Dausa: लंपी से गायों को बचाने के लिए महंत बलराम ने बनाया आयुर्वेदिक काढा, 17 जड़ी बूटियों से किया तैयार
topStoriesrajasthan

Dausa: लंपी से गायों को बचाने के लिए महंत बलराम ने बनाया आयुर्वेदिक काढा, 17 जड़ी बूटियों से किया तैयार

Dausa: प्रदेश इन दिनों लंपी स्किन डिजीज से जूझ रहा है, बेजुबान पशु मौत के आगोश में समा रहे है. ऐसे में एक ओर जहां सरकार लंपी पर नियंत्रण के हर मुमकिन प्रयास कर रही है.

Dausa: लंपी से गायों को बचाने के लिए महंत बलराम ने बनाया आयुर्वेदिक काढा, 17 जड़ी बूटियों से किया तैयार

Dausa: प्रदेश इन दिनों लंपी स्किन डिजीज से जूझ रहा है, बेजुबान पशु मौत के आगोश में समा रहे है. ऐसे में एक ओर जहां सरकार लंपी पर नियंत्रण के हर मुमकिन प्रयास कर रही है. वहीं दूसरी ओर साधु संत और सामाजिक संगठन भी अपने स्तर पर गोधन को बचाने में लगे हुए है. साधु संत आयुर्वेदिक नुक्से तैयार कर प्रशासन और आमजन को मुहैया करवा रहे है, जिससे जल्द से जल्द दौसा जिले में लंपी स्किन डिजीज पर काबू पाया जा सके.

दौसा जिला मुख्यालय पर स्थित मोड़ा रायपुर बालाजी मंदिर के महंत बलराम दास जी महाराज ने लंपी स्किन डिजीज से गोवंश को बचाने के लिए आयुर्वेदिक नुक्से के जरिए काढा और चूर्ण तैयार किया है, जिसे कलेक्टर कमर चौधरी एडीएम शिवचरण मीणा को सौंपा और दस हजार लीटर काडा और बड़ी मात्रा में चूर्ण और आयुर्वेदिक लड्डू सौंपे. वहीं खुद महंत बलराम दास महाराज ने 4 वाहनों में काढा और दवा रखकर जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में रवाना किए, जहां लंपी संक्रमित गायों को पिलाया और खिलाया जाएगा.

महंत बलराम दास जी महाराज ने कहा कि इस काढ़े और चूर्ण में 17 जड़ी बूटियों से औषधि तैयार की गई है और इसका परिणाम भी बेहद ही अच्छा आया है, जिस गाय को भी यह दवा दी गई वह 3 से 4 दिन में ठीक हो गई. ऐसे में बड़े स्तर पर दवा का निर्माण कर गोवंश को बचाने का काम किया जा रहा है. महंत बलराम दास ने कहा कि गायों को बचाने के लिए दवा का निर्माण जारी रहेगा, जो भी कोई उनके पास आएगा उसे दवा निशुल्क उपलब्ध करवाई जाएगी.

यह भी पढ़ें - गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में MMS कांड, लड़की ने 60 छात्राओं के नहाते वक्त का वीडियो किया वायरल

वहीं कलेक्टर कमर चौधरी ने कहा कि सरकार के निर्देश पर जिला प्रशासन और पशुपालन विभाग द्वारा हर मुमकिन कोशिश कर लंपी संक्रमित गायों का उपचार किया जा रहा है. वहीं कलेक्टर ने आमजन और सामाजिक संगठनों से भी आह्वान किया कि कोरोना की तरह इस समय भी सेवा भाव दिखाते हुए आगे आए और गोधन को बचाने में सहयोग करें, जिससे हम सब मिलकर बेजुबान पशुओं को लंपी स्किन डिजीज से बचा सके.

Reporter: Laxmi Sharma

खबरें और भी हैं...

बस इन 2 मंत्रों का जाप, लव मैरिज के लिए तैयार हो जाएंगे घरवाले!

Weather Update Today: राजस्थान में करवट बदल रहा मौसम, कोहरे की चादर से ढका प्रतापगढ़, मौसम हुआ सुहाना

Interesting Facts: शराब पीने से पहले क्यों बोलते हैं लोग Cheers, जानकर हो जाएंगे Shock

Trending news