Advertisement
photoDetails1rajasthan

जोधपुर में मासूम बच्चों संग मां-बाप ने एकसाथ खत्म कर ली जिंदगी, फोटोज देख फट जाएगा कलेजा

Jodhpur News: जोधपुर के तिंवरी कस्बे में एक दंपति ने अपने दो बेटों के साथ सुसाइड कर लिया. परिवार के मुखिया का शव रेलवे ट्रैक पर मिला है. जबकि पत्नी और दो मासूम बेटों का शव 10 किलोमीटर दूर नहर से निकाला गया. मामला जिले के तिंवरी कस्बे का है. बताया जा रहा है कि दो दिन पहले पति-पत्नी के बीच झगड़ा भी हुआ था, लेकिन सामूहिक खुदकुशी का कारण अभी सामने नहीं आया है. 

 

कंवरलाल ने ट्रेन के आगे कूद कर जान दे दी

1/5
कंवरलाल ने ट्रेन के आगे कूद कर जान दे दी

मथानिया थानाधिकारी राजेंद्र सिंह ने बताया कि मंगलवार शाम को कुम्हारों का मोहल्ला निवासी कंवरलाल (28) पुत्र मदनलाल आचार्य के परिवार ने सामूहिक खुदकुशी कर ली. कंवरलाल ने ट्रेन के आगे कूद कर जान दे दी. उसकी पत्नी पूनम (26) और बेटे सौरभ (4) और भरत (7) का शव राजीव गांधी लिफ्ट कैनाल में मिला है. पुलिस के मुताबिक चारों जान देने के लिए नहर में कूदे थे, लेकिन कंवरलाल डूब नहीं पाया तो ट्रेन के आगे कूद गया. 

 

ट्रैक पर मिला शव

2/5
ट्रैक पर मिला शव

थानाधिकारी राजेंद्र सिंह के मुताबिक, मंगलवार शाम करीब 4 बजे सूचना मिली कि तिंवरी से मथानिया की ओर तीन किमी दूर एक व्यक्ति का शव पड़ा हुआ है. पुलिस मौके पर पहुंची तो वहां कंवरलाल के शव के पास एक मोबाइल पड़ा था. मोबाइल को कब्जे में लेकर पड़ोसियों को फोन किया तो पता चला कि कंवरलाल पत्नी पूनम और अपने बच्चों के साथ घर से निकला था. पुलिस को पूनम के मोबाइल की लोकेशन राजीव गांधी लिफ्ट कैनाल के पास मिली. 

 

नहर के किनारे कपड़े, जूते और मोबाइल पड़े थे

3/5
नहर के किनारे कपड़े, जूते और मोबाइल पड़े थे

मौके पर पुलिस पहुंची तो वहां नहर के किनारे कपड़े, जूते और मोबाइल पड़े थे. खोजबीन की गई तो पूनम, भरत और सौरभ के शव मिले. पुलिस के मुताबिक, कंवरलाल के शव से लगता है कि उसने भी नहर में जान देने की कोशिश की थी, लेकिन वह बच गया. इसके बाद उसने रेलवे ट्रैक पर आकर जान दे दी. फिलहाल यह पता नहीं चल पाया है कि दंपति ने ये कदम क्यों उठाया है. इन सभी का शव पहले मथानिया सीएचसी की मॉर्च्युरी में रखवाया गया. इसके बाद एमडीएम हॉस्पिटल, जोधपुर ले गए. 

अस्पताल जाने का किया था बहाना

4/5
अस्पताल जाने का किया था बहाना

पड़ोसियों के मुताबिक, कंवरलाल तिंवरी में ही मजदूरी करता था. दोपहर करीब 12 बजे कंवरलाल पत्नी पूनम, बेटे भरत और सौरभ को बाइक पर बैठाकर घर से यह कहकर निकले थे कि उनके सीने में दर्द हो रहा है. अस्पताल जा रहे हैं. इसके बाद से वे घर नहीं आए.

पति और पत्नी में दो दिन पहले झगड़ा हुआ था

5/5
 पति और पत्नी में दो दिन पहले झगड़ा हुआ था

बताया जा रहा है कि कंवरलाल ने पहले पत्नी और दो बच्चों को नहर में फेंक दिया. इसके बाद खुद ने ट्रेन के आगे कूदकर सुसाइड कर लिया. पति और पत्नी में दो दिन पहले झगड़ा हुआ था. पुलिस ने बताया कि बाडमेर से परिजनों के पहुचनें के बाद ही पोस्टमार्टम करवाकर शव सुपुर्द किए जाएंगे एवं मामले का पूरा खुलासा हो सकेगा.