Aamir Khan: नाकाबिल डायरेक्टर लेते हैं सेक्स और हिंसा का सहारा, एनिमल के बाद आमिर का पुराना इंटरव्यू सामने आया
trendingNow11992548

Aamir Khan: नाकाबिल डायरेक्टर लेते हैं सेक्स और हिंसा का सहारा, एनिमल के बाद आमिर का पुराना इंटरव्यू सामने आया

Animal: आमिर खान ने निश्चित रूप से हिंदी सिनेमा को कुछ बेहद कामयाब और उल्लेखनीय फिल्में दी हैं. मेकर के रूप में उन्होंने परिवार के साथ देखने योग्य फिल्में बनाई हैं. जिसमें हिंसा और सेक्स नहीं मिलते. एनिमल की रिलीज के बाद आमिर का एक पुराना इंटरव्यू सुर्खियां बटोर रहा है...

 

Aamir Khan: नाकाबिल डायरेक्टर लेते हैं सेक्स और हिंसा का सहारा, एनिमल के बाद आमिर का पुराना इंटरव्यू सामने आया

Aamir Khan Interview: एनिमल की बॉक्स ऑफिस सफलता के बाद फिल्म को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हैं. कई लोग फिल्म में दिखाई गई भीषण हिंसा और सेक्स दृश्यों को कहानी की जरूरत बताते हुए, इनकी वकालत कर रहे हैं. जबकि स्वानंद किरकिरे (Swanand Kirkire) जैसे इंडस्ट्री के राइटर समेत कई लोग इन बातों को नैतिक रूप से गलत और सिनेमा के लिए खतरनाक बता रहे हैं. इसी संदर्भ में अब, फिल्मों में हिंसा और अश्लीलता के मुद्दे पर बॉलीवुड एक्टर आमिर खान का पुराना इंटरव्यू सोशल मीडिया में फिर से सर्कुलेट होने लगा है. इस इंटरव्यू में आमिर खान फिल्मों में कहानी कहने के लिए निर्देशकों द्वारा सेक्स और हिंसा का सहारा लेने को गलत ठहरा रहे हैं.

भड़काना है आसान

आमिर इस इंटरव्यू में कहते दिख रहे हैः कुछ भावनाएं ऐसी होती हैं, जिन्हें दर्शकों में भड़काना बहुत आसान होता है. ऐसी भावनाओं में एक है हिंसा और दूसरी सेक्स. जो निर्देशक कहानी में अन्य भावनाएं या स्थितियां बताने में बहुत सफल नहीं होते, वे सेक्स और हिंसा पर अत्यधिक निर्भर रहते हैं. वे सोचते हैं हम बहुत ज्यादा हिंसा या सेक्स दिखाएंगे, तो हमारी फिल्म कामयाब होगी. आमिर ने कहा कि हो सकता है कई दफा, ऐसे डायरेक्टर कामयाब हो जाएं, लेकिन मुझे लगता है कि इससे समाज को नुकसान पहुंचता है. आमिर के मुताबिक हम फिल्म बनाने वाले नैतिक रूप से जिम्मेदार हैं क्योंकि हमारी फिल्में देखने वाले दर्शक निश्चित रूप से इससे प्रभावित होते हैं.

जिम्मेदारी किसकी
आमिर ने अपने इंटरव्यू में साफ किया कि वह पूरी तरह से पर्दे पर हिंसा दिखाए जाने के विरुद्ध नहीं हैं. मगर उन्होंने साफ किया है कि मेकर्स को यह बात ध्यान रखनी चाहिए कि जब हम क्या दिखा रहे हैं. उन्होंने कहा कि मैं यह नहीं कह रहा कि फिल्म में हिंसा नहीं होनी चाहिए, लेकिन यह विषय पर निर्भर करता है. अगर आप एक विषय ऐसा बना रहे हैं, जिसमें हिंसा दिखाना जरूरी है तो आप इसे दिखा सकते हैं. लेकिन इसके भी तरीके हैं. आमिर के इस इंटरव्यू को लोग सोशल मीडिया पर शेयर करते हुए उनके विचारों तथा ईमानदारी की तारीफ कर रहे है. साथ ही वे इस इंटरव्यू के मुकाबले में निर्देशक संदीप रेड्डी वांगा की रणबीर कपूर (Ranbir Kapoor) स्टारर एनिमल में दिखाई हिंसा और सेक्स पर चर्चा कर रहे हैं. ये लोग एनिमल को हिंसक, स्त्री-विरोधी और मर्दानगी को महिमामंडित करने वाली फिल्म बता रहे हैं.

Trending news