Sri Ganganagar: नदी के बहाव क्षेत्र को बदलने की मांग को लेकर ग्रामीणों ने SDM को सौंपा ज्ञापन
trendingNow,recommendedStories1/india/rajasthan/rajasthan1784065

Sri Ganganagar: नदी के बहाव क्षेत्र को बदलने की मांग को लेकर ग्रामीणों ने SDM को सौंपा ज्ञापन

Sri Ganganagar news today: श्रीगंगानगर जिले में घग्घर नदी में जैसे-जैसे पानी की मात्रा बढ़ रही है पानी सीमावर्ती इलाके के नजदीक पहुंच रहा है वैसे ही सीमावर्ती इलाके के लोगों को गांवों के डूबने की चिंता सताने लगी है, ग्रामीणों ने उपखंड अधिकारी को ज्ञापन सौंपकर अवगत करवाया है.

 

Sri Ganganagar: नदी के बहाव क्षेत्र को बदलने की मांग को लेकर ग्रामीणों ने SDM को सौंपा ज्ञापन

Sri Ganganagar news: राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले में घग्घर नदी में जैसे-जैसे पानी की मात्रा बढ़ रही है और पानी सीमावर्ती इलाके के नजदीक पहुंच रहा है वैसे ही सीमावर्ती इलाके के लोगों की गांवों के डूबने की चिंता सताने लगी है. इस संबंध में चक 91 जीबी से 94 जीबी तक व आगे 36 एपीडी 33 एपीडी के ग्रामीणों ने उपखंड अधिकारी को ज्ञापन सौंपकर घग्घर नदी का बहाव क्षेत्र पहले की तरह रखने की मांग की है. 

ज्ञापन में ग्रामीणों ने लिखा कि घग्घर नदी का पानी पूर्व मे जब से घग्घर नदी में आ रहा है. तब से लेकर पिछले वर्ष तक भैडताल से पाकिस्तान तक जाता रहा है. ग्रामीणों ने ज्ञापन में आरोप लगाया है कि अधिकारियों ने मोटी राशि रिश्वत के रूप में लेकर घग्घर नदी के बहाव क्षेत्र में बदलाव किया है. ग्रामीणों ने उपखंड अधिकारी को ज्ञापन सौंपकर अवगत करवाया है कि पुराना बिंजोरवासी जो कि काफी गरीब जबकि हमारे मकान कच्चे है. 

 

घग्घर नदी का पानी आने से पुराना बिंजोर गांव के लोग बेघर हो जाएंगे तथा नाली क्षेत्र बनाने से नए नाली क्षेत्र आने वाले खेत पूर्णतः डूब जाएगा जिससे खड़ी फसल खराब हो जाएगी. ग्रामीणों ने बताया कि किसान बैंक से ऋण लेकर खेती बाड़ी कर रहे लोग उनके पास आत्महत्या के आलवा अन्य कोई चारा नहीं रहेगा तथा मोके पर पुर्णतः लड़ाई झगड़ा व मारपीट भी होने की संभावना है जिससे माल हानि होगी है. 

ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि अधिकारियों की तरफ से मोटी राशि रिश्वत के रूप में लेकर उक्त घग्घर नदी का पानी के बहाव को नया रास्ता बनाने का प्रयास किया जा रहा है. ग्रामीणों ने बताया कि अधिकारी उक्त पुराने बहाव क्षेत्र पर गांव की तरफ लगे बाधों को तुड़वाना चाहते हैं. अधिकारी मौका मुआयना करने के बाद बिंजौर गांव के चिपते हुए उत्तर साईड में पानी निकालना चाहते है. जिसके लिए अधिकारियों की तरफ से सख्त निर्देश भी दिए गए हैं. 

यह भी पढ़ें- राजस्थान में फिर आएगा मानसून, इन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

जिस कारण उक्त नए रास्ते से पानी निकाला जाता है, तो पुराना बिंजौर गांव डूब जाएगा तथा बहुत सारा जन हानी माल हानि होगी. ग्रामीणों ने प्रशासन को चेतावनी दी कि चक 91 जीबी से 94 जीबी, 36 एपीडी, 33 एपीडी में जाने वाली घग्घर नदी का पानी जो शुरू से ही पिछले 50 वर्षों से चल रहा है उसे यथावत रखा जाए अन्यथा हम ग्रामीणों द्वारा धरना प्रदर्शन किया जाएगा तथा सड़क जाम की जाएगी तथा एसडीएम कार्यालय के सामने आत्महत्या की जाएगी. 

उपखंड अधिकारी प्रियंका तलानिया ने बताया कि अभी तक किसी भी तरह का परिवर्तन नहीं किया गया है. मौके पर पटवारी और गिरदावरों को भेजा गया है. किसानों को भी निर्देशित किया गया है कि अवैध बांधों को तुरंत प्रभाव से हटा लें तथा प्रशासन की अनुमति के बिना बहाव क्षेत्र से किसी भी तरह की छेड़छाड़ ना करें.

Trending news