Sukhdev Singh Gogamedi Murder Case: नवीन निकला सुखदेव सिंह गोगामेड़ी का धोखेबाज दोस्त! पर आखिरी वक्त में क्यों पीछे हटे कदम
trendingNow,recommendedStories1/india/rajasthan/rajasthan2005202

Sukhdev Singh Gogamedi Murder Case: नवीन निकला सुखदेव सिंह गोगामेड़ी का धोखेबाज दोस्त! पर आखिरी वक्त में क्यों पीछे हटे कदम

 Sukhdev Singh Gogamedi Murder Case: करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या को लेकर कई राज सामने आ रहे है, जिसके लेकर सनसनी फैल गई है.  SIT को इस मामले को लकर 8 दिसंबर को बड़ी कामयाबी हासिल हुई थी

Sukhdev Singh Gogamedi Murder Case

 Sukhdev Singh Gogamedi Murder Case: करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या को 6 दिन का समय अब तक हो चुका है. मामले की जांच कर रही SIT को इस मामले को लकर 8 दिसंबर को बड़ी कामयाबी हासिल हुई थी. पुलिस ने अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के हत्यारों को गिरफ्तार कर लिया है. इसके बाद रविवार को उन्हें न्यायिक हिरासत में लेकर लगातार पूछताछ की जा रही है. 

पुलिस पूछताछ में लगातार सनसनिखेज खुलासे हो रहे हैं. सूत्रों के अनुसार, चंडीगढ़ में हुए ज्वाइंट ऑपरेशन में गिरफ्तार होने वाले शूटर्स और उनके सहयोगी ने कबूल किया है कि गोगामेड़ी की हत्या के समय मारे गए नवीन शेखावत ने ही पहले पूरी योजना बनाई थी. इन शूटर्स और उनके सहयोगी ने बताया कि गोगामेड़ी की हत्या की गई थी, उस समय उन्हें वहां नवीन शेखावत लेकर आया था. आरोपियों ने पूछताछ में खुलासा करते हुए बताया कि गोगामेड़ी की हत्या की योजना बनाई गई थी, और यह साजिश करीब एक हफ्ते पहले हुई थी.

नवीन ने की थी रोकने की कोशिश
आरोपियों ने लगातार चल रही पूछताछ में बताया कि  करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या की प्लानिंग में नवीन शेखावत भी शामिल था. आगे शूटरों ने यह भी जांनकारी दी कि गोगामेड़ी की हत्या करने के आखिर क्यों उन्होंने अपने साथी नवीन शेखावत को भी मौत के घाट उतार दिया.  बदमाशों ने पुलिस पूछताछ में खुलासा करते हुए बताया कि सीसीटीवी को ठीक तरह से देखेंगे तो उसमें दिखेगा की फायरिंग के दौरान नवीन को डर लगने लगा और वह उनको रोकने की कोशिश करने लगा जिसके बाद शूटरों ने  नवीन शेखावत को ही गोली मारनी पड़ गई.

चंडीगढ़ में  थे ठहरे
बता दें कि 8 दिसंबर की शाम को शुटर्स की हलचल का पता चला था जिसके बाद चंडीगढ़ में इनके ठहरने की जानकारी मिली थी. इस जानकारी के बाद दोनों राज्यों की पुलिस ने ज्वाइंट ऑपरेशन करते हुए हत्यारों को पकड़कर दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा के कार्यालय में आरोपियों को चंडीगढ़ से लाया गया.

स्पेशल सीपी (क्राइम) रवींद्र सिंह का कहना
दिल्ली पुलिस के स्पेशल सीपी (क्राइम) रवींद्र सिंह यादव ने बताया कि 'राजस्थान के जयपुर में करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के बारे में 3 मुख्य आरोपियों को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की एनडीआर की शाखा ने गिरफ्तार किया है...हम पिछले 72 घंटे से उन्हें ट्रैक कर रहे थे...चंडीगढ़ में जाकर हमने उनको पकड़ा है. हम अब उन्हें राजस्थान पुलिस के हवाले करेंगे.'

अध्यक्ष सी.पी. जोशी का कहना
वहीं जयपुर में राजस्थान भाजपा के अध्यक्ष सी.पी. जोशी ने कहा कि 'सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या ने सभी को स्तब्ध किया है. इसकी जानकारी आते ही मैंने राज्यपाल, मुख्य सचिव, डीजीपी सहित सभी अधिकारियों से बात की...राजस्थान में अब अपराध और अपराधियों का कोई स्थान नहीं होगा. मैं सारी एजेंसियों का धन्यवाद देता हूं कि उन्होंने तत्काल कार्रवाई करते हुए अपराधियों को गिरफ्तार किया है.

ये भी पढ़ें-

Jhunjhunu Chunav Result: झुंझुनूं की इस सीट पर पहली बार खिला कमल, तीन दशक बाद बृजेंद्र ओला ने भी तोड़ा मिथक

Jaipur Chunav Result: जयपुर की 19 में से 12 सीट पर भाजपा का कब्जा, इन सीटों पर जनता ने दिया हाथ को साथ

Trending news