BPSC TRE 2 : शिक्षक भर्ती परीक्षा में मुंगेर से दो और हाजीपुर से एक मुन्ना भाई गिरफ्तार
trendingNow,recommendedStories0/india/bihar-jharkhand/bihar2002871

BPSC TRE 2 : शिक्षक भर्ती परीक्षा में मुंगेर से दो और हाजीपुर से एक मुन्ना भाई गिरफ्तार

BPSC TRE 2 : केंद्राधीक्षक और स्टेटिक दंडाधिकारी की उपस्थिति में मौजूद पुलिसकर्मियों ने गहन जांच के बाद केंद्र में प्रवेश कराया गया. परीक्षा को लेकर सभी केंद्रों पर पुलिस बल के साथ महिला जवानों को भी तैनात किया गया था. 

BPSC TRE 2 : शिक्षक भर्ती परीक्षा में मुंगेर से दो और हाजीपुर से एक मुन्ना भाई गिरफ्तार

मुंगेर : बिहार लोक सेवा आयोग की ओर से आयोजित शिक्षक बहाली परीक्षा दूसरे दिन शनिवार को भी 16 केंद्रों पर हुई. 5914 परीक्षार्थी उपस्थित तथा 674 परीक्षार्थी अनुपस्थित रहे. शनिवार को नंद कुमार उच्च विद्यालय परीक्षा केंद्र से दो फर्जी अभ्यार्थी को गिरफ्तार किया गया. दोनों दूसरे की जगह परीक्षा देने पहुंचा था. बायोमेट्रिक जांच के दौरान पहचान गलत होने पर गिरफ्तार किया गया. इसी तरह हाजीपुर परीक्षा पर भी जांच के दौरान एक मुन्ना भाई गिरफ्तार किया गया है.

दरअसल, रविवार को दो केंद्रों पर अंतिम दिन की परीक्षा होगी. शनिवार को सुबह आठ बजे से ही सभी केंद्रों पर परीक्षार्थियों की भीड़ लगनी शुरू हो गई. केंद्राधीक्षक और स्टेटिक दंडाधिकारी की उपस्थिति में मौजूद पुलिसकर्मियों ने गहन जांच के बाद केंद्र में प्रवेश कराया गया. परीक्षा को लेकर सभी केंद्रों पर पुलिस बल के साथ महिला जवानों को भी तैनात किया गया था. महिला परीक्षार्थियों की जांच महिला जवानों को तैनात किया गया था. सभी केंद्रों पर जैमर की व्यवस्था थी. नंद कुमार उच्च विद्यालय, बासुदेवपुर केंद्र से पुलिस ने दो फर्जी अभ्यार्थियों को गिरफ्तार किया. 

पुलिस अधीक्षक जगुन्नाथ रेड्डी जलारेड्डी ने बताया कि नंद कुमार उच्च विद्यालय केंद्र से रौल नंबर 304699 वाले परीक्षार्थी खगड़िया जिले के झिकटिया गांव निवसी रामसेवक मंडल के पुत्र प्रभात कुमार की जगह बरियारपुर थाना क्षेत्र के बरियारपुर बस्ती निवासी अशोक साव का पुत्र सुमन कुमार तथा रौल नंबर 304729 वाले परीक्षार्थी रंजीत कुमार के पुत्र राकेश कुमार की जगह खगड़िया जिले के बेलदौर थाना क्षेत्र के डोंगरी पंचायत स्थित पंसलवा गांव 
निवासी वकील सिंह के पुत्र ब्रजेश कुमार को गिरफ्तार किया गया. दोनों दूसरे के बदले परीक्षा देने पहुंचा था. एसपी ने बताया कि दोनों गिरफ्तार फर्जी अभ्यार्थियों पर संबंधित केंद्र के प्रधानाध्यापक के आवेदन पर केस दर्ज किया गया.

वहीं दूसरा मामला हाजीपुर का है. यहां परीक्षा केंद्र में जांच के दौरान यह पता चला कि मृत्युंजय नाम के छात्र के जगह पर मुन्ना भाई राकेश नाम का लड़का परीक्षा केंद्र में दाखिल होकर सेंटर में स्टेट और सभी शिक्षकों के आंखों में धूल झोंक कर मृत्युंजय के जगह पर राकेश नाम का लड़का परीक्षा दे रहा था. नियम अनुसार सभी छात्रों को एग्जाम सेंटर में सही समय पर प्रवेश कराया गया था और सभी की बायोमेट्रिक उपस्थिति दर्ज कराई गई थी लेकिन इसके बावजूद भी हाजीपुर के जिए इंटर कॉलेज पर तैनात सेंटर मुस्केट और शिक्षकों को आंखों में धूल झोंक कर एक मुन्ना भाई दाखिल हुआ. बायोमेट्रिक भी दिया और एग्जाम से मात्र 30 मिनट पहले पकड़ा गया. बायोमेट्रिक मिसमैच के लिए पटना आयोग भेजी गई थी उसी में इसका खुलासा हुआ है फिलहाल अभी पकड़े गए राकेश नाम का मुन्ना भाई का पूछताछ चल रही है. सेंटर इंटर पर अरेस्टिंग के लिए नगर थाने की पुलिस भी पहुंच गई है. बताया यह भी जा रहा है कि मृत्युंजय जो एग्जाम देने के लिए पहुंचा था वह केंद्र के बाहर घूम रहा था लेकिन उसके जगह पर राकेश नाम का शख्स एग्जाम सेंटर में परीक्षा दे रहा था जो की हाजीपुर के रहने वाला बताया जा रहा है.

ये भी पढ़िए-  Sleep Apnea : ज्यादातर भारतीयों को मोटापे के कारण होता है स्लीप एपनिया का खतरा, अध्ययन में हुआ खुलासा

Trending news