SrigangaNagar News दिल्ली से बूंदी पहंची महिला निकली चालबाज, बांग्लादेशी कहकर बना रही थी बेवकूफ
trendingNow,recommendedStories1/india/rajasthan/rajasthan1831216

SrigangaNagar News दिल्ली से बूंदी पहंची महिला निकली चालबाज, बांग्लादेशी कहकर बना रही थी बेवकूफ

Sriganganagar News: श्रीगंगानगर जिले के अनूपगढ़  वार्ड नंबर 29 में शुक्रवार देर रात एक महिला को वार्ड वासियों ने पुलिस के हवाले कर दिया.   महिला ने बताया कि वह बांग्लादेश से दिल्ली में अपने बेटे के दिल की बीमारी का इलाज करवाने के लिए आई थी.

SrigangaNagar News दिल्ली से बूंदी पहंची महिला निकली चालबाज, बांग्लादेशी कहकर बना रही थी बेवकूफ

Sriganganagar News: श्रीगंगानगर जिले के अनूपगढ़  वार्ड नंबर 29 में शुक्रवार देर रात एक महिला को वार्ड वासियों ने पुलिस के हवाले कर दिया. यह महिला वार्ड नंबर 29 में स्थित मस्जिद में पहुंचकर खुद को बांग्लादेशी बता रही थी.मस्जिद के मौलाना रमजान महिला को अपने घर ले आए. महिला ने पार्षद मुराद खान और वार्डवासियों को दर्द भरी कहानी सुना कर झांसे में लेने का प्रयास किया. महिला ने बताया कि वह बांग्लादेश से दिल्ली में अपने बेटे के दिल की बीमारी का इलाज करवाने के लिए आई थी. 14 महीने पहले इलाज के दौरान उसके बेटे की मौत हो चुकी है. महिला का झूठ पकड़े जाने पर महिला भड़क उठी. महिला के भड़कने पर वार्ड पार्षद मुराद खान ने इसकी सूचना अनूपगढ़ पुलिस थाने में दी. सूचना मिलने पर हेड कांस्टेबल नरेंद्र टीम के साथ मौके पहुंचे और महिला को पड़कर अनूपगढ़ के पुलिस थाने ले गए.

महिला आई थी मस्जिद में

मस्जिद के मौलाना रमजान ने बताया कि वह शुक्रवार शाम मस्जिद में थे. उस समय एक महिला अपने ढाई वर्षीय बेटी के साथ मस्जिद में आई.  महिला ने उसे बताया कि वह बांग्लादेश से आई है और अब उसके पास घर जाने के लिए पैसे नहीं है. मौलाना ने बताया कि महिला पर तरस खाकर वह उसे अपने घर ले आया और इसकी सूचना वार्ड के पार्षद मुराद खान तथा वार्ड वासियों को दी. सूचना मिलने पर वार्ड वासी और पार्षद मुराद खान मौलाना के घर पहुंचे.

महिला कर रही थी बांग्लादेश की भाषा में बात

मौलाना रमजान ने बताया कि महिला बांग्लादेशी भाषा में बात कर रही थी इसलिए वह उसकी बात पूरी तरह से नहीं समझ पा रहे थे. महिला ने बताया था कि वह बांग्लादेश के अलावा अन्य किसी देश की भाषा नहीं जानती.मौलाना ने महिला की बातों को समझने के लिए पास में ही रह रहे कोलकाता के दो व्यक्तियों को बुलाया. कोलकाता के व्यक्ति महिला की भाषा को समझ रहे थे और वह महिला से बात कर वार्ड वासियों को उसके बारे में बता रहे थे.

महिला ने वार्डवासियों को सुनाई दर्द भरी दास्तां

महिला ने वार्ड वासियों को दर्द भरी दास्तां सुना कर झांसे में लेने का प्रयास किया. महिला ने बताया कि उसका नाम रशीदा(35) पत्नी अली हुसैन कुरेशी निवासी मीरपुर बांग्लादेश के निवासी है. लगभग 15 साल पहले उसके पति की मौत एक एक्सीडेंट में हो चुकी है. वह अपने 12 वर्षीय बेटे हसन कुरेशी के दिल में छेद होने के कारण दिल्ली में इलाज करवाने के लिए आई थी.

