Thyroid Symptoms & cure:थायरॉयड की चपेट में आ रहे युवा, जानिए महिलाओं और पुरुषों में क्यों अलग है ये परेशानी
trendingNow,recommendedStories0/india/up-uttarakhand/uputtarakhand1737528

Thyroid Symptoms & cure:थायरॉयड की चपेट में आ रहे युवा, जानिए महिलाओं और पुरुषों में क्यों अलग है ये परेशानी

Thyroid Symptoms & cure: यदि आप बेवजह तनाव में रहते हैं तो इसे कम करिए. यह भी थायरॉयड की वजह बनता है. थायरॉयड के लक्षण पुरुषों और महिलाओं में अलग-अलग  होते हैं. घरेलू नुस्खों से भी इसका उपचार संभव है.

Thyroid Symptoms & cure:थायरॉयड की चपेट में आ रहे युवा, जानिए महिलाओं और पुरुषों में क्यों अलग है ये परेशानी

Thyroid Symptoms & cure:एक सेहतमंद मनुष्य में थायरॉयड ग्रंथि का भार 25 से 50 ग्राम तक होता है. यह 'थाइराक्सिन' नामक हार्मोन पैदा करती है. थायरॉयड ग्रंथि के ऊपर एवं मध्य भाग की ओर एक-एक जोड़े यानी कि कुल चार होती हैं. यह पैराथारमोन हार्मोन का उत्पादन करती हैं. आजकल तनावग्रस्त जीवन शैली से थायरॉयड रोग बढ़ रहा है. 

क्या है ईलाज

1.थायरायड की समस्या वाले लोगों को दही और दूध का अधिक से अधिक सेवन करना चाहिए. दूध और दही में मौजूद कैल्शियम, मिनरल्स और विटामिन्स थायरॉयड से ग्रसित पुरूषों को स्वस्थ बनाए रखने का काम करते हैं.

2.थायरॉयड  ग्रन्थि को बढ़ने से रोकने के लिए गेहूं के ज्वार का सेवन कर सकते है. इसके अलावा भी मोटे अनाज जैसे बाजरा काफी लाभदायक होता है.

3.गेहूं का ज्वार आयुर्वेद में थायरायड की समस्या को दूर करने का बेहतर और सरल प्राकृतिक उपाय है.

इसके अलावा ये साइनस, उच्च रक्तचाप और खून की कमी जैसी समस्याओं को रोकने में भी असरदार होते हैं.

4.थायरॉयड की परेशानी में जितना हो सके, फलों और सब्जियों का इस्तेमाल करना चाहिए क्योंकि फल और सब्जियों में एंटीआक्सिडेंटस होता है जो थायरॉयड को कभी भी बढ़ने नहीं देता है.

सब्जियों में टमाटर, हरी मिर्च आदि का सेवन करें.

5.थायरॉयड के मरीजों को थकान बड़ी जल्दी लगने लगती है और वह जल्दी ही थक जाते हैं. ऐसे में मुलेठी का सेवन करना बेहद फायदेमंद होता है. चूंकि मुलेठी में मौजूद तत्व थायरॉयड ग्रन्थि को संतुलित बनाते हैं और थकान को उर्जा में बदल देते हैं. मुलेठी थायरॉयड में कैंसर को बढ़ने से भी रोकता है.

5. योग के जरिए भी थायरॉयड की समस्या से राहत पाया जा सकता है. इसलिए भुजंगासन, ध्यान लगाना, नाड़ीशोधन, मत्स्यासन, सर्वांगासन और बृहमद्रासन आदि व्यायाम व योग प्रतिदिन करना चाहिए.

6. अदरक में मौजूद गुण जैसे पोटेशियम, मैग्नीश्यिम आदि थायरॉयड की समस्या को कम करते हैं

अदरक में एंटी-इंफलेमेटरी गुण थायरॉयड को नियंत्रित करता है. 

WATCH: Wifi का ज्यादा इस्तेमाल करने वाले सावधान, सेहत को पहुंचाता है ऐसे नुकसान

Trending news