J&K Encounter: मुठभेड़ में मारे गए पाक आतंकी की हुई पहचान, बरामद हुए कई हथियार
topStorieshindi

J&K Encounter: मुठभेड़ में मारे गए पाक आतंकी की हुई पहचान, बरामद हुए कई हथियार

दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ के दौरान मारे गए एक आतंकवादी की पहचान प्रतिबंधित जैश-ए-मोहम्मद संगठन के पाकिस्तानी सदस्य के रूप में की गई है.

J&K Encounter: मुठभेड़ में मारे गए पाक आतंकी की हुई पहचान, बरामद हुए कई हथियार

J&K Encounter: दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ के दौरान मारे गए एक आतंकवादी की पहचान प्रतिबंधित जैश-ए-मोहम्मद संगठन के पाकिस्तानी सदस्य के रूप में की गई है. इस बात की जानकारी सेना के अधिकारियों ने मंगलवार को दी.अधिकारियों के मुताबिक, अबू हुरेर्राह सोमवार को वेलबटापुरा गांव में हुई मुठभेड़ में मारा गया. इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना के आधार पर गांव में सेना, पुलिस और सीआरपीएफ (CRPF) ने सर्च ऑपरेशन शुरू किया.

यह भी देखें: Big Boss 16 के कन्फर्म कंटेस्टेंट्स के नाम आए सामने, मुनव्वर से लेकर इमली भी आएंगी नज़र

आतंकिवादियों की मौजूदगी की मिली थी खबर

सुरक्षा बलों द्वारा गांव के घरों में संदिग्ध समूहों के चारों तरफ घेराबंदी की गई थी. एक घर में दो आतंकवादियों की मौजूदगी का शक था इसलिए सुरक्षा बलों ने आसपास के लोगों को सुरक्षित जगह पर निकालना शुरू कर दिया. आतंकवादियों ने भागने की कोशिश की इसके लिए उन्होंने वहां मौजूद नागरिकों को निशाना बनाकर अंधाधुंध गोलियां चलाईं. लोगों की जान बचाने के लिए सरक्षाबलों ने निकासी प्रक्रिया को तेज़ कर दिया, साथ ही आतंकवादी को भी मार गिराया.

1 अधिकारी और 2 लोग घायल

सेना ने कहा कि, लोगों को बचाने और उन्हें गोलाबारी के खतरे से बाहर निकालने की कोशिश करते हुए, एक अधिकारी को गोली लग गई.  ज़ख्मी अधिकारी को श्रीनगर के अस्पताल पहुंचाया गया.

यह भी देखें: Alia Ranbeer ने शादीशुदा ज़िंदगी को लेकर किए कुछ खुलासे, दिलचस्प हैं किस्से

बरामद हुए कई हथियार

इसके अलावा दो नागरिकों को भी घायल हुए. जब उन्हें ग्रेनेड फेंककर आतंकवादी ने निशाना बनाने की कोशिश की थी. इनमें से एक को 92 बेस अस्पताल में रेफर कर दिया गया है. टोरगेट घर के आसपास कोई नागरिक उपस्थिति नहीं होने की सकारात्मक पुष्टि पर, सेना ने आतंकवादी को बेअसर करने के लिए एक अभियान चलाया. आतंकवादी को बाद में बेअसर कर दिया गया और जेकेपी द्वारा पाकिस्तान के निवासी अबू हुर्राह और जैश-ए-मोहम्मद आतंकवादी संगठन के कट्टर सदस्य के रूप में पहचाना गया. सेना ने बताया कि, उनके पास से "एक एके सीरीज राइफल, एक पिस्टल, ग्रेनेड और अन्य जंगी सामान बरामद हुए.

इसी तरह की और ख़बरों को पढ़ने के लिए Zeesalaam.in पर विजिट करें.

Trending news