Ghazipur: 'दगे कारतूस इकट्ठा कर रहे हैं Akhilesh Yadav', वोट लूटने के लिए गुंडे पालती थी कांग्रेस
topStories0hindi1599318

Ghazipur: 'दगे कारतूस इकट्ठा कर रहे हैं Akhilesh Yadav', वोट लूटने के लिए गुंडे पालती थी कांग्रेस

UP News: सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और गाजीपुर जहूराबाद सीट से विधायक ओमप्रकाश राजभर कल शाम को जंगीपुर विधानसभा के बगही गांव पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए सपा और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा.

Ghazipur: 'दगे कारतूस इकट्ठा कर रहे हैं Akhilesh Yadav', वोट लूटने के लिए गुंडे पालती थी कांग्रेस

गाजीपुर: सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और गाजीपुर जहुराबाद सीट से विधायक ओमप्रकाश राजभर कल शाम को जंगीपुर विधानसभा के बगही गांव पहुंचे थे. दरअसल, बाइक एक्सीडेंट में दो राजभर समाज के युवकों की मौत हो गई थी. राजभर पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए सपा और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. ओपी राजभर ने हाल में अखिलेश यादव और जेल में बंद गायत्री प्रजापति के परिवार से मुलाकात को लेकर कहा कि जब सरकार होती है, तो ये पिछड़ों को याद नहीं करते. अब चुनाव आ रहा है तो पिछड़े याद आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव दगे कारतूसों को इकट्ठा करना चाहते हैं.

ओपी राजभर ने कहा की गायत्री प्रजापति फिलहाल जेल में बंद है, वो कहीं आते-जाते नहीं हैं. उनके परिवार से मिलकर अखिलेश यादव ये चाहते हैं कि प्रजापति समाज उनको वोट कर दें, लेकिन वह बेकार की कोशिश कर रहे हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि प्रजापति पार्टी के साथ चला गया है, वह सपा को वोट नहीं करेगा. वहीं, कांग्रेस और बीएसपी के सवाल पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस के जमाने में काफी विकास हुए, इसे कोई झुठला नहीं सकता. लखनऊ को नवाबों का शहर मायावती जी ने बनाया. वहीं, बदमाशों को टिकट देने के सवाल पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी तो गुंडों को पालती थी, जो गरीबों और मजलूमों का वोट लूट सकें. जब सपा, बसपा और भाजपा आई तो गुंडों को टिकट मिलने लगा. ऐसे गुंडे जो दूसरों के लिए वोट लूटते थे, वो धीरे-धीरे खुद नेता बनने लगे.

ओपी राजभर ने प्रयागराज शूट आउट पर कहा कि जब तक कोई कांड बदमाश नहीं करते, तब तक कार्रवाई नहीं होती. जैसे कानपुर में विकास दुबे ने कांड किया तब कार्रवाई हुई. इसी तरह गोंडा में माफिया ने कांड किया तब एक्शन हुआ. मैनपुरी में जब अपराधी अपराध करता है, तो पार्टियां जगती हैं. ऐसे में पुलिस के पास रजिस्टर नम्बर 8 होता है.

वहीं, अपनी पार्टी के जेल में बंद विधायक अब्बास अंसारी पर भी वे हंसकर बोले कि जो आप कह रहे हैं वो ही मैं भी कह रहा हूं. हर पार्टियां अपने-अपने काम से जानी जाती हैं. ये सरकार बुलडोजर के नाम से जानी जा रही है. पिछली सरकार को लोग गुंडों की सरकार कहते थे. हर सरकार का अपना तरीका है. कुछ पार्टियां गुंडों को संरक्षण देती हैं, तो कुछ प्रदेश के विकास में बाधक बन रहे बदमाशों पर नकेल कसने के लिए जानी जाती हैं.

Trending news