Kushinagar : जम्‍मू कश्‍मीर में आतंकियों के टारगेट किलिंग का शिकार बने यूपी के दो मजदूर, जानें पूरा मामला
topStories0hindi1439807

Kushinagar : जम्‍मू कश्‍मीर में आतंकियों के टारगेट किलिंग का शिकार बने यूपी के दो मजदूर, जानें पूरा मामला

जम्‍मू कश्‍मीर के अनंतनाग में शनिवार को आतंकियों ने बनाया निशाना. दोनों को वहीं के अस्‍पताल में भर्ती कराया गया. 

Kushinagar : जम्‍मू कश्‍मीर में आतंकियों के टारगेट किलिंग का शिकार बने यूपी के दो मजदूर, जानें पूरा मामला

प्रमोद कुमार/कुशीनगर : दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में शनिवार रात को एक बार फिर आतंकियों ने गैर कश्‍मीरी नागरिकों को निशाना बनाया. आतंकियों के हमले में यूपी के कुशीनगर के रहने वाले दो मजदूर घायल हो गए. दोनों घायलों का अस्‍पताल में इलाज चल रहा है. आतंकियों के हमले के बाद सुरक्षा बलों ने इलाके में सर्च अभियान चलाया. बताया गया कि 1 महीने के भीतर यह तीसरा मौका है जब गैर कश्‍मीरी नागरिक को निशाना बनाया गया है. 

रोजी रोटी के लिए गए थे कश्‍मीर 
आतंकियों ने अनंतनाग के राख-मोमिन इलाके में गोलीबारी कर प्रवासी मजदूरों को निशाना बनाया है. इस बार आतंकियों के निशाने पर दो मजदूर रहे, जिन्हें गोली मारी गई. दोनों घायल मजदूर कुशीनगर के रहने वाले हैं. एक की पहचान छोटू निवासी पुरैनी गांव और दूसरी की पहचान गोविंद निवासी धुरिया गांव के रूप में हुई है. दोनों का वहीं के एक अस्‍पताल में उपचार चल रहा है. 

पिता की राह ताक रहे बच्‍चे 
गोविंद की पत्‍नी माया ने बताया कि छोटू और गोविंद रोजी रोटी की तलाश में इसी साल मार्च में कश्‍मीर गए थे. वहां दोनों मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण कर रहे थे. दोनों मजदूर मुसहर समुदाय के हैं. वहीं, छोटू अपने ससुराल में परिवार के साथ कई सालों से रहता है. दोनों परिवार की आर्थिक स्थिति दूर करने के लिए जम्मू कश्मीर गए थे. घटना की सूचना के बाद पत्नी का रो रोकर बुरा हाल है. जबकि बच्चे पिता की राह ताक रहे हैं. अब परिवार को सरकार से उमीद है कि वह उनकी मदद करेगी. 

1 महीने में तीसरी घटना 
बताया गया कि आतंकियों ने पिछले एक महीने से भी कम समय में दक्षिण कश्मीर में तीन बार गैर कश्मीरी मजदूरों को निशाना बनाया गया है. इसमें छह मजदूर घायल हो गए. शनिवार को अनंतनाग की घटना से पहले 3 नवंबर को जिले के वनिहामा डायलगाम (बोंदियालगाम) में काम दिलाने के बहाने स्कूल से बाहर बुलाकर दो गैर कश्मीरियों को आतंकियों ने गोली मार दी थी. बिहार और नेपाल के रहने वाले दोनों निजी स्कूल में चपरासी का काम करते थे. इससे पहले 18 अक्तूबर को शोपियां में यूपी के दो मजदूरों पर ग्रेनेड हमला कर आतंकियों ने घायल कर दिया था.  

Trending news