Ghaziabad News: हिंडन नदी में आई बाढ़ ने बुझाए दो घरों के चिराग, पानी में डूबने से दर्दनाक मौत
trendingNow,recommendedStories0/india/up-uttarakhand/uputtarakhand1793575

Ghaziabad News: हिंडन नदी में आई बाढ़ ने बुझाए दो घरों के चिराग, पानी में डूबने से दर्दनाक मौत

पहाड़ी इलाकों में लगातार हो रही तेज बरसात के कारण नदी उफान पर है. मैदानी इलाकों से गुजरने वाले नदी ने भारी तबाही मचा रखी है. लाखों लोगों का के जीवन पर नदियों में आई बाढ़ के कारण जीवन पर नकारात्मक प्रभाव पड़ा है. नदी के किनारे रह रहे सैकड़ों लोग अपना घर खाली करने को मजबूर हैं.

Two youths died drowning in Hindon

गाजियाबाद: पहाड़ी इलाकों में लगातार हो रही तेज बरसात के कारण नदी उफान पर है. मैदानी इलाकों से गुजरने वाले नदी ने भारी तबाही मचा रखी है. लाखों लोगों का के जीवन पर नदियों में आई बाढ़ के कारण जीवन पर नकारात्मक प्रभाव पड़ा है. नदी के किनारे रह रहे सैकड़ों लोग अपना घर खाली करने को मजबूर हैं. वहीं कई लोग अचानक आई इस बाढ़ में अपनी जान भी गवा चुके हैं. ऐसा ही एक अरु दर्दनाक मामला देखने को मिला है यूपी के गाजियाबाद में जहां हिंडन नदी के बड़े जलस्तर की चपेट में आने से दो लोगों कई दर्दनाक मौत हो गई. 

दो लोगों की दर्दनाक मौत 
गाजियाबाद हिंडन में जलस्तर बढ़ने से करहैड़ा इलाके में घुसा 4 से 5 फुट से ज्यादा पानी. कुछ जगहों में पानी का स्तर 8 से 10 फुट भी पहुंचा. करहेड़ा में बाढ़ के पानी में डूबने से दो युवकों की मौत हो गई. दोनों युवकों की उम्र 18 से 20 साल के बीच बताई जा रही है. प्रशासन ने एनडीआरएफ की मदद से दोनों युवकों के शव को बरामद कर लिया है. शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है.

आबादी वाले इलाके में भरा पानी 
गाजियाबाद में हिंडन का बढ़ा जल स्तर लोगो के लिए परेशानियों का सबब बन गया है. नदी में बाढ़ आई तो पानी आबादी वाले इलाकों में भरना शुरू हो गया है. साहिबाबाद थाना क्षेत्र स्थित हिंडन के करीब का करहेड़ा गांव और आस पास की कई कालोनिया हिंडन के बढ़े जलस्तर के कारण जल मग्न हो चुकी है और यहां लोग पलायन को मजबूर हैं. इस बाढ़ से यहां करीब 10 से 12 हजार लोग प्रभावित बताए जा रहे हैं. प्रशासन के साथ ही स्थानीय पुलिस भी यहां फंसे लोगों को लगातार बाहर निकालने की कोशिश में लगी है. एनडीआरएफ की टीम भी यहां लोगों को रेस्क्यू करने में जुटी हुई है.

लोग कर रहे पलायन 
पुलिस और एनडीआरएफ की टीमों द्वारा अब तक निकाला जा चुका है । इलाके के लोग जलभराव से हो रही परेशानियों के चलते अब यहां से पलायन कर रहे हैं. अत्यधिक मात्रा में बारिश होने के कारण हिंडन नदी में पीछे से पानी छोड़ा गया है, जिसके कारण नदी के आस पास के डूबे  क्षेत्रो और निचले इलाकों में बने मकानों में अत्यधिक पानी भर गया है. करहैड़ा स्थित प्राथमिक विद्यालय में जल भराव से प्रभावित लोगों के रहने की व्यवस्था की गई है, 

WATCH: भोलेनाथ की दीवानी हुई झांसी की गोल्डी, भगवान शिव से रचा ली शादी

Trending news