World Cup Final: वर्ल्ड कप फाइनल में कप्तान रोहित ने नहीं दिया मौका, अश्विन ने अब कही ये बात
trendingNow11986556

World Cup Final: वर्ल्ड कप फाइनल में कप्तान रोहित ने नहीं दिया मौका, अश्विन ने अब कही ये बात

Rohit Sharma Crying : भारतीय टीम को वनडे विश्व कप (ODI World Cup-2023) के फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने मात दी. टीम इंडिया के दिग्गज ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (R Ashwin) फाइनल मैच नहीं खेले, इसके बावजूद उन्होंने कप्तान रोहित शर्मा को सपोर्ट किया है.

World Cup Final: वर्ल्ड कप फाइनल में कप्तान रोहित ने नहीं दिया मौका, अश्विन ने अब कही ये बात

ODI World Cup Final : भारत की मेजबानी में वनडे विश्व कप (ODI World Cup-2023) खेला गया. हालांकि करोड़ों भारतीय क्रिकेट फैंस का सपना 19 नवंबर को उस समय टूट गया, जब फाइनल में ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया को हरा दिया. अब दिग्गज ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (R Ashwin) ने खुलासा किया है कि खिताबी मुकाबला हारने के बाद कप्तान रोहित शर्मा (Rohit Sharma) और धुरंधर विराट कोहली (Virat Kohli) ड्रेसिंग रूम में रोने लगे थे. उन्होंने साथ ही प्लेइंग-11 में उन्हें शामिल नहीं करने के बावजूद कप्तान रोहित को सपोर्ट किया.

आंसुओं को नहीं रोक पाए रोहित-विराट

ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने कहा कि हाल में वनडे विश्व कप (World Cup-2023) के अहमदाबाद में खेले गए फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के हाथों हार के बाद कप्तान रोहित शर्मा और स्टार बल्लेबाज विराट कोहली (Virat Kohli) ड्रेसिंग रूम में अपने आंसुओं को नहीं रोक पाए थे. ऑस्ट्रेलिया ने 19 नवंबर को खेले गए फाइनल में भारत को 6 विकेट से हराकर अपना छठा वनडे वर्ल्ड कप जीता. भारत की हार के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारतीय ड्रेसिंग रूम में गए और उन्होंने रोहित और कोहली का हौसला बढ़ाने की कोशिश की लेकिन अश्विन ने कहा कि ड्रेसिंग रूम का माहौल दिल तोड़ने वाला था.

ऐसा तो नहीं होना चाहिए था!

अश्विन ने अपने यूट्यूब चैनल पर पूर्व क्रिकेटर सुब्रमण्यम बद्रीनाथ के साथ बातचीत में कहा, ‘हम दर्द महसूस कर रहे थे. रोहित और विराट की आंखों में आंसू थे, ये देखकर बहुत बुरा लगा. कुछ भी हो, ऐसा नहीं होना चाहिए था. टीम बेहद अनुभवी थी और हर कोई जानता था कि क्या करना है.’ भारत भले ही विश्व कप नहीं जीत पाया लेकिन कोहली और रोहित ने आक्रामक बल्लेबाजी से प्रभावित किया. अश्विन ने एक बल्लेबाज और कप्तान के रूप में रोहित की तारीफ करते हुए कहा, ‘आप भारतीय क्रिकेट पर गौर करो, तो हर कोई यही कहेगा कि महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) सर्वश्रेष्ठ कप्तान हैं, लेकिन रोहित भी बेजोड़ इंसान है. वह टीम में हरेक खिलाड़ी के बारे में अच्छी समझ रखते हैं.’

कप्तान को किया सपोर्ट

अश्विन ने कहा, ‘रोहित को हर खिलाड़ी की पसंद-नापसंद पता है, उनकी समझ बहुत अच्छी है. हरेक खिलाड़ी को अच्छी तरह से समझने के लिए वह अपनी तरफ से कोशिश करते हैं.' अश्विन पूरे विश्व कप में केवल एक मैच खेले. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत के पहले मैच में चेन्नई में 34 रन देकर एक विकेट लिया. अश्विन से पूछा गया कि रोहित ने उन्हें फाइनल में उन्हें क्यों नहीं उतारा तो उन्होंने कप्तान का सपोर्ट किया और कहा कि विजयी टीम में बदलाव करना आसान नहीं होता है.

फाइनल नहीं खेलने पर रोहित के बारे में बोले अश्विन

उन्होंने कहा, ‘जहां तक मेरा फाइनल में खेलने का सवाल है तो टीम कॉम्बिनेशन अहम होता है बाकी चीज बाद में आती हैं. ये किसी और की जगह खड़े होकर चीजों को उसके नजरिए से देखने से जुड़ा है. अगर मैं रोहित की जगह होता तो मैं भी लगातार जीत हासिल कर रही टीम में बदलाव करने से पहले 100 बार सोचता. टीम में सब कुछ सही चल रहा था तो फिर क्यों एक पेसर को आराम देकर 3 स्पिनरों को खिलाया जाए. ईमानदारी से कहूं तो मैं रोहित की सोच को समझता था. फाइनल में खेलना बड़ी बात होती और मैं इसके लिए तैयार था लेकिन इसके साथ ही मैं बाहर बैठकर टीम का हौसला बढ़ाने और खिलाड़ियों तक पानी पहुंचाने के लिए भी तैयार था.’ (PTI से इनपुट)

Trending news