Chanakya Niti: जहां पर न हों ये पांच चीजें, आचार्य चाणक्य कहते हैं तुरंत छोड़ दें वह स्थान

Chanakya Niti for Women: जीनव में सफलता पाने और एक बेहतर इंसान बनने के लिए आचार्य चाणक्य के विचारों का पालन करने की सलाह दी जाती है. चाणक्य नीति में कहा गया है कि जिस स्थान पर ये पांच चीजें न हों, उसे तुरंत छोड़ देना चाहिए.

Written by - Zee Hindustan Web Team | Edited by - Zee Hindustan Web Team | Last Updated : Dec 2, 2022, 10:36 AM IST
  • ऐसी जगहों से दूर रहने में ही भलाई
  • देश में इन पांच चीजों को होना जरूरी
Chanakya Niti: जहां पर न हों ये पांच चीजें, आचार्य चाणक्य कहते हैं तुरंत छोड़ दें वह स्थान

नई दिल्ली. आचार्य चाणक्य ने अपनी नीति में आम लोगों के जीवन से संबंधित कई बातों को विस्तार से बताया है. चाणक्य नीति में बताई गई बातों का पालन करके व्यक्ति किसी भी परेशानी का आसानी से सामना कर सकता है. चाणक्य का कहना है कि जिस देश में आदर-सम्मान नहीं मिलता उस देश को तुरंत छोड़ देना चाहिए.

चाणक्य नीति के अनुसार, जिस देश में आजीविका का कोई साधन न हो, जहां कोई रिश्तेदार भी न हो और जहां किसी प्रकार के गुणों की प्राप्ति की संभावना न हो, ऐसे देश और स्थान पर रहना उचित नहीं है. आचार्य कहते हैं कि किसी अन्य देश या स्थान पर जाने का प्रयोजन वहां जाकर कोई नई बात, कोई नया रोजगार या कोई नया गुण सीखना होता है, लेकिन जहां इनमें से किसी बात की संभावना ही न हो, वहां रुकने का कोई मतलब नहीं होता है.

चाणक्य का कहना है कि जिस देश में वेद को जानने वाला ब्राह्मण, राजा, धनवान, वैद्य और नदी न हो, वहां एक दिन भी नहीं रुकना चाहिए. आचार्य कहते हैं कि धनवान लोगों से व्यापार में वृद्दि होती है. वेद को जानने वाले धर्म की रक्षा करते हैं. राजा न्याय और शासन व्यवस्ता को स्थिर रखता है. जल तथा सिंचाई के लिए नदी जरूरी है और वैद्य की आवश्यकता रोगों से छुटकारा पाने के लिए होती है. चाणक्य कहते हैं कि जहां पर ये पांच चीजें न हों, उस स्थान को त्याग देने में ही भलाई है.

(Disclaimer: यहां दी गई सभी जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. Zee Hindustan इसकी पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह जरूर ले लें.)

यह भी पढ़िए- घर की इस दिशा में भूलकर भी न लगाएं शीशा, उठानी पड़ जाएगी भारी मुसीबत

Zee Hindustan News App: देश-दुनिया, बॉलीवुड, बिज़नेस, ज्योतिष, धर्म-कर्म, खेल और गैजेट्स की दुनिया की सभी खबरें अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें ज़ी हिंदुस्तान न्यूज़ ऐप.

ज़्यादा कहानियां

ट्रेंडिंग न्यूज़