Haryana News: पूर्व विधायक बोलीं, मध्य प्रदेश की हार में कुछ कमियां कांग्रेस की रही
trendingNow,recommendedStories0/india/delhi-ncr-haryana/delhiharyana2002583

Haryana News: पूर्व विधायक बोलीं, मध्य प्रदेश की हार में कुछ कमियां कांग्रेस की रही

Haryana News: Zee मीडिया संवाददाता से बातचीत करते हुए बल्लभगढ़ की पूर्व विधायक शारदा राठौर ने कहा कि हरियाणा की राजनीति अलग है.

Haryana News: पूर्व विधायक बोलीं, मध्य प्रदेश की हार में कुछ कमियां कांग्रेस की रही

Haryana News: राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना विधानसभा चुनावों में तीन राज्यों में जहां बीजेपी के लिए सरकार बनाने का रास्ता साफ हो गया है. वहीं, तेलंगाना में कांग्रेस को सरकार बनाने का मौका मिला है. अगले साल होने वाले लोकसभा चुनावों के लिए इन राज्यों के परिणामों को एक तरह से सेमीफाइनल के तौर पर देखा जा रहा है. जहां एक तरफ भाजपा में उत्साह है. बीजेपी तीन राज्यों में मिली बंपर जीत को मोदी जी को जीत की गारंटी बता रही है तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस ईवीएम पर ही सवाल उठाती नजर आ रही है.

ऐसे में मौजूदा चुनाव नतीजे को लेकर ज़ी मीडिया संवाददाता ने पूर्व सीपीएस कांग्रेस सरकार हरियाणा व पूर्व विधायक बल्लभगढ़ शारदा राठौर से खास बातचीत की. Zee मीडिया संवाददाता से बातचीत करते हुए बल्लभगढ़ की पूर्व विधायक शारदा राठौर ने कहा कि हरियाणा की राजनीति अलग है, जब 2018 में कांग्रेस की सरकार बनी, मध्य प्रदेश में भी जीते, छत्तीसगढ़ में भी कांग्रेस की सरकार बनी तब 2019 में हरियाणा में हमारी सरकार क्यों नहीं बनी.

हरियाणा के हालात पर उन्होंने कहा, हरियाणा की राजनीति अलग है. 9 साल के हरियाणा के कार्यकाल से जनता बहुत त्रस्त है. बहुत दुखी है. जनता की परेशानियां जाकर पूछेंगे तो पता चलेगा, जो हरियाणा का भाजपा नेतृत्व है वह बहुत ही गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं. जैसे तीन राज्यों में सरकार इन्हीं की वजह से आई हो.  हरियाणा में कांग्रेस की स्थिति बहुत मजबूत है. हमें वास्तविकता पता है, जब हरियाणा प्रदेश के चुनाव होंगे, तो हरियाणा में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनेगी. जनता हमारे साथ है.

कहीं न कहीं इस जीत में मोदी जी का पूरा श्रेय है. कांग्रेस टक्कर देने के लिए किसको लेकर आएंगे के सवाल का जवाब देते हुए पूर्व सीपीएस शारदा राठौर ने कहा कि मध्य प्रदेश में कुछ कमियां कांग्रेस की रही और ईवीएम में भी गड़बड़ हुई है. मुझे नहीं पता कहां धोखा दिया है. क्योंकि जो वैलेट पेपर के नतीजे निकले वह 199 कांस्टीट्यूएंसी में कांग्रेस पार्टी जीती.

राजस्थान में ट्रेंड है एक बार किसी और की सरकार बनती है दूसरी बार किसी और की सरकार बना देते हैं. छत्तीसगढ़ का हमें अवश्य दुख है कि छत्तीसगढ़ में हमारी सरकार नहीं बनी. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बहुत अच्छा किया, लेकिन हरियाणा में तो पिछले 9 साल से जनता जिस तरह भाजपा की नीतियों के विरोध में है तो मुझे नहीं लगता कि हरियाणा में इनको कामयाबी मिलेगी और चाहे लोकसभा के साथ चुनाव करवा ले. चाहे अलग चुनाव करवा लें. हरियाणा में कांग्रेस की सरकार बनने वाली है.t

INPUT- Amit Chaudhary

Trending news