अस्पताल में इलाज के दौरा बेटे की मौत 
महिला ने बताया कि वह 8 मई 2022 को भारत आई थी और उसके साथ उसके जेठ और जेठानी तथा ढाई वर्षीय बेटी भी थी. महिला ने बताया कि दिल्ली के अस्पताल में 14 महीने पहले इलाज के दौरान उसके बेटे की मौत हो गई. बेटे की मौत के 2 दिन बाद ही जेठ और जेठानी उसे और उसकी बेटी को दिल्ली में ही छोड़कर वापस बांग्लादेश चले गए.

दिल्ली से पहुंची बूंदी 
महिला ने आगे बताया कि किसी तरह से वह दिल्ली से बूंदी पहुंची 8 अगस्त 2022 को बूंदी में पुलिस ने उसे पासपोर्ट वीजा नहीं होने के कारण गिरफ्तार कर लिया तथा पूछताछ के बाद उसे बूंदी के ही एक महिला आश्रम में भेज दिया. महिला आश्रम का नाम पूछने पर महिला ने बताया कि उसे आश्रम का नाम याद नहीं है. 

कागजात नहीं होने  एंबेसी ने खाली हाथ लौटाया
महिला ने वार्डवासियों को बताया कि 15 अगस्त 2023 को महिला आश्रम से अन्य 10 महिलाओं के साथ उसे भी छोड़ दिया और पुलिस उसे दिल्ली स्थित एंबेसी लेकर गई मगर कागजात नहीं होने के कारण एंबेसी के अधिकारियों ने उसे वापस बांग्लादेश नहीं भेजा. महिला ने बताया कि पुलिस वालों ने उसे दिल्ली के रेलवे स्टेशन से एक ट्रेन में बैठा दिया और ट्रेन के जरिए वह सूरतगढ़ तक पहुंची. सूरतगढ़ के बाद उसने एक ट्रक में लिफ्ट ली और अनूपगढ़ पहुंच गई तथा मस्जिद को ढूंढते ढूंढते हुए वार्ड नंबर 29 के मस्जिद में पहुंच गई.

महिला की बातों से हुआ शक
पार्षद मुराद खान ने बताया कि महिला के बातें सुनकर उन्हें शक हुआ कि महिला किसी साजिश के तहत यहां आई है.पार्षद मुराद खान ने बताया कि महिला से जब उसके घर का नंबर पूछा तो महिला को उसके घर का नंबर भी याद नहीं था. वार्ड वासियों सहित पार्षद ने जब महिला पर दबाव बनाया तो महिला भड़क उठी और महिला हिंदी में चिल्लाई कि वह सात भाषाएं जानती है और पुलिस वाले उसका कुछ भी नहीं बिगाड़ सकती. महिला के बदलते तेवर को देख पार्षद मुराद खान ने इसकी सूचना अनूपगढ़ पुलिस थाने में दी सूचना मिलने पर हेड कांस्टेबल नरेंद्र सिंह मौके पर पहुंचे और महिला को अनूपगढ़ पुलिस थाने ले गए.

महिला कई जगह ठगी की वारदात को दे चुकी है अंजाम
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यह महिला राजस्थान में कई स्थानों पर ठगी की वारदात को अंजाम दे चुकी है.सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार यह महिला बूंदी,हिंडोली, जोधपुर सहित अन्य स्थानों पर इसी तरह की कहानी सुना कर ठगी कर चुकी है. एक महीने पहले इस महिला को हिंडोली में दो बच्चों के साथ ठगी करते हुए पाया गया था.

यह भी पढ़ें-

 विधायक शोभारानी कुशवाह को राजस्थान हाईकोर्ट की तरफ से मिली राहत, गिरफ्तारी पर रोक

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दी गारंटी, जनता को किया आगाह, बोले- 45 दिन बाद आचार संहिता...

 

Trending news