने वालों की संख्या 2 प्रतिशत थी, लेकिन 50 प्रतिशत को किसी ना किसी तरह की फ्रैक्टर या डिसेबिलीटी हो गई. इनमें से 5 से 10 प्रतिशत को परमानेंट नुकसान झेलना पड़ा. यानी वह पूरी तरह से कभी ठीक नहीं हो पाए. 

 

 

रांची में क्रिकेट टेस्ट मैच के दौरान भारतीय टीम इंग्लैंड के खिलाफ मैदान पर गेंदबाजी कर रही थी. तभी क्रिकेट कप्तान रोहित शर्मा ने पहले बॉलर आर अश्विन को बॉलिंग करने से रोका और सिली प्वाइंट पर मौजूद फील्डर सरफराज को कहा 'भाई ज्यादा हीरो नहीं बनने का'. दरअसल सरफराज बिना हेलमेट के फील्डिंग करने उतरे थे और ये खतरनाक साबित हो सकता था. रोहित शर्मा की आवाज स्ंटंप्स में लगे ऑडियो सिस्टम से बाहर पहुंची और वायरल हो गई. ये क्लिप तो वायरल हुई ही, ऐसे में दिल्ली पुलिस ने इस क्लिप को सही टाइमिंग के साथ इस्तेमाल कर लिया और हेलमेट की अहमियत एक बार फिर से बता दी. 

 

 

जनवरी से जुलाई 2023 के बीच एम्स ट्रामा सेंटर में कुल 3780 रोड एक्सीडेंट के मामले दर्ज हुए. जिसमें 9 हजार से ज्यादा लोग घायल हुए. कुल एक्सीडेंट में से 74% दो पहिया वाहन थे. 2022 में 5436 एक्सीडेंट के केस एम्स ट्रॉमा सेंटर लाए गए, जिनमें 15399 लोगों को चोटें आई थी. कुल एक्सीडेंट में से 70 प्रतिशत दोपहिया वाहन थे.

 

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक दुनिया भर में हर साल रोड एक्सीडेंट्स की वजह से 13 लाख लोग मारे जाते हैं और 5 करोड़ घायल होते हैं. हेलमेट ना पहनना और रॉग साइड ड्राइविंग करना एक्सीडेंट्स के दो बड़े कारण है जिसकी वजह से लोग अपनी जान गंवा रहे हैं. 

 

क्या आपको पता है कि हेलमेट पहने होने के बावजूद भी आपका 2 हजार रुपए तक का चालान हो सकता है. अगर हेलमेट ISI मार्क वाला नहीं हो तो एक हजार का चालान और अगर हेलमेट की बेल्ट गर्दन पर ठीक से कसी ना हो तो एक हजार का चालान हो सकता है. बताया जा रहा है, कि हेलमेट ना पहनने पर दिल्ली समेत कई राज्यों में एक हजार का चालान हो सकता है और लाइसेंस भी सस्पेंड हो सकता है. चालान की रकम राज्यों के हिसाब से अलग-अलग है.  

Trending news