Jamshedpur Flood: लगातार बारिश से नदियां उफान पर, खनकाई और स्वर्ण रेखा नदी खतरे के निशान से 5 फीट ऊपर
trendingNow,recommendedStories0/india/bihar-jharkhand/bihar1312282

Jamshedpur Flood: लगातार बारिश से नदियां उफान पर, खनकाई और स्वर्ण रेखा नदी खतरे के निशान से 5 फीट ऊपर

Jamshedpur Flood: बारिश से नदियों के जलस्तर में हर घंटे वृद्धि दर्ज की जा रही है. खरकई नदी खतरे निशान से ऊपर बह रही है. वहीं स्वर्णरेखा नदी के जलस्तर में वृद्धि हो रही है. 

Jamshedpur Flood: लगातार बारिश से नदियां उफान पर, खनकाई और स्वर्ण रेखा नदी खतरे के निशान से 5 फीट ऊपर

जमशेदपुरः Jamshedpur Flood: बिहार के जमशेदपुर में हो रही लगातार बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. लगातार बारिश से नदियों के जलस्तर में हर घंटे वृद्धि दर्ज की जा रही है. खरकई नदी खतरे निशान से ऊपर बह रही है. वहीं स्वर्णरेखा नदी के जलस्तर में वृद्धि हो रही है. इधर, मौसम विभाग ने भी जिले में येलो अलर्ट जारी कर चेतावनी दी है. 

जल स्तर ने पिछले 14 वर्षों का तोड़ा रिकॉर्ड
पिछले 14 वर्षो में इस बार जल स्तर काफी ज्यादा बढ़ गया है. उपायुक्त विजया जाधव ने तटीय इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थान पर जाने को कहा है. बागबेड़ा बड़ौदा घाट के आस-पास के इलाकों के अलावा रानीडीह, मतलाडीह, जुगसलाई के तटीय इलाके, आदित्यपुर राम मड़ैया बस्ती, लंका टोला, बिष्टुपुर बोधनवाला घाट का इलाका, शास्त्री नगर के तटीय इलाके, कदमा भाटिया पार्क और आस-पास का क्षेत्र जैसे इलाकों में घरों में पानी घुस गया है.

इलाकों में 18 घंटे से बिजली गुल  
इधर, आंधी तूफान से शहर के कई इलाकों में बिजली के तारों में पेड़ गिरने की वजह से गैर टिस्को इलाकों में 18 घंटे से बिजली गुल है. बिजली न होने की वजह से घरों में पानी की सप्लाई पर भी प्रभाव पड़ा है. हालांकि, मामले को लेकर बिजली विभाग की टीम लगातार समस्या को दुरुस्त करने के में लगी हुई है. वहीं बचाव कार्य में जिला प्रशासन जुटा हुआ है. लोगों को ऊंचे स्थान पर पहुंचाया गया है. कई सार्वजनिक मंडप को लोगों के लिए खोल दिया गया है. साथ ही साथ खाने-पीने की व्यवस्था भी की जा रही है.

तालाब में बदली पुलिया 
वहीं लगातार हो रही बारिश के कारण सरायकेला खरसावां जिले के ईचागढ़ विधानसभा अंतर्गत कपाली क्षेत्र का संपर्क जमशेदपुर से टूट गया है. कपाली ओपी से अलबेला गार्डन होते हुए जमशेदपुर की ओर जाने वाली पुलिया पूरी तरह से तालाब में बदल चुकी है. स्थिति इतनी बदतर है, कि पैदल तो दूर की बात है लोग गाड़ी से भी पार नहीं कर पा रहे हैं. बता दें कि कपाली क्षेत्र की यह सबसे मुख्य सड़क है, जो जमशेदपुर से कपाली को जोड़ता है. सैकड़ों लोगों का आवागमन इसी सड़क से होता है. स्थानीय जनप्रतिनिधियों से लेकर नगर परिषद के अधिकारियों का आना- जाना भी इसी सड़क से होता है. लेकिन इनको आम जनता की समस्या दिखाई नहीं देती है.

स्थानीय लोगों का कहना है, कि जलजमाव की समस्या को लेकर स्थानीय विधायक सविता महतो से कई बार शिकायत की, लेकिन किसी ने भी इस पर ध्यान नहीं दिया. अब स्थिति इतनी बदतर हो चुकी है, कि आना- जाना भी मुश्किल हो गया है. स्थानीय लोगों में विधायक सविता महतो के प्रति आक्रोश देखा जा रहा है. 

(रिपोर्ट-आशीष कुमार तिवारी)

यह भी पढ़े- बिहार के वो विभूति जिन्हें दुनिया कहती है शहनाई सम्राट, पुण्यतिथि पर भारत रत्न उस्ताद बिस्मिल्लाह खां को जानिए

Trending news