हमास ने छोड़े 13 इजरायली बंधक, कतर ने फिलिस्तीनी कैदियों को रिहा करने का किया ऐलान
trendingNow,recommendedStories0/zeesalaam/zeesalaam1977173

हमास ने छोड़े 13 इजरायली बंधक, कतर ने फिलिस्तीनी कैदियों को रिहा करने का किया ऐलान

Israel-Hamas Conflict: हमास ने इजरायल के 13 कैदियों को रिहा कर दिया है. अब इजरायल फिलिस्तीन के कैदियों को रिहा करेगा. इजरायल में 39 फिलिस्तीनी कैदी हैं.

हमास ने छोड़े 13 इजरायली बंधक, कतर ने फिलिस्तीनी कैदियों को रिहा करने का किया ऐलान

Israel-Hamas Conflict: हमास की कैद में 49 दिन बिताने के बाद इजरायल से अगवा किए गए 13 बंधक सुरक्षित घर लौट आए हैं. एक अधिकारी ने यह जानकारी दी. इजरायल डिफेंस फोर्सेज (IDF) ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि 13 बंधक इजरायली क्षेत्र में वापस आ गए हैं. उनकी रिहाई के बाद, उन्हें आईडीएफ के साथ-साथ इजरायली खुफिया एजेंसी शिन बेट के अधिकारी अपने साथ ले गये.

इन लोगों को किया गया रिहा
आईडीएफ ने कहा कि उसके अधिकारी रिहा किए गए बंधकों उनके परिवारों त्दो बारा पहुँचाने तक उनके साथ रहेंगे. रिहा किए गए बंधकों में चन्ना कैटज़िर (77), मार्गालिट मोज़ेस (77), याफ़ा अदिर (85), हन्ना पेरी (79), अदीना मोशे (74), डेनिले अमोनी (42) और एमिलिया अलोनी (9), रूथी मोंडेर (79), केरेन मोंडर (59) और ओहद मोंडर (9), अवीव अशर (2) रज़ अशर (5) और डोरोन काट्ज़- अशर (34) शामिल हैं. उन्होंने करेम शालोम क्रॉसिंग के माध्यम से इज़राइल में प्रवेश किया.

फिलिस्तीनी कैदियों की होगी रिहाई
इस बीच, कतर ने 39 फिलिस्तीनी कैदियों को रिहा करने करने का ऐलान किया है, जिसमें इजरायली जेलों में कैद महिलाएं और नाबालिग भी शामिल हैं. क़तर के अफसरों के मुताबिक, इज़रायल द्वारा यह रिहाई, कैदी अदला-बदली सौदे का हिस्सा है, जिस पर क़तर के माध्यम से इज़रायल और हमास के बीच सहमति हुई थी. अन्य बंधकों के परिवार जो अभी भी हमास की हिरासत में हैं, उन्हें लेकर चिंतित हैं और इदान बारूक, जिनके छोटे भाई उरीएल बारूक को सुपरनोवा उत्सव से अपहरण कर लिया गया था, ने कहा कि उन्हें हमास की हिरासत में सभी कैदियों की रिहाई की उम्मीद है.

सभी बंधकों को किया जाएगा रिहा
मीडियाकर्मियों से बात करते हुए, इदान बारूक ने कहा: "हमें एक सामान्य समझौते की उम्मीद थी जो सभी बंधकों को बाहर लाएगा, लेकिन सरकार ने जोर देकर कहा है कि किसी को भी पीछे नहीं छोड़ा जाएगा, और हमें उस पर भरोसा करना होगा. इसलिए कम से कम ऐसे लोग होंगे जो अब रिहा हो जाएंगे और हमें उनके लिए खुशी होगी."

Trending news