Chanakya Niti: महिलाओं के बारे में ये बातें जानते हैं आप, जिनमें हो यह गुण उन्हें तुरंत बना लें जीवनसाथी
topStories0hindi1468025

Chanakya Niti: महिलाओं के बारे में ये बातें जानते हैं आप, जिनमें हो यह गुण उन्हें तुरंत बना लें जीवनसाथी

आचार्य चाणक्य के नीति शास्त्र में महिला, पुरुष, देश, समाज, सत्ता, अर्थव्यवस्था, विदेशों के साथ संबंध को लेकर सिद्धांत दिए गए हैं.

Chanakya Niti: महिलाओं के बारे में ये बातें जानते हैं आप, जिनमें हो यह गुण उन्हें तुरंत बना लें जीवनसाथी

Chanakya Niti : आचार्य चाणक्य के नीति शास्त्र में महिला, पुरुष, देश, समाज, सत्ता, अर्थव्यवस्था, विदेशों के साथ संबंध को लेकर सिद्धांत दिए गए हैं. चाणक्य ने अपने नीति शास्त्र के सिद्धांतों में स्त्री और पुरुष के बीच के संबंधों और परिवार में उनके रिश्ते कैसे हों और वह किन चीजों को जीवन में आत्मसात कर अपने औरप अपने परिवार के लिए खुशियां लाए इसके बारे में बताया गया है. आचार्य चाणक्य महान अर्थशास्त्री और कूटनीतिज्ञ थे. ऐसे में उनके बताए गए नीति शास्त्र के सिद्धांतों का लाभ सामान्य जीवन में भी लोगों को मिलता रहा है. 

चाणक्य के नीति शास्त्र की मानें तो स्त्रियों में पुरुषों से चार गुना ज्यादा बुद्धि,  6 गुना ज्यादा साहस और 8 गुना ज्यादा कामुकता होती है. इसके साथ ही स्त्रियां अपने परिवार को संभालकर रखने के मामले में पुरुषों से ज्यादा सक्षम होती हैं. वह रिश्तों की मर्यादा को समझती हैं और उसी के अनुरूप व्यवहार करती हैं. 

चाणक्य ने महिलाओं के बारे में कई बातें बताई है. उन बातों का स्त्री के जीवनकाल में खूब महत्व है हालांकि बदलते परिवेश में इन चीजों पर कोई खास ध्यान नहीं देता लेकिन अगर कोई इसे अपने जीवन में आत्मसात करता है तो उसे इसका फायदा जरूर मिलता है. 

चाणक्य की मानें तो महिलाओं को धार्मिक होना चाहिए, इससे उनका घर और परिवार सुरक्षित रहता है. वह ऐसा करने से संतुलित होती हैं और परिस्थितियों से सामंजस्य स्थापित करने की क्षमता उनमें आ जाती है. 

महिलाओं को मृदुभाषी होना चाहिए. चाणक्य के अनुसार अगर स्त्री मीठा बोलती हो तो वह भाग्यशाली मानी जाती हैं. वह परिवार में खुशियां लाती हैं और उसके संबंध सबसे बेहतर होते हैं. 
 
चाणक्य नीति के अनुसार जो महिलाओं को अनिवार्य रूप से धन संचय करना चाहिए. जो ऐसा करती हैं वह अपने परिवार पर अचानक आई विपत्ति से निपट सकती हैं.

चाणक्य कहते हैं महिला शांत स्वभाव हो तो अच्छा अगर वह कलह पसंद हो तो उसका साथ छोड़ देना चाहिए. ऐसा नहीं करने पर जीवन में जहर भर जाता है. 

चरित्रवान महिला हो तो परिवार का समय हमेशा सुख और समृद्धि से भरा होता है. वहां दुःख की छाया तक नहीं पड़ती. ऐसे में चरित्रवान महिलाओं को अपने परिवार के सुख से  और शांति से मतलब होता है. चाहे परिवार में धन का अभाव ही क्यों ना हो. 

चाणक्य कहते हैं कि आप अपने द्वारा किए गए दान को अपनी पत्नी से गुप्त रखें. क्योंकि पत्नी कई बार इसे फिजुलखर्ची बताकर आपको भला-बुरा कह सकती हैं. 

अगर किसी ने आपका अपमान किया है तो इसे भी छुपाकर रखें. क्योंकि पत्नी आपको इस अपमान का ताना देकर परेशानी करती रहेंगी. 

स्त्री से अपनी खुद की कमजोरी न बताएं. अगर पत्नी को आपकी कमजोरी का पता चल जाए तो वह आपकी उस कमजोरी का इस्तेमाल अपनी बात को मनवाने के लिए करेंगी. 

स्त्री से अपनी कमाई को छुपाकर रखना चाहिए. क्योंकि पत्नी इस कमाई को अपना अधिकार समझकर आपके खर्चे पर अंकुश लगाने लगेगी.

दया और करुण से भरी महिला हो तो फिर कहना ही क्या ऐसी महिलाएं परिवार के लिए लक्ष्मी के समान हैं. 

झूठ बोलना, अत्यधिक साहस, छल करना, बेवकूफी करना, लालच ये दोष जन्म से ही महिलाओं के स्वभाव में होते हैं. 

ये भी पढ़ें- Gold Price Today: बिहार में सोने के दामों में आई जबर्दस्त तेजी, जानें आज का रेट

Trending news